Friday, July 19, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

LIVE - संसदीय दल की बैठक में PM MODI का फरमान , बेटा किसी का भी हो... इंदौर जैसी हरकत बर्दाश्त नहीं

अंग्वाल न्यूज डेस्क
LIVE - संसदीय दल की बैठक में PM MODI का फरमान , बेटा किसी का भी हो... इंदौर जैसी हरकत बर्दाश्त नहीं

नई दिल्ली । इंदौर के विधायक आकाश विजयवर्गीय द्वारा निगम अधिकारियों के साथ बैट के मारपीट करने के मामले को पीएम मोदी ने अपने संज्ञान में लिया है । पीएम मोदी ने मंगलवार को भाजपा की संसदीय दल की बैठक में पार्टी नेताओं और उनके परिजनों को सख्त संदेश देते हुए कहा कि चाहे किसी का भी बेटा हो या कोई भी पदाधिकारी इस तरह का व्यवहार किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा । उन्होंने आकाश विजयवर्गीय का नाम लिए बिना कहा कि ऐसे लोगों को भाजपा में रहने का हक नहीं , उन्हें खुद पार्टी छोड़ देनी चाहिए । इतना ही नहीं पीएम मोदी ने कड़ा संदेश देते हुए कहा कि उनके समर्थन में खड़े होने वाले नेताओं को भी भाजपा में रहने का कोई हक नहीं है । अपने इस संदेश के जरिए पीएम ने अप्रत्यक्ष रूप से आकाश विजयवर्गीय के पिता और भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय को भी हिदायत दी है।

पिछले दिनों कैलाश विजयवर्गीय अपने बेटे की हरकत पर सवाल पूछे जाने पर काफी बेरुखी से पेश आए थे । हालांकि पीएम मोदी की नाराजगी को जानने के बाद उन्होंने सोमवार कहा था कि निगम अधिकारी और उनके विधायक बेटे ने इस मामले में अपना कच्चापन दिखाया । इस मामले को दूसरे तरीके से भी निपटा जा सकता था।

सुब्रमण्मय स्वामी पीएम मोदी से नाराज , बोले - मेरे सुझावों को नहीं मिली तवज्जो , मैं चीन जा सकता हूं

बता दें कि इंदौर में एक जर्जर इमारत को गिराने दल के साथ आए निगम अधिकारियों पर इंदौर के विधायक और भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के विधायक बेटे आकाश ने बैट से मारपीट की थी । हालांकि बाद में उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था । इस सब के बाद कुछ भाजपा नेताओं ने आकाश का समर्थन किया था । राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी इस मुद्दे पर कुछ बोलने से बचते नजर आए । जब आकाश के पिता कैलाश विजयवर्गीय से सवाल पूछे गए तो वह भी अपने बेटे के बचाव में नजर आए ।

राहुल गांधी ने खारिज की अशोक गहलोत की अपील , कहा - मैं आपको अपना रुख स्पष्ट कर चुका हूं


बहरहाल, इस सब से इतर मंगलवार को आयोजित भाजपा संसदीय दल की बैठक में पीएम मोदी ने अप्रत्यक्ष रूप से आकाश विजयवर्गीय की हरकत पर कहा कि चाहे किसी का भी बेटा हो, भाजपा नेताओं द्वारा इस तरह की हरकत बर्दास्त नहीं की जाएगी । उन्होंने जेल से निकलने के बाद आकाश का स्वागत करने वाले भाजपा नेताओं पर भी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि किसी का भी बेटा हो, उसकी ये हरकत बर्दाश्त नहीं की जाएगी. जिन लोगों ने स्वागत किया है, उन्हें पार्टी में रहना का हक नहीं है। सभी को पार्टी से निकाल देना चाहिए।

बजट 2019 - 20 : इनकम टैक्स छूट के दायरे में आ सकता है होम लोन का इंश्योरेंस : सूत्र

वहीं इस मामले में पीएम मोदी के कड़े रुख की जानकारी मिलने पर एक समय बेटे के समर्थन में खड़े नजर आ रहे भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने अपने विधायक बेटे आकाश को कच्चा खिलाड़ी बताया । कैलाश विजयवर्गीय ने कहा 'ये बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। मुझे लगता है आकाश और नगर निगम के कमिश्नर दोनों पक्ष कच्चे खिलाड़ी हैं। यह एक बड़ा मुद्दा नहीं था, लेकिन इसे बहुत बड़ा बना दिया गया।'

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा था 'मुझे लगता है कि अधिकारियों को अहंकारी नहीं होना चाहिए । उन्हें जनप्रतिनिधियों से बात करनी चाहिए. मैंने इसकी कमी देखी है। दोनों को समझना चाहिए, ताकि ऐसी घटना दोबारा न हो।

Todays Beets: