Tuesday, October 4, 2022

Breaking News

   MHA ने NIA के 2 नए विंग को दी मंजूरी, 142 जांच अधिकारी-कर्मचारी बढ़ाए     ||   पाकिस्तान को बाढ़ से निपटने के लिए 10 अरब डॉलर की जरूरत, मंत्री का बयान     ||   सुप्रीम कोर्ट ने 1992 बाबरी मस्जिद विध्वंस से जुड़े सभी मामलो को बंद किया     ||   मनीष के घर-लॉकर से कुछ नहीं मिला, ईमानदार साबित हुए: CM केजरीवाल     ||   दिल्ली: JP नड्डा को बताना चाहता हूं, बच्चा चुराने लगी है BJP- मनीष सिसोदिया     ||   टेस्ला के मालिक एलन मस्क को कोर्ट में घसीटने की तैयारी, ट्विटर संग होगी कानूनी जंग    ||   गोवा में कांग्रेस पर सियासी संकट! सोनिया ने खुद संभाला मोर्चा    ||   जयललिता की पार्टी में वर्चस्व की जंग हारे पनीरसेल्वम, हंगामे के बीच पलानीस्वामी बने अंतरिम महासचिव     ||   देशभर में मानसून एक्टिव हो गया है और ज्यादातर राज्यों में जोरदार बारिश हो रही है. भारी बारिश ने देश के बड़े हिस्से में तबाही मचाई है    ||   अगले साल अंतरिक्ष जाएंगे भारतीय , एक या दो भारतीयों को भेजने की योजना है     ||

LIVE - टेरर फंडिंग पर NIA का ''ऑपरेशन मिडनाइट'' , 11 राज्यों से PFI के राष्ट्रीय अध्यक्ष समेत 106 लोग गिरफ्तार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
LIVE - टेरर फंडिंग पर NIA का

नई दिल्ली । देश में हो रही टेरर फंडिंग को लेकर राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है । बुधवार देर रात से लेकर अब तक एनआई की टीमों ने 11 राज्यों में रेड मारते हुए पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI ) के राष्ट्रीय अध्यक्ष OMA सलाम को केरल से और  दिल्ली प्रमुख परवेज समेत 106 लोगों को गिरफ्तार किया है । जांच एजेंसी ने दिल्ली के पीएफआई चीफ के भाई , पीएफआई के राष्ट्रीय सचिव वीपी नजरुद्दीन को भी हिरासत में लिया है । इस छापेमारी के बाद पीएफआई के सैकड़ों कार्यकर्ता कई राज्यों में सड़कों पर उतरे हैं । एनआईए ने यह कार्रवाई टेरर फंडिंग , कैंप चलाने की एवज में की है । छापेमारी की यह कार्रवाई दिल्ली , महाराष्ट्र , मध्य प्रदेश , असम , यूपी , तमिलनाडु , राजस्थान , पुडुचेरी , केरल , कर्नाटक , आंध्र प्रदेश है । 

इन राज्यों से दबोचे गए पीएफआई के गुर्गे 

केरल - 22

महाराष्ट्र -  20 

कर्नाटक - 20 

तमिलनाडु 10 

असम - 9 

यूपी - 8

आंध्र प्रदेश - 5 

मध्य प्रदेश -  4 

पुडुचेरी-  3 

दिल्ली - 3 

राजस्थान - 2 

इन राज्यों से दबोचे गए पीएफआई के कुछ कार्यकर्ताओं को दिल्ली लाया जाएगा , जिनके दस्तावेजों समेत उनके पास से बरामद लैपटॉप समेत अन्य सामाग्री की जांच की जाएगी , वहीं इनसे पूछताछ जारी होगी । 


देर रात शुरू हुआ ऑपरेशन मिडनाइट

बता दें कि एनआईए के साथ ईडी ने देश के 11 राज्यों में टेरर फंडिंग को ध्यान में रखते हुए ऑपरेशन मिडनाइट चलाया गया । ईडी और एनआईए के इस ज्वाइंट ऑपरेशन में जांच टीमों ने पीएफआई के कार्यालयों और कुछ संदिग्ध पदाधिकारियों को अपने निशानों पर लिया । पीएफआई के खिलाफ यह कार्रवाई बुधवार देर रात 1.30 से शुरू हुई जो सुबह तक चली । जब तक पीएफआई के कार्यकर्ताओं को इसकी जानकारी मिली , तब तक जांच एजेंसी अपनी रेड मारके चली भी गई । 

इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस बरामद

सूत्रों का कहना है कि इस दौरान एनआईए की टीमों को गिरफ्तार किए लोगों से कुछ डिवाइस भी बरामद हुई है , जिनकी मदद से ये टेरर फंडिंग के लिए पाकिस्तान के जरिए खाड़ी देशों के रूट से भारत में आने वाली रकम को आगे लोगों तक पहुंचाते थे । जांच एजेंसी ने पीएफआई के दफ्तरों में लगे कंप्यूटर और अन्य डिवाइस को भी अपने कब्जे में लिया है , जिसमें कई आपत्तिजनक सामाग्री मिलने की सूचना सामने आई है । 

महाराष्ट्र में चार मामले दर्ज

महाराष्ट्र एटीएस ने भी पीएफआई के खिलाफ चार अलग-अलग मामले दर्ज किए हैं ।  महाराष्ट्र एटीएस की भी रेड आज पूरे राज्य में चल रही है, जिसमें औरंगाबाद, बीड़, परभणी पर्व, मालेगांव, मुंबई और नवी मुंबई शामिल है । एटीएस के मुताबिक 20 लोगों को हिरासत में लिया गया है । मालेगांव से मौलाना सैफुर रहमान को हिरासत में लिया गया है. सैफुर रहमान PFI का नासिक डिस्ट्रिक्ट प्रेसिडेंट है । 

हमारी अवाज दबाने की कोशिश

इस छापेमारी को लेकर पीएफआई ने कहा, “हम विरोध की आवाज को दबाने के लिए फासीवादी शासन द्वारा केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग किए जाने का कड़ा विरोध करते हैं । फिलहाल पीएफआई के नेताओं और सदस्यों की गिरफ्तारी का दौर जारी है ।  

 

Todays Beets: