Tuesday, October 26, 2021

Breaking News

   52वां इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया 20 से 28 नवंबर तक गोवा में होगा     ||   पीएम मोदी की अपील- मेड इन इंडिया सामान खरीदने पर जोर दें, इसके लिए सब प्रयास करें     ||   भारत में 100 करोड़ वैक्सीनेशन पर बिल गेट्स ने दी पीएम मोदी को बधाई     ||   सेना की 39 महिला अफसरों की बड़ी जीत, मिलेगा स्थायी कमीशन; SC ने दिया आदेश     ||   बिहार में महागठबंधन टूटा, कांग्रेस का ऐलान 2024 के आम चुनाव में सभी 40 सीटों पर लड़ेगी पार्टी     ||   तेजस्वी यादव बोले- पेड़, जानवरों की गिनती हो सकती है तो फिर जाति आधारित जनगणना क्यों नहीं     ||   तालिबान की अमेरिका को धमकी, 31 अगस्त के बाद भी रही सेना तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे    ||   कर्नाटक CM से स्थानीय BJP विधायक की मांग- कोरोना के चलते किसी भी हिंदू पर्व पर ना लगे बंदिशें    ||   तेजप्रताप की नाराजगी के सवाल पर बोले तेजस्वी- राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर ही देंगे जवाब    ||   अंडमान एंड निकोबार के पोर्ट ब्लेयर में महसूस किए गए 4.3 तीव्रता के भूकंप     ||

महबूबा ने फिर उगला ''जहर' , कहा - खान सरनेम के चलते 23 साल का लड़का निशाने पर , मुसलमान निशाने पर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
महबूबा ने फिर उगला

नई दिल्ली । जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने एक बार फिर से सियासी खेल खेलते हुए ट्वीटर पर ''जहर'' उगला है । उन्होंने एक आपत्तिजनक ट्वीट करते हुए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को गिरफ्तार किए जाने पर आपत्ति जताई । उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा - खान सरनेम होने के चलते एक 23 साल के लड़के को निशाने पर लिया जा रहा है । इस समय मुसलमान निशाने पर हैं  । उनके इस बयान की जहां कई लोगों ने निंदा शुरू कर दी है , वहीं कुछ लोग उनके इस बयान के समर्थन में खड़े नजर आ रहे हैं । लोगों का कहना है कि 23 साल में भगत सिंह शहीद हो गए थे और आपको नशा करने वाला निर्दोष लगता है । 

बता दें कि जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से महबूबा मुफ्ती केंद्र की मोदी सरकार पर लगातार निशाना साध रही हैं । पिछले कुछ समय में उन्होंने कई देश विरोधी बयान भी दिए , जिसके चलते उन्हें घाटी में कुछ समय से लिए नजरबंद भी रखा गया था । 

बहरहाल , एक बार फिर से महबूबा मुफ्ती ने मुस्लिम समाज के लोगों को भड़काने की साजिश के तहत एक नया ट्वीट किया है । अपने इस ट्वीट में महबूबा मुफ्ती ने लिखा - चार किसानों की हत्या के आरोपी और केंद्रीय मंत्री के बेटे को सजा दिलाने के बजाए , मोदी सरकार , खान सरनेम वाले एक 23 साल के लड़के को निशाना बना रही है । भाजपा अपने वोट बैंक के लिए मुसलमानों को निशाना बना रही है । 

उनके इस बयान पर उनकी जमकर निंदा हो रही है , ट्विटर पर संजय शर्मा नाम के एक शख्स ने उनके बयान पर लिखा- 23 साल की उम्र में भगत सिंह देश के लिए शहीद हो गए थे और एक बच्चा है वो भी बिगड़ैल औलाद जो प्रतिबंधित ड्रग्स के साथ पकड़ाया।इसमे जाति धर्म कन्हा से आ गया । गुनहगार कोई भी हो सजा तो मिलेगी ही।

एक अन्य यूजर ने लिखा - आपके दिमाग में हमेशा हिंदू मुस्लिम आता है। तो मुझे आप बताओ अच्छे मुस्लिमों को क्यों भूल जाते हो? जैसे की हमारे आदरणीय स्व. श्री ए. पी. जे अब्दुल कलाम साहब जी उनको किसी ने क्यों नहीं 23 साल की उम्र में किसी को जेल में डाला, वो क्यों राष्ट्रपति बने फिर वो भी तो मुस्लिम थे आखिर।


 

Todays Beets: