Wednesday, August 5, 2020

Breaking News

   राजस्थान में फिर सियासी ड्रामा, BJP के बहाने गहलोत-पायलट में ठनी     ||   कानपुर गोलीकांड की जांच के लिए एसआईटी गठित, 31 जुलाई तक सौंपनी होगी रिपोर्ट     ||   धमकी देकर फरीदाबाद में रिश्तेदार के घर रुका था विकास, अमर दुबे से हुआ था झगड़ा     ||   राजस्थान: विधायकों को राज्य से बाहर जाने से रोकने के लिए सीमा पर बढ़ाई गई चौकसी     ||   हार्दिक पटेल गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त     ||   गुवाहाटी केंद्रीय जेल में बंद आरटीआई कार्यकर्ता अखिल गोगोई समेत 33 कैदी कोरोना पॉजिटिव     ||   अमिताभ बच्चन कोरोना पॉजिटिव, नानावती अस्पताल में कराए गए भर्ती     ||   राजस्थान सरकार का प्राइवेट स्कूलों को आदेश- स्कूल खुलने तक फीस न लें     ||   गुजरात सरकार में मंत्री रमन पाटकर कोरोना वायरस से संक्रमित     ||   विकास दुबे पर पुलिस की नाकामी से भड़के योगी, खुद रख रहे ऑपरेशन पर नजर!     ||

राममंदिर के नक्शे में होगा परिवर्तन , अब 3 की जगह पांच गुंबद होंगी , भूमिपूजन पर अंतिम फैसला PMO लेगा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राममंदिर के नक्शे में होगा परिवर्तन , अब 3 की जगह पांच गुंबद होंगी , भूमिपूजन पर अंतिम फैसला PMO लेगा

अयोध्या । आखिरकार अयोध्या में राम मंदिर के लिए भूमिपूजन की 2 तारीखों के विकल्प रखे गए हैं । इसमें 3 और 5 अगस्त को इस बहुप्रतिक्षित मंदिर के निर्माण कार्य की शुरुआत होगी , लेकिन इन दोनों दिनों में से एक पर अंतिम मुहर प्रधानमंत्री कार्यालय यानी PMO लगाएगा । वहीं शनिवार को रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की बैठक में मंदिर के नक्शे में भी बदलाव को लेकर कुछ फैसले लिए गए हैं । ऐसी जानकारी मिली है कि अब मंदिर में 3 के बजाए 5 गुंबद होंगे। वहीं मंदिर की ऊंचाई भी अब प्रस्तावित नक्शे से ज्यादा होगी । 

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद गठित रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की एक बड़ी बैठक शनिवार को हुई। बैठक में मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्रा भी शामिल रहे । दरअसल, नृपेंद्र मिश्रा के साथ बड़े इंजीनियरों का एक दल अयोध्या में है, जो मंदिर निर्माण की बारीकियों को देखेगा । राम मंदिर का मॉडल तैयार करने वाले चंद्रकांत सोमपुरा के अलावा उनके बेटे निखिल सोमपुरा भी अयोध्या में हैं । 


इस दौरान बैठक में मंदिर की ऊंचाई और निर्माण की व्यवस्थाओं पर भी चर्चा हुई । ये बैठक अयोध्या सर्किट हाउस में दोपहर तीन बजे शुरू हुई ।  करीब ढाई घंटे तक चली इस ट्रस्ट की बैठक में मंदिर के नक्शे में कुछ बदलाव के साथ ही कुछ अन्य मुद्दों पर मंथन हुआ । हालांकि मंदिर के भूमिपूजन की तारीख को लेकर 3 और 5 अगस्त की तारीखें सामने आईं, लेकिन अभी इस पर अंतिम मुहर पीएमओ की तरफ से लगनी है । ट्रस्ट के सदस्य और अयोध्या के संत लगातार पीएम मोदी से अयोध्या आने को लेकर आग्रह कर रहे हैं ।  

Todays Beets: