Thursday, June 30, 2022

Breaking News

   मुठभेड़ में एक आतंकी मारा गया, कुलगाम में बैंक मैनेजर की हत्या में शामिल था: IGP कश्मीर     ||   जालंधर: अरविंद केजरीवाल के दौरे से पहले दीवारों पर लिखे मिले खालिस्तान के सपोर्ट वाले स्लोगन     ||   पुलिस लॉरेंस बिश्नोई को लेकर मोहाली पहुंची, अज्ञात जगह हो रही पूछताछ     ||   राष्ट्रपति चुनाव: ममता बनर्जी की मीटिंग में जाएंगे मल्लिकार्जुन खड़गे और जयराम रमेश     ||   दिल्ली: कांग्रेस कार्यकर्ताओं का उग्र प्रदर्शन, बैरिकेड तोड़े, टायर जलाए     ||   सुवेंदु अधिकारी समेत निलंबित भाजपा विधायकों ने पश्चिम बंगाल विधानसभा में धरना दिया     ||   18 जून को 100 साल की हो जाएंगी नरेंद्र मोदी की मां हीराबा, मिलने जाएंगे पीएम     ||    रोडरेज मामले में सिद्धू को 1 साल कठोर कारावास की सजा, SC ने 34 साल पुराने केस में सुनाई सज़ा    ||   बिहार विधानसभा में कानून व्यवस्था को लेकर हंगामा, CPI-ML के 12 विधायकों को किया गया बाहर     ||   गौतमबुद्ध नगर के तीनों प्राधिकरणों के 49,500 करोड़ नहीं चुका रहीं रियल एस्टेट कंपनियां     ||

संजय राउत का भाजपा पर बड़ा आरोप , केंद्रीय मंत्री धमका रहे हैं शरद पवार को , हम ऐसी भाषा नहीं सहेंगे

अंग्वाल न्यूज डेस्क
संजय राउत का भाजपा पर बड़ा आरोप , केंद्रीय मंत्री धमका रहे हैं शरद पवार को , हम ऐसी भाषा नहीं सहेंगे

मुंबई । महाराष्ट्र की सत्तारूढ़ शिवसेना में दो फाड़ होना तय हो गया है । बागी कहे जाने वाले एकनाथ शिंदे ने अपने साथ 37 शिवसेना के विधायकों समेत कुल 50 विधायक होने का दावा किया है , जिसके बाद पार्टी के दिग्गज नेताओं को कुछ सूझ नहीं रहा है । इस सबके बीच पार्टी प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने फिर एक बयान देकर हंगामा खड़ा कर दिया है। उन्होंने कहा कि एनसीपी प्रमुख शरद पवार को धमकी दी गई है, जिस भाषा का इस्तेमाल किया गया, वो हमें मंजूर नहीं हैं । इस सबके पीछे भाजपा है और एक कंद्रीय मंत्री सरेआम शरद पवार को धमकी दे रहे हैं । 

असल में संजय राउत ने एक ट्वीट करते हुए लिखा - भाजपा के एक केंद्रीय मंत्री ने कहा है कि अगर महाविकास अघाडी सरकार को बचाने की कोशिश की गई तो शरद पवार को घर नहीं जाने दिया जाएगा । राउत ने आगे कहा कि एमवीए सरकार बचे या नहीं, शरद पवार के लिए ऐसी भाषा का इस्तेमाल स्वीकार्य नहीं है।  भाजपा सरकार के मंत्री द्वारा शरद पवार जी को धमकियां दी जा रही हैं । क्या ऐसी धमकियों को मोदी जी और अमित शाह जी का समर्थन है? हम (बागी) विधायकों को अयोग्य ठहराने के लिए कार्रवाई कर रहे हैं । 


इस बीच बागी विधायकों पर संजय राउत ने कहा कि लोकतंत्र में आंकड़े चलते हैं, जो MVA के पास है । मुझे पूरा भरोसा है कि विधानसभा में जब बहुमत साबित करना होगा तब हम जीतेंगे ।  वह बोले - शिंदे गुट हमें चुनौती दे रहा है , उन्हें समझना चाहिए कि शिवसैनिक अभी सड़क पर नहीं उतरे हैं । यह दो तरह से होता है एक कानूनी और दूसरा सड़क पर । जरूरत पड़ी तो शिवसैनिक सड़क पर भी उतरेंगे । उन्होंने कहा कि शिवसेना एक महासागर है । लहरें आती हैं, जाती हैं, लेकिन हम ऐसे लहरों से नहीं डरते । 

इसी क्रम में एकनाथ शिंदे ने शुक्रवार को लगभग 12 निर्दलीय और छोटे दलों के अलावा 50 से अधिक विधायकों के समर्थन का दावा किया है ।  गुवाहाटी में मीडिया से बात करते हुए, शिंदे ने शरद पवार द्वारा जारी 'चेतावनी' को आड़े हाथ लेते हुए कहा, "हम इस तरह की धमकियों से डरते नहीं हैं । हम जो कुछ भी कर रहे हैं वह बिल्कुल कानूनी है । हमारे पास सभी विधायकों के हलफनामे हैं कि वे स्वेच्छा से हमारे साथ शामिल हुए हैं ।  बहुमत संख्या हमारे पास है ।  40 से अधिक शिवसेना विधायक और 12 निर्दलीय और अन्य भी हमारे समर्थन में है । 

Todays Beets: