Friday, September 17, 2021

Breaking News

   तेजस्वी यादव बोले- पेड़, जानवरों की गिनती हो सकती है तो फिर जाति आधारित जनगणना क्यों नहीं     ||   तालिबान की अमेरिका को धमकी, 31 अगस्त के बाद भी रही सेना तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे    ||   कर्नाटक CM से स्थानीय BJP विधायक की मांग- कोरोना के चलते किसी भी हिंदू पर्व पर ना लगे बंदिशें    ||   तेजप्रताप की नाराजगी के सवाल पर बोले तेजस्वी- राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर ही देंगे जवाब    ||   अंडमान एंड निकोबार के पोर्ट ब्लेयर में महसूस किए गए 4.3 तीव्रता के भूकंप     ||   दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कनॉट प्लेस पर भारत के पहले स्मॉग टावर का उद्घाटन किया     ||   गुजरात में शराबबंदी के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका मंजूर, 12 अक्टूबर को होगी सुनवाई     ||   सिंगापुर के स्वास्थ्य मंत्री ने चेताया, आर्थिक गतिविधियां खुलने के साथ ही बढ़ सकते हैं कोरोना के मामले     ||   पत्नी शालिनी के आरोपों पर बोले हनी सिंह- सभी आरोप गलत, कोर्ट में चल रहा केस     ||   रांचीः महिला हॉकी में झारखंड से शामिल हर खिलाड़ियों को मिलेंगे 50-50 लाख रुपयेः CM हेमंत सोरेन     ||

अमरिंदर - सिद्धू आज करेंगे शक्ति परीक्षण , CM लंच पर सांसद विधायकों से मिलेंगे, तो नवजोत समर्थकों के बीच जाएंगे 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अमरिंदर - सिद्धू आज करेंगे शक्ति परीक्षण , CM लंच पर सांसद विधायकों से मिलेंगे, तो नवजोत समर्थकों के बीच जाएंगे 

चंडीगढ़ । पंजाब विधानसभा चुनावों से पहले कांग्रेस के भीतर पार्टी के दो दिग्गज नेता सीएम कैप्टन अमिरंद सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच जारी गतिरोध की खाई धीरे - धीरे बढ़ती ही जा रही है । सिद्धू को पंजाब कैप्टन की नाराजगी को दरकिनार करते हुए आलाकमान ने पंजाब कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष बना दिया है । इस सबके बाद आज दोनों नेता अपना शक्ति परीक्षण करने के लिए मैदान में होंगे । जहां सीएम ने पंचकुला में अपने सांसदों - विधायकों को लंच पर आमंत्रित किया है, (इसमें सिद्धू को न्योता नहीं भेजा गया है ।) वहीं सिद्धू ने भी आज अमृतसर में रहकर अपने समर्थकों के बीच जाकर अपना दम दिखाने की रणनीति बनाई है । 

विदित हो कि पंजाब कांग्रेस को लेकर घमासान में पार्टी आलाकमान ने भी अब अपने सारे दांव आजमा लिए हैं , लेकिन न तो वह सिद्धू को ही मना पाई और न ही अमरिंदर सिंह पर उनका कोई जोर चला है । ऐसे में दोनों नेता एक दूसरे के लिए चुनौती बनकर खड़े हो गए हैं । पंजाब में अपना दम दिखाने के लिए अब दोनों नेताओं ने शक्ति परीक्षण की होड़ नजर आ रही है । 

पंचकुला में आज यानी बुधवार को कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपना जलवा दिखाने के लिए पार्टी के सांसदों- विधायकों को लंच पर आमंत्रित किया है। ऐसी उम्मीद है कि इस लंच पार्टी में उनके समर्थन वाले विधायक पहुंचने वाले हैं , साथ ही सिद्धू खेमे के भी कुछ विधायक पहुंच सकते हैं । वहीं भारी हो हल्ले के बीच अमरिंदर ने सिद्धू को इस पार्टी के लिए न्योता नहीं भेजा है । न ही अमरिंदर ने अब तक सिद्धू को पार्टी अध्यक्ष बनने की बधाई दी है ।

इस गतिरोध के चलते ही सिद्धू ने चंडीगढ़ स्थित पार्टी कार्यालय में सीएम अमरिंदर सिंह के सभी बैनर पोस्टर हटवा दिए हैं । इस समय पार्टी मुख्यालय में सिर्फ चारों और सिद्धू के ही पोस्टर नजर आ रहे हैं । अमरिंदर के साथ खुलकर मैदान में उतरने को तो सिद्धू नहीं दिख रहे , क्योंकि उन्होंने अपने बयान में कह दिया है कि वह कांग्रेस के सभी साथियों को साथ लेकर आगे बढ़ेंगे । हालांकि अमरिंदर की नाराजगी बदस्तूर कायम है । 


सीएम कैप्टन आलाकमान के फैसले से खासे नाराज हैं और पंजाब में अपनी शक्ति दिखाने की जुगत में जुट गए हैं । इसकी बानगी आज नजर आ सकती है , जब पंचकुला में पंजाब कांग्रेस के विधायक सांसद पहुंचेंगे । 

दोनों के बीच गतिरोध का आलम यह है कि अमरिंदर ने साफ कह दिया है कि जब तक सिद्धू सार्वजनिक मंच पर उनसे माफी नहीं मांगेंगे , वह साथ खड़े नहीं हो पाएंगे ।असल में पिछले दिनों सिद्धू ने अमरिंदर सरकार के खिलाफ जमकर हल्ला बोलते हुए आम आदमी पार्टी के नेताओं के कामकाज को बेहतर बताते हुए राज्य सरकार की नीतियों पर ही सवाल उठा दिए थे । इससे अमरिंदर सिंह की जमकर किरकिरी हुई थी । इतना ही नहीं पूर्व में वह अमरिंदर के खिलाफ भी अप्रत्यक्ष रूप से जमकर बयान देते हुए नजर आए, जिससे कैप्टन आहत है । 

बहरहाल , दोनों दिग्गज नेताओं की इस लड़ाई के चक्कर में पार्टी आलाकमान को आने वाले विधानसभा चुनानों में पार्टी के प्रदर्शन को लेकर चिंता सता रही है । भले ही आगामी चुनावों को लेकर अकाली ने बसपा के साथ समर्थन किया हो  , लेकिन भाजपा इस बार कुछ नई रणनीति बनाकर कांग्रेस को फिर झटका देने की फिराक में होगी । 

  

Todays Beets: