Friday, May 20, 2022

Breaking News

    रोडरेज मामले में सिद्धू को 1 साल कठोर कारावास की सजा, SC ने 34 साल पुराने केस में सुनाई सज़ा    ||   बिहार विधानसभा में कानून व्यवस्था को लेकर हंगामा, CPI-ML के 12 विधायकों को किया गया बाहर     ||   गौतमबुद्ध नगर के तीनों प्राधिकरणों के 49,500 करोड़ नहीं चुका रहीं रियल एस्टेट कंपनियां     ||   आंध्र प्रदेश: गुड़ी पड़वा के जश्न के दौरान भक्तों के बीच मंदिर में मारपीट, दुकानों में तोड़फोड़-आगजनी     ||   दिल्ली एयरपोर्ट पर रोके जाने के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट पहुंचीं राणा अयूब     ||   सोनिया गांधी ने बोला केंद्र पर हमला, लगाया MGNREGA का बजट कम करने का आरोप     ||   केजरीवाल के आवास पर हमला: दिल्ली HC पहुंची AAP, एसआईटी गठन की मांग की     ||   राज्यसभा जा सकते हैं शिवपाल यादव! दो दिन से जारी है बीजेपी मुलाकातों का दौर     ||   यूपी हज समिति के अध्यक्ष बने मोहसिन रजा, राज्यमंत्री का भी दर्जा मिला     ||   दिल्ली: नई शराब नीति के विरोध में BJP, पटेल नगर समेत 14 जगहों पर शराब की दुकानें की सील     ||

पटियाला हिंसा LIVE - सरकार ने आईजी समेत पुलिस अफसरों को हटाया , मोबाइल - इंटरनेट सेवाएं बाधित

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पटियाला हिंसा LIVE - सरकार ने आईजी समेत पुलिस अफसरों को हटाया , मोबाइल - इंटरनेट सेवाएं बाधित

पटियाला । पंजाब के पटियाला में खालिस्तान विरोधी एक जुलूस को लेकर हुए हंगामे में लापरवाही बरतने वाले पुलिस अफसरों पर कार्यवाही होनी शुरू हो गई है । इस मार्च को लेकर दो ग्रुपो में झड़प हो गई थी , जिसमें चार लोग घायल हो गए थे । इस सबके बाद से स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है । काली देवी मंदिर के पास हुई इस हिंसा में शिवसेना नेता हरीश सिंगला को हिरासत के बाद आज गिरफ्तार कर लिया गया है । वहीं सरकार ने पटियाला के आईजी राकेश अग्रवाल को हटा दिया गया है । इतना ही नहीं डिप्टी एसपी और एसएचओ को शिफ्ट कर दिया गया है । इस बीच मुखविंदर सिंह छीना को नया आईजी बनाया गया है। वहीं दीपक पारेक नए एसएसपी और वजीर सिंह नए एसपी होंगे। इतना ही नहीं पटिलाया में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं अस्थायी तौर पर बंद की गई हैं ।

जानें आखिर क्या है मामला

बता दें कि पटिलाया में दो गुटों में झड़प काली माता मंदिर के बाहर उस समय हुआ , जब आर्य समाज चौक से "खालिस्तान मुर्दाबाद मार्च" शुरू किया था । अधिकारियों ने बताया कि निहंगों सहित कुछ सिख कार्यकर्ता, जो शुरू में दुख निवारण साहिब गुरुद्वारे पर एकत्र हुए थे, मंदिर की ओर बढ़े, और उनमें से कुछ ने तलवारें लहराईं । उन्होंने बताया कि उनके जुलूस को भी अधिकारियों से अनुमति नहीं मिली थी। पुलिस ने बताया कि मंदिर के पास दोनों गुट आमने-सामने आ गए और एक दूसरे पर पथराव किया. अधिकारियों ने बताया कि मंदिर के दरवाजे बंद कर दिए गए और हिंसा को शहर में फैलने से रोकने के लिए बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात कर दिये गये ।

तीन घटनाओं पर एफआईआर दर्ज


पटियाला की डिप्टी कमिश्रर ने कहा, शांति बनाए रखी जानी चाहिए । स्थिति फिलहाल नियंत्रण में है । मोबाइल इंटरनेट सर्विसेज को अस्थायी तौर पर बंद कर दिया गया है, ताकि अफवाहों को फैलने से रोका जाए । तीन घटनाओं में एफआईआर दर्ज की गई है ।  वीडियो फुटेज के आधार पर मिली जानकारी के जरिए सबूत जमा किए जा रहे हैं । 

गिरफ्तार सिंगना ने कहा...

इस पूरे मामले में गिरफ्तार किए गए शिवसेना नेता हरीश सिंगला ने कहा था कि संगठन ने मार्च का आयोजन 'सिख फॉर जस्टिस' की 29 अप्रैल को 'खालिस्तान के स्थापना दिवस' के तौर पर मनाने की घोषणा के जवाब में किया था । सिंगला ने कहा कि प्रतिबंधित गुट 'सिख फॉर जस्टिस' प्रमुख गुरपतवंत पन्नून ने 29 अप्रैल को खालिस्तान के स्थापना दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की थी । 

Todays Beets: