Sunday, August 14, 2022

Breaking News

   टेस्ला के मालिक एलन मस्क को कोर्ट में घसीटने की तैयारी, ट्विटर संग होगी कानूनी जंग    ||   गोवा में कांग्रेस पर सियासी संकट! सोनिया ने खुद संभाला मोर्चा    ||   जयललिता की पार्टी में वर्चस्व की जंग हारे पनीरसेल्वम, हंगामे के बीच पलानीस्वामी बने अंतरिम महासचिव     ||   देशभर में मानसून एक्टिव हो गया है और ज्यादातर राज्यों में जोरदार बारिश हो रही है. भारी बारिश ने देश के बड़े हिस्से में तबाही मचाई है    ||   अगले साल अंतरिक्ष जाएंगे भारतीय , एक या दो भारतीयों को भेजने की योजना है     ||   कोरोना से 24 घंटे में 16678 लोग हुए संक्रमित     ||   उद्धव ठाकरे ने विधायकों को लिखी भावुक चिट्ठी     ||   सुप्रीम कोर्ट मे विजय माल्या का बड़ा झटका, अवमानना मामले में दोषी करार     ||   सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र में विधायकों की अयोग्यता पर फैसला लेने से स्पीकर को रोका     ||   मुठभेड़ में एक आतंकी मारा गया, कुलगाम में बैंक मैनेजर की हत्या में शामिल था: IGP कश्मीर     ||

उदयपुर हत्याकांड - धमकी के चलते दहशत में कन्हैया ने 6 दिन नहीं खोली थी दुकान , 7वें दिन दुकान खोलते ही रेत दिया गला

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उदयपुर हत्याकांड - धमकी के चलते दहशत में कन्हैया ने 6 दिन नहीं खोली थी दुकान , 7वें दिन दुकान खोलते ही रेत दिया गला

उदयपुर । राजस्थान के उदयपुर में हुए कन्हैया लाल हत्याकांड को लेकर अब कई खुलासे हो रहे हैं । सामने आया है कि कन्हैया लाल ने अपनी हत्या की आशंका जताते हुए पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई थी , लेकिन पुलिस ने इस मामले में उसे ही गिरफ्तार किया । इससे इतर , हत्या की धमकी देने के बाद दहशत में कन्हैया लाल ने अपनी दुकान 6 दिन तक नहीं खोली थी , लेकिन जैसे ही 7वें दिन उसने दुकान खोली हत्यारों ने उसका गला रेतकर उसे मौत के घाट उतार दिया । इतना ही नहीं हत्यारों में से एक का नया वीडियो अब वायरल हो रहा है , जिसमें उसने दूसरे लोगों से भी सिर कलम करने की अपील की थी । 

दुकान की लगातार रेकी हो रही थी

बता दें कि उदयपुर में दर्जी का काम करने वाले कन्हैया लाल की निर्मम हत्या मामले में पुलिस की उदासीनता पर सवाल खड़े हुए हैं । असल में कन्हैया लाल को जान से मारने की धमकियां मिल रही थी । लेकिन पुलिस ने उसकी शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं की और उल्टा उसकी पोस्ट के लिए उसे ही हिरासत में ले लिया था । बावजूद इसके उसकी दुकान की लगातार रेकी हो रही थी । खुद कन्हैया लाल ने इस बात की शिकायत पुलिस से की थी कि उसकी दुकान के बाहर कुछ उपद्रवी लगातार उसपर नजर रखे हुए हैं । इसी वजह से छह दिन से दुकान बंद थी और 7वें दिन जैसे ही दुकान खोली तो उनकी निर्मम हत्या कर दी गई । 

कन्हैया ने क्या कहा था अपनी शिकायत में...


बता दें कि गत 15 जून को कन्हैया लाल ने पुलिस को रिपोर्ट दी थी कि आज से 5-6 दिन पहले मेरे बच्चे द्वारा मोबाइल पर इंटरनेट के जरिए से गेम खेलते समय अचानक फेसबुक पर एक आपत्तिजनक पोस्ट हो गई । इसकी जानकारी मुझे नहीं थी, लेकिन दो दिन बाद दो व्यक्ति मेरी दुकान पर आए और मुझसे मेरा मोबाइल मांगा और कहा कि हमारे मोबाइल में बेलेंस नहीं है, हमें किसी को कॉल करना है । हमें आपका मोबाइल चाहिए , जिस पर मैंने उन्हें मोबाइल दे दिया, लेकिन उन्होंने बताया कि आपके मोबाइल से एक पोस्ट शेयर हुई है आपको पता है क्या, तो मैंने उन्हें कि मुझे मोबाइल चलाना नहीं आता है । मोबाइल में सिर्फ मेरा बच्चा गेम खेलने के लिए लेता है तो उन्होंने पोस्ट डिलीट कर दी गई और कहा कि आगे से ऐसा मत करना ।  इसके बाद मुझे पुलिस थाना धानमण्डी से फोन आता है कि आपके खिलाफ एक रिपोर्ट दर्ज हुई, आप थाने में आ जाओ । जब मैं थाने में गया तो नाजिम नाम के शख्स ने रिपोर्ट दर्ज कराई । वह मेरा पड़ोसी ही था । उसके द्वारा मुझे बताया गया कि मैंने रिपोर्ट अपने समाज के दबाव में आकर की है । बाकि मुझे पता है कि आपको मोबाइल चलाना नहीं आता है और आप ये पोस्ट नहीं कर सकते हो ।  

पांच लोग लगातार नजर बनाए थे

उन्होंने रिपोर्ट में आगे बताया था कि नाजिम और उसके साथ अन्य पांच लोग तीन दिन से दुकान की रेकी कर रहे हैं. मुझे दुकान खोलने नहीं दे रहे है । कन्हैया लाल ने अपनी शिकायत में कहा था कि मेरी सुबह-शाम मेरी दुकान के बाहर पांच से सात लोग रोज चक्कर काट रहे हैं ओर मुझे पता चला कि वह सब मेरी दुकान खुलते ही मुझे मारने की कोशिश करेगे । क्योंकि नाजिम व इसके साथ अन्य चार-पांच लोगों ने मेरा नाम व फोटो इनके समाज के ग्रुप में वायरल कर दिया है और सबको कह दिया है कि ये व्यक्ति अगर कहीं रस्ते पर दिखे और दुकान पर आए तो इसे जान से मार देना ।

Todays Beets: