Monday, October 26, 2020

Breaking News

   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||   लक्ष्मी विलास होटल केस: पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी हुए सीबीआई कोर्ट में पेश     ||   पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने अलापन बंद्योपाध्याय को बनाया मुख्य सचिव     ||   काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद मामले में 3 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई     ||   इस्तीफे पर बोलीं हरसिमरत कौर- मुझे कुछ हासिल नहीं हुआ, लेकिन किसानों के मुद्दों को एक मंच मिल गया     ||   ईडी के अनुरोध के बाद चेतन और नितिन संदेसरा भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित     ||   रक्षा अधिग्रहण परिषद ने विभिन्न हथियारों और उपकरणों के लिए 2290 करोड़ रुपये की मंजूरी दी     ||

पीएम मोदी ने किया स्वामित्व योजना की शुरुआत , कहा - गांवों में अब संपत्ति के स्वामित्व की लड़ाइयां खत्म होंगी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पीएम मोदी ने किया स्वामित्व योजना की शुरुआत , कहा - गांवों में अब संपत्ति के स्वामित्व की लड़ाइयां खत्म होंगी

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्वामित्व योजना की शुरुआत की। पीएम ने कहा कि आज 1 लाख लोगों को कार्ड मिलने से वे ताकतवर महसूस कर रहे हैं । इस योजना से गांव में रहने वाले लोगों की जिंदगी में ऐतिहासिक बदलाव होगा । पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत अभियान में आज देश ने एक और बड़ा कदम उठा दिया है ।  स्वामित्व योजना, गांव में रहने वाले हमारे भाई-बहनों को आत्मनिर्भर बनाने में बहुत मदद करने वाली है । उन्होंने कहा कि ये योजना गांवों में स्वामित्व से जुड़ी कई लड़ाइयां खत्म करेगी । 

यह विराट काम दो महान सपूतों की जयंती पर

पीएम मोदी ने लोक नायक जय प्रकाश नारायण और नाना जी देशमुख को याद करते हुए कहा कि मुझे बहुत खुशी है कि आज इतना विराट काम, उस दिन हो रहा है, जब भारत के दो-दो महान सपूतों की जन्म जयंती है । गांव और गरीब की आवाज को बुलंद करना जेपी और नानाजी के जीवन का साझा संकल्प रहा है । 

लिंक से डाउनलोड किया जाएगा


पीएम मोदी ने इस दौरान कहा - इस योजना की शुरुआत करने के बाद करीब एक लाख लोगों को प्रॉपर्टी कार्ड वितरित किए जाएंगे ।  यह कार्ड मोबाइल फोन पर एसएमएस के जरिए भेजे गए लिंक से डाउनलोड किया जा सकेगा । पंचायतीराज मंत्रालय के तहत शुरू हुई इस योजना से 6 राज्यों के 763 पंचायतों के एक लाख लोग लाभान्वित हो रहे हैं । इनमें उत्तर प्रदेश के 346, हरियाणा के 221, महाराष्ट्र के 100 मध्य प्रदेश के 44, उत्तराखंड के 50 और कर्नाटक के दो पंचायत शामिल हैं ।  

धनबाद में झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता पत्नी समेत घर में मृत मिले , शरीर पर गोली लगने के निशान

आपकी संपत्ति पर कोई गलत नजर नहीं डाल पाएगा

पीएम ने कहा कि अब आपकी संपत्ति पर कोई गलत नजर नहीं डाल सकेगा । उन्होंने कार्ड पाने वाले लोगों से कहा - संपत्ति कार्ड मिलने से उन्हें सामाजिक और आर्थिक मजबूती मिली है ।  पीएम के साथ बातचीत में कार्डधारकों ने कहा कि इस कार्ड के जरिए उन्हें बैंक से आसानी से लोन मिलने लगे हैं, साथ ही गांवों में उनका संपत्ति का झगड़ा भी खत्म हो गया है । पीएम ने कहा कि आज आपके पास एक अधिकार है, एक कानूनी दस्तावेज है कि आपका घर आपका ही है, आपका ही रहेगा । ये योजना हमारे देश के गांवों में ऐतिहासिक परिवर्तन लाने वाली है ।  जब संपत्ति का रिकॉर्ड होता है, जब संपत्ति पर अधिकार मिलता है तो नागरिकों में आत्मविश्वास बढ़ता है ।  जब संपत्ति का रिकॉर्ड होता है तो निवेश के लिए नए रास्ते खुलते हैं। विश्व के बड़े-बड़े एक्सपर्ट्स इस बात पर जोर देते रहे हैं कि जमीन और घर के मालिकाना हक की, देश के विकास में बड़ी भूमिका होती है । 

पहले गांवों को उनके नसीब पर छोड़ दिया था

पीएम मोदी ने कांग्रेस की सरकारों पर हमला बोलते हुए कहा -  पहले भले ही कहा जाता हो कि भारत की आत्मा गांवों में बसती हो लेकिन तब गांवों को उनके नसीब पर छोड़ दिया गया था । सारी समस्याएं गांवों में ही थी । पीएम ने कहा कि 6 दशकों तक गांव के करोड़ों लोग बैंक खातों से वंचित थे, ये खाते अब जाकर खुले हैं । 6 दशकों तक, गांव के करोड़ों परिवार शौचालय से वंचित थे । आज घर-घर में शौचालय भी बन गए हैं । दशकों तक गांव का गरीब गैस कनेक्शन से वंचित था।  आज गरीब के घर भी गैस कनेक्शन पहुंच गया है । 

Todays Beets: