Monday, August 26, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

स्‍वतंत्रता दिवस : लाल किले की प्राचीर से PM MODI का देशवासियों को 'जीवन मंत्र' , अपने ऐतिहासिक 92 मिनट के संबोधन में उठाए ये मुद्दे 

अंग्वाल संवाददाता
स्‍वतंत्रता दिवस : लाल किले की प्राचीर से PM MODI का देशवासियों को

नई दिल्ली । देश के 73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को लाल किले की प्राचीर से छठी बार देश को संबोधित किया । इस बार उन्होंने ऐतिहासिक 92 मिनट के अपने संबोधन में जहां जम्मू कश्मीर के मुद्दे पर बात की , वहीं देश की सुरक्षा को लेकर कई अहम कदमों का भी जिक्र किया । उन्होंने जहां चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के नए पद को सृजित करने की बात कही , वहीं उन्होंने देश के सामने बड़ी समस्या के रूप में खड़े हो रहे जनसंख्या नियंत्रण और जल संरक्षण जैसे मुद्दों को भी अपने भाषणा का हिस्सा बनाया । इतना ही नहीं उन्होंने लोगों से देश में पॉलिथीन का इस्तेमाल नहीं करने का आह्वान किया । उन्होंने कहा कि हमारे लिए देश के अहम मुद्दे जरूरी है , क्योंकि देश की जनता ने हमें इसी काम के लिए चुना है , राजनीति में अपने विकास के लिए काम करना हमारी नीति में नहीं है । 

370 पर बोले पीएम मोदी

स्वंतत्रता दिवस के मौके पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अनुच्छेद 370 रद्द होने के बाद अब कश्मीर के लोग सीधे केंद्र से संपर्क कर सकते हैं । उन्होंने कहा - जिस गति के साथ अनुच्छेद 370 को रद्द करने का कानून दोनों सदनों में पारित हुआ, इसने यह दर्शाया कि हर कोई इसे रद्द होते हुए देखना चाहता था, बस किसी को आगे बढ़कर इस संबंध में कदम उठाने की जरूरत थी । 

चीफ ऑफ डिफेंस का नया पद

वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की कि तीन रक्षा सेवाओं का नेतृत्व करने के लिए सरकार चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ पद का सृजन करेगी ।  उन्होंने कहा, "सरकार जल्द ही तीन रक्षा सेवाओं का नेतृत्व करने के लिए चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के पद का सृजन करेगी। उन्‍होंने कहा कि पूरी सैन्‍य शक्ति को एकसाथ मिलकर चलना होगा. सीडीएस के तहत पूरी सैन्‍य शक्ति एकसाथ काम करेगी।  पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश में सैन्य व्यवस्था, सैन्य शक्ति और सैन्य संसाधन में सुधार पर लंबे अरसे से चर्चा चल रही है । कई कमीशनों के रिपोर्ट आई. सभी रिपोर्टों में कहा गया कि हमारी तीनों सेनाओं जल, थल, नभ के बीच समन्वय तो है, लेकिन आज जैसे दुनिया बदल रही है ऐसे में भारत को टुकड़ों में सोचने से नहीं चलेगा । 

आतंकवाद पर पीएम मोदी का हमला

लाल किले से देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि दुनिया आज असुरक्षा से घिरी हुई है. दुनिया के किसी न किसी भाग में मौत का साया मंडरा रहा है । भारत आतंक फैलाने वालों के खिलाफ मजबूती से लड़ रहा है।

पाकिस्तान का नाम लिए बिना हमला


इस दौरान आतंक पोषित देश पाकिस्तान का बिना नाम लिए पीएम मोदी ने उनपर जमकट कटाक्ष किए । उन्होंने कहा - आतंकवाद को पनाह देने वालों को हम दुनिया के साथ बेनकाब करेंगे और आतंकियों का खात्मा करेंगे । कुछ लोगों ने सिर्फ भारत नहीं हमारे पड़ोसी राष्ट्रों को भी आतंकवाद से परेशान करके रखा है । बांग्लादेश, अफगानिस्तान, श्रीलंका आतंकवाद से जूझ रहा है । पीएम मोदी ने कहा कि भारत ऐसे में मूकदर्शक नहीं बना रहेगा । आतंकवाद को एक्सपोर्ट करने वालों को बेनकाब करने का वक्त आ गया है। 

पेयजल सुरक्षा के लिए नया मिशन

पीएम ने इस दौरान पेयजल की सुरक्षा के लिए जल जीवन मिशन की नई योजना के बारे में बताया, जानें क्या है ये मिशन जिसमें साढ़े तीन लाख करोड़ की लागत लगेगी । उन्होंने कहा - आज देश में आध से अधिक घर ऐसे हैं जिनमें पीने का स्वच्छ पानी उपलब्ध नहीं है। उनके जीवन का बड़ा हिस्सा पानी लाने में खप जाता है। इस सरकार ने हर घर में जल, पीने का पानी लाने का संकल्प किया है। आने वाले दिनों में जल जीवन मिशन को लेकर आगे बढ़ेंगे. इसके लिए केंद्र और राज्य मिल कर साथ काम करेंगे । साढ़े तीन लाख करोड़ से भी ज़्यादा इस पर खर्च करने का संकल्प किया है ।

प्लास्टिक थैली का इस्तेमाल बंद करें

पीएम ने देश में पर्यावरण संरक्षण के लिहाज से प्‍लास्टिक को पूरी तरह से बैन करने की अपील की । उन्‍होंने कहा कि क्‍या हम पूरी तरह से प्‍लास्टिक थैलियों के इस्‍तेमाल से मुक्‍त हो सकते हैं? इस विचार के क्रियान्‍वयन का वक्‍त अब आ गया है । इस दिशा में गांधी जयंती के मौके पर दो अक्‍टूबर को अहम कदम उठाते हुए अपने आस-पास के माहौल को प्‍लास्टिक से मुक्‍त करने का प्रयास करें । इस सिलसिले में व्‍यवसायियों से अपील करते हुए कहा कि वे अपने यहां बोर्ड पर लगाएं कि सामान के लिए कृपया अपना कपड़े का थैला साथ लाएं। यहां पर प्‍लास्टिक की थैली नहीं मिलेगी । उन्‍होंने जनता से प्‍लास्टिक के थैलों के खिलाफ अभियान में बढ़-चढ़कर हिस्‍सा लेने की अपील की।

डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा

डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के मकसद से पीएम मोदी ने नया नारा दिया । उन्‍होंने कहा कि अक्‍सर दुकानों में 'आज नकद-कल उधार' का बोर्ड देखने को मिलता है लेकिन व्‍यापारियों से आग्रह करते हैं कि अब वे इसके बजाय 'डिजिटल पेमेंट को हां, नकद को ना' का बोर्ड लगाएं । इससे डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा मिलेगा।

Todays Beets: