Thursday, July 18, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

बुलंदशहर DM अभय सिंह के घर से बरामद हुए 47 लाख रुपये नकद , पहली पत्नी से तलाक के बाद रहे थे डिप्रेशन में

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बुलंदशहर DM अभय सिंह के घर से बरामद हुए 47 लाख रुपये नकद , पहली पत्नी से तलाक के बाद रहे थे डिप्रेशन में

लखनऊ । सीबीआई ने बुधवार को यूपी के दो आईएएस अधिकारियों के घर पर छापेमारी की । इनमें से एक है बुलंदशहर के जिलाधिकारी अभय सिंह जो 2007 बैच के आईएएस अफसर हैं। इसी साल अभय को बुलंदशहर का डीएम बनाया गया था । अखिलेश यादव की सरकार में वह फतेहपुर के जिलाधिकारी थे और उसी दौरान के अवैध खनन मामले में अब उनके खिलाफ कार्रवाई हुई है ।  सीबीआई ने बुधार को उनके यहां छापा डीएम फतेहपुर रहते हुए अवैध खनन पट्टे बांटने और खनन करवाने के मामले में मारा है । इस छापेमारी में उनके घर से 47 लाख रुपये बरामद हुए हैं। सीबीआई ने उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है । हाल में उनका स्कूलों और सड़क की क्वालिटी की जांच करने के कुछ वीडियो वायरल हुए थे । इसके बाद वह सुर्खियों में आए थे ।

राजस्थान के रहने वाले हैं DM अभय सिंह

बता दें कि बुलंदशहर के डीएम अभय सिंह राजस्थान के रहने वाले हैं लेकिन वह 2007 में उन्हें यूपी कैडर मिला ।  उन्होंने कंप्यूटर साइंस से इंजीनियरिंग की , जिसके बाद लाल बहादुर शास्त्री एकेडमी, मसूरी से ट्रेनिंग की । इसके बाद उन्हें पहली पोस्टिंग उन्नाव जिले में मिली , जहां वह बतौर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट बनकर पहुंचे थे । इसके बाद वह बाराबंकी के मुख्य विकास अधिकारी बने , फिर उन्हें अमरोहा जिले का डीएम बनाया गया ।  इसी दौरान अभय ने अपने ही बैच की आईएएस अधिकारी किंजल सिंह से शादी कर ली । 

कर्नाटक के बागी विधायक स्पीकर के फैसले के खिलाफ पहुंचे सुप्रीम कोर्ट , कहा -अपने दायित्व का पालन नहीं कर रहे

पहली पत्नी से तलाक के बाद टूट गए थे

नौकरशाही में अभय और किंजल सिंह की शादी की काफी चर्चा हुई थी । कुछ समय बाद अभय गोंडा के तो उनकी पत्नी किंजल बहराइच की डीएम बनीं । बाद में दोनों में अनबन हो गई और फिर रिश्ते सुधर नहीं सके , जिसके चलते दोनों के बीच तलाक हो गया । किंजल ने बाद में सीनियर आईएएस अधिकारी अनिल सागर से शादी कर ली । इस पूरे घटनाक्रम को अभय सह नहीं पाए थे और लंबे समय तक डिप्रेशन में रहे । 

मोदी सरकार ने 312 केंद्रीय कर्मचारियों पर गिराई 'बिजली' , लापरवाही - कामचोरी के चलते किया जबरन रिटायर

स्पेशल सेक्रेटरी की ड्यूटी भी निभाई

अपने 13 साल के कार्यकाल में उन्होंने यूपी सरकार के कई विभागों में स्पेशल सेक्रेटरी की ड्यूटी भी की । लोकसभा चुनाव के दौरान वे यूपी के अपर मुख्य चुनाव अधिकारी भी रहे ।  पिछले ही साल उन्होंने प्रतापगढ़ की रहने वाली माधवी से शादी की । लखनऊ में हुए रिसेप्शन में राज्य के पूर्व सीएम अखिलेश यादव भी पहुंचे थे । अभय के घर सीबीआई की छापेमारी से यूपी की अफ़सरशाही में हड़कंप मचा है ।


UP का अवैध खनन मामला - CBI ने बुलंदशहर के DM के घर मारा छापा, भारी मात्रा में नकदी बरामद

2016 में दिए गए थे खनन घोटाले की जांच के आदेश

बता दें कि इलाहाबाद हाई कोर्ट ने को 2016 में माइनिंग घोटाले की सीबीआई जांच के आदेश दिए थे। यूपी के सात जिलों में जांच शुरू हुई. सबसे पहले आईएएस अफ़सर बी चंद्रकला के यहां छापा पड़ा । उनसे पूछताछ हुई । इस बार अभय सीबीआई की जाल में फंसे हैं । वह भी अखिलेश सरकार में फतेहपुर के डीएम रह चुके हैं । उनपर आरोप है कि उन्होंने घूस लेकर खनन के पट्टे दिए ।

इन शहरों में पड़े छापे

बुधवार को सीबीआई ने बुलंदशहर, लखनऊ, फतेहपुर, आजमगढ़, इलाहाबाद, नोएडा, गोरखपुर, देवरिया में छापेमारी की । इस दौरान सीबीआई ने बुलंदशहर के डीएम अभय सिंह के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है । उनके अलावा देवरिया के डीएम विवेक के खिलाफ भी केस दर्ज हुआ है ।

देवरिया के ADM के घर से 10 लाख बरामद

जहां अभय सिंह के आवास से 47 लाख रुपये की रिकवरी हुई है तो देवरिया के एडीएम देवीशरण उपाध्याय के घर से 10 लाख रुपये रिकवर हुए हैं । 

 

Todays Beets: