Wednesday, December 11, 2019

Breaking News

   रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में चूक, मोटरसाइकिल काफिले के सामने आया शख्स     ||   दिल्ली: राजनाथ सिंह के सामने आया शख्स, पीएम मोदी से मिलाने की मांग की     ||   उत्तराखंड के बद्रीनाथ में भारी हिमपात , तापमान माइनस पर पहुंचा    ||   नेपालः कास्की में कम्युनिस्ट पार्टी के बैठक स्थल के पास पार्किंग में धमाका     ||   राम मंदिर मामले में रिव्यू याचिका दायर करेगा मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड     ||   दिल्ली हाईकोर्ट ने मालविंदर सिंह और सुनील गोड़वानी को एक दिन की ED हिरासत में भेजा     ||   बीजेपी ने पार्टी महासचिव अरुण सिंह को यूपी से राज्यसभा उम्मीदवार बनाया     ||   पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम की न्यायिक हिरासत 11 दिसंबर तक बढ़ाई गई     ||   INX मीडिया केस: पी चिदंबरम को झटका, दिल्ली हाईकोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका     ||   वकील VS पुलिस मामला: HC ने कहा- जांच पूरी होने तक पुलिस पक्ष से नहीं होगी गिरफ्तारी     ||

गृहमंत्री का ऐलान - अगले लोकसभा चुनावों से पहले देश में मौजूद घुसपैठियों को बाहर का रास्ता दिखाएंगे 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
गृहमंत्री का ऐलान - अगले लोकसभा चुनावों से पहले देश में मौजूद घुसपैठियों को बाहर का रास्ता दिखाएंगे 

नई दिल्ली । केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सोमवार को कहा कि उनकी सरकार 2024 से पहले पूरे देश में  NRC को लागू कर देगी । ऐसा करने के साथ ही उनकी सरकार आगामी लोकसभा चुनावों से पहले देश में मौजूद सभी घुसपैठियों को बाहर निकालने का काम करेगी । वह झाखंड के जमशेदपुर में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे । इस दौरान उन्होंने कहा कि इस देश से घुसपैठिये बाहर जाने चाहिए या नहीं? लेकिन कांग्रेस पार्टी कहती है कि घुसपैठियों को मत निकालों। लेकिन ये मोदी जी की सरकार है, 2024 में जब हम आपसे दोबारा वोट मांगने आएंगे उससे पहले ही पूरे देश में NRC लगाकर घुसपैठियों को चुन चुन कर देश से निकाल बाहर करेंगे । इतना ही नहीं उन्होंने कहा -हमारी सरकार ने नक्सलवाद को खत्म करने का काम किया है । हमारा उद्देश्य झारखंड को विकास के रास्ते पर आगे ले जाने का है । 

अमित शाह का यह बयान ऐसे समय में आया है जब सोमवार को कांग्रेसी नेता अधीर रंजन चौधरी द्वारा पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को घुसपैठिया कहे जाने पर भाजपा उनपर हमलावर है । भाजपा ने उनसे उनके इस बयान पर माफी मांगी है । इस सब को लेकर सदन में इस कदर हंगामा हुआ कि स्पीकर ओम बिडला ने सदन की कार्यवाही दोपहर 2.15 तक के लिए स्थगित कर दी । बहरहाल , अब केंद्रीय गृहमंत्री का यह बयान ऐसे समय में आया है जब आने वाले समय में कई राज्यों में विधानसभा तैयारियों के लिए भाजपा अपनी रणनीति बना रही है । 

बता दें कि मोदी सरकार ने अपने पहले कार्यकाल के साथ ही देश में मौजूद रोहिंग्या मुसलमानों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया था । सरकार पहले ही साफ कर चुकी है कि वह देश में मौजूद रोहिंग्याओं के साथ ही सभी घुसपैठियों को देश से बाहर करके रहेगी । पिछली सरकार के दौरान मोदी सरकार ने कुछ कठोर कानून बनाने की पहल की थी । अब जबकि असम में मोदी सरकार NRC को लागू करने के साथ ही लाखों लोगों को घुसपैठिया करार दे चुकी है । वहीं पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी अपने राज्य में NRC को लागू नहीं होने देने का ऐलान कर चुकी है । हालांकि लोकसभा चुनावों के दौरान भाजपा इसी मुद्दे पर चुनाव लड़ी और शानदार प्रदर्शन भी किया । 


इस सब के बीच हाल में एनआरसी के मुद्दे पर कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने भाजपा पर हमला किया । उन्होंने कहा - 'एनआरसी-एनआरसी नाम लेते लेते एक माहौल पैदा किया जा रहा है कि आम लोग सोच रहे हैं कि हमारा क्या होगा । सभी कागजात लेकर नहीं बैठे रहते हैं , क्योंकि ये हमारा देश है, वोट डालते हैं । गरीब-आदिवासी जो हैं, पढ़े-लिखे नहीं हैं । उनके पास कागजात है क्या? सुबह उठते हैं और सोचते हैं कि रात का खाना कैसे होगा । कागजात के लिए सोचने का समय नहीं है. वो लोग डरे हैं। चौधरी बोले - वो दिखाना चाहते हैं कि मुसलमान को भगाएंगे । उन्हें भगाने का हिम्मत उनमें नहीं है ।  मुसलमान हमारे देश के नागरिक अगर हैं तो वो क्यों भागें? हिंदुस्तान सभी के लिए है । हिंदू-मुसलमान सभी के लिए है । सभी के सहयोग से हिंदुस्तान बना है , लेकिन वो दिखाना चाहते हैं कि हिंदू को रहने देंगे और मुसलमान को भगा देंगे । ये हिंदुस्तान किसी की जागीर है क्या? सभी का अधिकार समान है । मैं तो यह कह सकता हूं कि अमित शाह जी, नरेंद्र मोदी जी आप खुद घुसपैठिए हैं , घर आपका गुजरात और आ गए दिल्ली तो आप खुद माइग्रेंट हैं ।

बहरहाल, एनसीआर के मुद्दे पर हो रहे हो हल्ले के बीच केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने फिर से दोहराया है कि वह 2024 में होने वाले लोकसभा चुनावों से पहले देश से सभी घुसपैठियों को बाहर कर देंगे । इस बयान के साथ ही भाजपा ने आने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर अपनी रुख भी साफ कर दिया है । पश्चिम बंगाल के साथ दिल्ली- एनसीआर से भी बांग्लादेशी घुसपैठियों को बाहर किए जाने का मुद्दा उठता रहा है , जिसके बाद अब मोदी सरकार का यह नजरिया आने वाले दिनों भाजपा की रणनीति का अहम हिस्सा हो सकता है । ऐसा इसलिए भी कहा जा रहा है क्योंकि दोनों राज्यों में जल्द ही विधानसभा चुनाव होने वाले हैं।

Todays Beets: