Sunday, February 28, 2021

Breaking News

   सरकार की सत्याग्रही किसानों को इधर-उधर की बातों में उलझाने की कोशिश बेकार है-राहुल गांधी     ||   थाइलैंड में साइना नेहवाल कोरोना पॉजिटिव, बैडमिंटन चैम्पियनशिप में हिस्सा लेने गई हैं विदेश     ||   एयर एशिया के विमान से पुणे से दिल्ली पहुंची कोरोना वैक्सीन की पहली खेप     ||   फिटनेस समस्या की वजह से भारत-ऑस्ट्रेलिया चौथे टेस्ट से गेंदबाज जसप्रीत बुमराह बाहर     ||   दिल्ली: हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की पार्टी विधायकों के साथ बैठक, किसान आंदोलन पर चर्चा     ||   हम अपने पसंद के समय, स्थान और लक्ष्य पर प्रतिक्रिया देने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं- आर्मी चीफ     ||   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||

बॉर्डर की ''किलेबंदी'' पर राहुल बोले - मोदी जी पुल बनाइये दीवार नहीं ,  प्रियंका का तंज - अपने किसानों से ही युद्ध

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बॉर्डर की

नई दिल्ली । किसानों के आंदोलन के चलते दिल्ली के बॉर्डर पर LOC जैसी बैरिकेडिंग की गई है । गणतंत्र दिवस पर किसानों द्वारा ट्रैक्टर परेड निकालने की बात कहते हुए जो उपद्रव मचाया , वो पूरी दुनिया ने देखा । इस सबके चलते दिल्ली पुलिस प्रशासन ने अब किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए पूरी तैयारी की हुई है । इस बीच कांग्रेस नेता मोदी सरकार पर हमलावर नजर आ रहे हैं । दिल्ली के बॉर्डर पर उपद्रवियों के लिए की गई किलेबंदी को लेकर कांग्रेसी नेता राहुल गांधी ने कुछ फोटो शेयर करते हुए लिखा है - '' पुल बनाइये , दीवार नहीं , वहीं उनकी बहन और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने एक वीडियो ट्वीट करते हुए  लिखा है - मोदी जी अपने किसानों से ही युद्ध''।

बता दें कि गणतंत्र दिवस के दिन हुई हिंसा के बाद अब सरकार की ओर से कड़ा रुख बरता जा रहा है । दिल्ली पुलिस की ओर से गाजीपुर बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर और सिंघु बॉर्डर पर तैयारियां की जा रही हैं । यहां सीमाओं पर बैरिकेडिंग की गई है, सीमेंट के बड़े बड़े बैरिकेड लगा दिए गए हैं । वहीं कटीली तारों से भी मार्ग को अवरुद्ध किया गया है । इतना ही नहीं सड़कों पर कीलें लगाई गई हैं । ताकि किसान ट्रैक्टर से हंगामा न कर सकें । 


असल में अब किसानों ने 6 फरवरी को चक्का जाम का ऐलान किया है । इसके चलते आने वाले दिनों में दिल्ली एनसीआर में फिर से हंगामा नजर आ सकता है , लेकिन इस बार पुलिस प्रशासन ने जो रुख अपनाया हुआ है , उसे देखकर लगता है कि इस बार उपद्रवियों के लिए किसी भी तरह की अनैतिक गतिविधि भारी पड़ेगी । 

Todays Beets: