Thursday, January 23, 2020

Breaking News

   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||   रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में चूक, मोटरसाइकिल काफिले के सामने आया शख्स     ||

कांग्रेस का बड़ा आरोप , कहा - JNU हिंसा के पीछे कोई और नहीं गृहमंत्री अमित शाह और HRD मंत्रालय 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कांग्रेस का बड़ा आरोप , कहा - JNU हिंसा के पीछे कोई और नहीं गृहमंत्री अमित शाह और HRD मंत्रालय 

नई दिल्ली । कांग्रेस ने गुरुवार को एक बार फिर से केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ हल्ला बोलने के साथ केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और मानव संसाधन मंत्री पर गंभीर आरोप लगाए । JNU में हुई हिंसा के पर पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा कि इस सब के पीछे केंद्रीय गृहमंत्री-HRD मंत्री हैं । जयराम रमेश ने पत्रकारों से बातचीत में कहा - जिन नकाबपोश लोगों ने कैंपस में हमला किया था, उन्हें तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए साथ ही JNU के वीसी को तुरंत त्याग पत्र देना चाहिए । वहीं उन्होंने पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि PM 2.0 आज PM 2.5 से अधिक खतरनाक है।

बता दें कि जहां एक ओर जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी के छात्रों के साथ कई अन्य संगठनों के कार्यकर्ता गुरुवार सुबह मंडी हाउस से जंतर मंतर तक एक मार्च निकालने में जुटे हैं । वहीं कांग्रेस ने भी मोदी सरकार को घेरने के लिए पत्रकार वार्ता कर कई आरोप लगाए । जहां जेएनयू के छात्रों ने मोदी सरकार पर गंभीर आरोप लगाए , वहीं जेएनयू में हिंसा के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने केंद्रीय गृहमंत्री और मानव संसाधन मंत्री को जेएनयू में हुई हिंसा के पीछे बताया ।


इसी क्रम में विदेशी प्रतिनिधिमंडल के जम्मू-कश्मीर जाने पर रमेश ने कहा - हमारे नेताओं को वहां पर जाने की अनुमति नहीं है। अपने देश के सांसद वहां पर नहीं जा सकते हैं, लेकिन अंतरराष्ट्रीय डेलिगेशन को भेजा जा रहा है । हमारी मांग है कि सभी को वहां जाने की अनुमति मिले, चुने हुए लोग ही सिर्फ न जा सकें । उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी से गुलाम नबी आजाद वहां पर जाना चाहते हैं । 

इतना ही नहीं जयराम रमेश ने भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर भी चिंता जताते हुए कहा - मौजूदा समय में देश में अर्थव्यवस्था बुरे दौर में है । इस समय देश में सिर्फ बांटने की राजनीति हो रही है । जबकि जीडीपी सही मायने में 5% से भी कम है।  

Todays Beets: