Monday, August 10, 2020

Breaking News

   राजस्थान में फिर सियासी ड्रामा, BJP के बहाने गहलोत-पायलट में ठनी     ||   कानपुर गोलीकांड की जांच के लिए एसआईटी गठित, 31 जुलाई तक सौंपनी होगी रिपोर्ट     ||   धमकी देकर फरीदाबाद में रिश्तेदार के घर रुका था विकास, अमर दुबे से हुआ था झगड़ा     ||   राजस्थान: विधायकों को राज्य से बाहर जाने से रोकने के लिए सीमा पर बढ़ाई गई चौकसी     ||   हार्दिक पटेल गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त     ||   गुवाहाटी केंद्रीय जेल में बंद आरटीआई कार्यकर्ता अखिल गोगोई समेत 33 कैदी कोरोना पॉजिटिव     ||   अमिताभ बच्चन कोरोना पॉजिटिव, नानावती अस्पताल में कराए गए भर्ती     ||   राजस्थान सरकार का प्राइवेट स्कूलों को आदेश- स्कूल खुलने तक फीस न लें     ||   गुजरात सरकार में मंत्री रमन पाटकर कोरोना वायरस से संक्रमित     ||   विकास दुबे पर पुलिस की नाकामी से भड़के योगी, खुद रख रहे ऑपरेशन पर नजर!     ||

निक्कमे- नाकारा हैं सचिन पायलट , कांग्रेस अध्यक्ष बनना चाहते थे , पार्टी की पीठ में छुरा घोंपा - अशोक गहलोत

अंग्वाल न्यूज डेस्क
निक्कमे- नाकारा हैं सचिन पायलट , कांग्रेस अध्यक्ष बनना चाहते थे , पार्टी की पीठ में छुरा घोंपा - अशोक गहलोत

जयपुर । राजस्थान में सीएम अशोक गहलोत की गिरती सरकार फिलहाल तो बच गई है । लेकिन अभी भी बर्खास्त पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट समेत कांग्रेस के बागी विधायकों और भाजपा के साथ उनका गतिरोध जारी है । सीएम गहलोत ने अपने ताजा बयान में एक बार फिर से सचिन पायलट पर जमकर प्रहार किया है । सोमवार को अपने नए बयान में उन्होंने कहा कि सचिन पायलट ने कांग्रेस की पीठ में छुरा घोंपने का काम किया है, उन्हें काफी कम उम्र में बहुत कुछ मिल गया था । हालांकि उन्हें पहले से पता था कि सचिन पायलट नाकारा थे । 

क्या पायलट महंगे महंगे वकीलों की फीस दे रहे हैं...

बता दें कि अपनी सरकार को बचाने और अपने लिये बहुमत जुटाने के बाद अशोक गहलोत लगातार सचिन पायलट पर हमलावर हैं। पिछले दिनों सचिन पायलट पर काफी गंभीर आरोप लगाने के साथ ही तीखे हमले किए थे । एक बार फिर से अशोक गहलोत ने सचिन पायलट के खिलाफ मोर्चा खोला । उन्होंने दावा किया कि पायलट के समर्थन में जितने वकील केस लड़ रहे हैं, सभी महंगी फीस वाले हैं तो उनका पैसा कहां से आ रहा है । क्या सचिन पायलट सभी पैसा दे रहे हैं? 

वह कांग्रेस अध्यक्ष बनना चाहते थे

सीएम ने कहा - वो कांग्रेस का अध्यक्ष बनना चाहते थे, बड़े-बड़े कॉरपोरेट उनकी फंडिंग कर रहे हैं । भाजपा की ओर से फंडिंग की जा रही है, लेकिन हमने सारी साजिश फेल कर दी । आज देश में गुंडागर्दी हो रही है, मनमर्जी के हिसाब से छापे मारे जा रहे हैं । मुझे दो दिन पहले ही पता लग गया था कि मेरे करीबियों के छापे पड़ेंगे । 


छिपकर दिल्ली जाते थे...

उन्होंने कहा- पायलट साहब गाड़ी चलाकर खुद दिल्ली जाते थे, छुपकर जाते थे । हमने सचिन पायलट की साजिश का पर्दाफाश किया, भाजपा इसके पीछे खेल रही है। जो विधायक हमारे यहां पर रुके हैं, उनको कोई छूट नहीं है , लेकिन मानेसर में विधायकों के मोबाइल छीन लिए गए हैं, विधायक रो रहे हैं ।

हम भी यहां बैंगन बेचने नहीं आए हैं...

उन्होंने कहा - हमने कभी सचिन पायलट पर सवाल नहीं किया, सात साल के अंदर एक राजस्थान ही ऐसा राज्य है जहां प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को बदलने की मांग नहीं की गई । हम जानते थे कि वो निकम्मे थे, नाकारा थे लेकिन मैं यहां बैंगन बेचने नहीं आया हूं, मुख्यमंत्री बनकर आया हूं । हम नहीं चाहते हैं कि उनके खिलाफ कोई कुछ बोले, सभी ने उनको सम्मान दिया है । उन्होंने कहा - यह जो खेल अभी हुआ है, वो दस मार्च को होना था । 10 मार्च को मानेसर गाड़ी रवाना हुई थी, लेकिन तब हमने उस मामले को सभी के सामने लाए ।

Todays Beets: