Sunday, February 5, 2023

Breaking News

   Supreme Court: कलेजियम की सिफारिशों को रोके रखना लोकतंत्र के लिए घातक: जस्टिस नरीमन     ||   Ghaziabad: NGT के फैसले पर नगर निगम को SC की फटकार, 1 करोड़ जमा कराने की शर्त पर वूसली कार्रवाई से राहत     ||   दिल्लीः फ्लाइट में स्पाइसजेट की क्रू के साथ अभद्रता के मामले में एक्शन, आरोपी गिरफ्तार     ||   मोरबी ब्रिज हादसा: ओरेवा ग्रुप के मालिक जयसुख पटेल के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी     ||   भारत जोड़ो यात्राः राहुल गांधी बोले- हम चाहते हैं कि बहाल हो जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा     ||   MP में नहीं माने बजरंग दल और हिंदू जागरण मंच, 'पठान' की रिलीज के विरोध का किया ऐलान     ||   समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्या पर लखनऊ में FIR     ||   बजरंग पुनिया बोले - Oversight Committee बनाने से पहले हम से कोई परामर्श नहीं किया गया     ||   यमुना एक्सप्रेस-वे पर कोहरे की वजह से 15 दिसंबर से स्पीड लिमिट कम कर दी जाएगी     ||   भारत की यात्रा करने वाले ब्रिटेन के नागरिकों के लिए ई-वीजा सुविधा फिर से शुरू     ||

सुशांत राजपूत का पोस्टमार्टम करने वाले का खुलासा , कहा: हाथ - पांव में फैक्चर था, वह खुदकुशी नहीं थी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सुशांत राजपूत का पोस्टमार्टम करने वाले का खुलासा , कहा: हाथ - पांव में फैक्चर था, वह खुदकुशी नहीं थी

न्यूज डेस्क । देश की फिल्मी दुनिया को हिलाकर रख देने वाले अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत खुदकुशी कांड में एक बार फिर से नया मोड़ आ गया है । असल में 2020 के इस बहुचर्चित केस में अब मुंबई के उस कूपर अस्पताल की मोर्चरी में काम करने वाले एक कर्मचारी ने बड़ा खुलासा करके मामले को फिर से गर्मा दिया है । रूप कुमार शाह नाम के इस कर्मचारी का कहना है कि सुशांत राजपूत के शव को देखते ही साफ हो गया था कि यह खुदकुशी का मामला नहीं था , उसके शरीर पर चोट के कई निशान थे और उसके हाथ - पांव में भी फैक्चर था । इस सबके बीच सुशांत की बहन कीर्ति ने भी सीबीआई से इस मामले में न्याय की मांग करते हुए एक ट्वीट किया है । 

मैंने पहले भी कहा - लेकिन मुझे नजरअंदाज किया गया

सुशांत सिंह राजपूत के शव का पोस्टमॉर्टम करने वाले शाह ने कहा कि उसने पहले भी इस बात की जानकारी अपने वरिष्ठ अफसरों को दी थी , लेकिन उसकी किसी ने सुनी ही नहीं , उसे जानबूझकर अनदेखा किया गया । वह अब इसलिए बोल रहे हैं क्योंकि इस साल नवंबर में मैं सेवा से सेवानिवृत्त हो गया हूं । उन्होंने दावा किया कि जब मैंने सुशांत राजपूत के शव पर अलग-अलग निशान देखे थे । उसके पैर में फैक्चर था , ऐसा शख्स खुद फंदे से नहीं लटक सकता। 

गले पर चोट के निशान थे

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के दो साल बाद यह सनसनीखेज दावा करने वाले मोर्चरी स्टाफ शाह ने दावा किया है कि सुशांत सिंह की मौत की वजह आत्महत्या नहीं थी । सुशांत का पोस्टमार्टम करने वाले रुपकुमार शाह ने कहा कि - उस दौरान हमें पोस्टमॉर्टम के लिए कूपर अस्पताल में पांच शव मिले थे । उनमें एक वीआईपी शव था । जब हम पोस्टमॉर्टम करने गए तो पता चला कि वह वीआईपी शव सुशांत का था और उनके शरीर पर कई निशान थे । उनकी गर्दन पर भी दो से तीन निशान थे। पोस्टमॉर्टम को रिकॉर्ड करने की जरूरत थी, लेकिन उच्च अधिकारियों को केवल शरीर की तस्वीरें लेने के लिए कहा । इसलिए, हमने सिर्फ आदेशों का पालन किया ।  उन्होंने आगे कहा कि मुझे लगा कि न्याय मिलना चाहिए, इसलिए मैंने अब जाकर कहा है । 


हाथ पैर में कई फैक्चर के निशान

कर्मचारी के अनुसार, सुशांत के शरीर में अलग-अलग ढंग से हाथ पैरों में फ्रैक्चर के निशान थे जैसे कि उन्हें मारा गया हो । उन्होंने कहा कि ये खुदखुशी नहीं मर्डर है, कोई भी देखने के बाद यही बोलेगा । पोस्टमार्टम पर सवाल पूछने पर उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में क्या लिखना है यह डॉक्टर का काम होता है । उन्होंने कहा कि अगर जांच एजेंसी उन्हें इस संबंध में पूछताछ के लिए बुलाएगी तो वह उन्हें सभी चीजें बता देंगे । 

14 जून 2020 का वो दिन

आपको बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत 14 जून, 2020 को उपनगरीय बांद्रा स्थित अपने अपार्टमेंट में मृत पाए गए थे । रिया चक्रवर्ती पर सुशांत को आत्महत्या के लिए उकसाने और उनकी संपत्ति का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया गया था । ‘मेरे डैड की मारुति’ और ‘जलेबी’ जैसी फिल्मों में काम कर चुकीं रिया (29) को सुशांत की मृत्यु से जुड़े मादक पदार्थ तस्करी मामले में 28 दिनों तक जेल में रहना पड़ा था । 

Todays Beets: