Monday, August 26, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

इतना बड़ा मुल्क और मुस्लिम आबादी वाले छोटे से राज्य से डर गया , हमारे लीडर का फैसला गलत – मुफ्ती

अंग्वाल न्यूज डेस्क
इतना बड़ा मुल्क और मुस्लिम आबादी वाले छोटे से राज्य से डर गया , हमारे लीडर का फैसला गलत – मुफ्ती

नई दिल्ली । केंद्र की मोदी सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर में धारा 370 खत्म करते हुए उसके विशेष राज्य का दर्जा खत्म किए जाने के बाद राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने अपना ऑडियो जारी किया । गृहमंत्री अमित शाह के बयान के बाद ट्वीटर पर अपने 1 मिनट 22 सेकेंड के इसे संदेश को जारी किए महबूबा मुफ्ती ने कहा – आज 5 अगस्त का दिन हिंदुस्तान की जमहुरियत के लिए और भारतीय लोकतंत्र के लिए सबसे काला दिन है । जब यहां की संसद ने चोरों की तरह छिपकर जम्मू कश्मीर की जनता से वो सबकुछ छीन लिया, जो उन्हें इसी संसद ने दिया था ।

महबूबा मुफ्ती ने कहा – कुछ दिनों पहले से यहां सिक्योरिटी फोर्सेस की तादात को यह कहते हुए बढ़ाया गया कि पाकिस्ता की ओर से अमरनाथ यात्रा और यहां आने वाले पर्यटकों पर आतंकी हमला हो सकता है । इतना बढ़ा मुल्क और इतनी छोटी मुस्लिम आबादी वाले राज्य से डर गया । कश्मीर को एक खुली जेल बना दिया ताकि कोई भी इस फैसले के खिलाफ अपनी आवाज भी न उठा सके । हमारा हिंदुस्तान के साथ करार था, लेकिन इसे इजरायल की तरह नाजायज कब्जे में बदल दिया गया।

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री ने इस दौरान कहा – आज जम्मू कश्मीर के लोग यह सोचने को मजबूर हैं कि हमारे लीडर ने पाकिस्तान को खारिज करके हिन्दुस्तान के साथ जुड़ने का जो फैसला लिया था वो सरासर गलत साबित हुआ । हमारा भारत के साथ जो समझौता हुआ था उसे खुद भारत ने तोड़ दिया । अब हमारे पास जद्दोजहद के सिवाय कोई रास्ता नहीं बचा है ।

 


 

 

 

Todays Beets: