Tuesday, January 28, 2020

Breaking News

   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||   रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में चूक, मोटरसाइकिल काफिले के सामने आया शख्स     ||

सावधान : नशे में वाहन चलाने पर 10 हजार रुपये जुर्माना , नाबालिग वाहन चलाते पकड़ा गया तो 25 हजार जुर्माना

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सावधान : नशे में वाहन चलाने पर 10 हजार रुपये जुर्माना , नाबालिग वाहन चलाते पकड़ा गया तो 25 हजार जुर्माना

 

नई दिल्ली । केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को लोकसभा में मोटर वाहन संशोधन बिल पेश किया । इस दौरान उन्होंने सदन में देश में बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं पर चिंता जताते हुए कहा कि सड़क दुर्घटनाओं को रोकने और सुरक्षा के मद्देनजर इस बिल में कई कदम उठाए गए हैं । इस दौरान उन्होंने बताया कि सड़क सुरक्षा से जुड़े कई नियमों को सख्त करने के साथ ही उन्होंने यातायात नियम तोड़ने वालों पर सख्त कार्रवाई के साथ ही भारी जुर्माने की व्यवस्था की है । केंद्रीय मंत्री ने इस दौरान एक एक करके बताया कि अब नियम तोड़ने वालों के खिलाफ किस तरह और कितने जुर्माने की कार्रवाई की जाएगी । 

बता दें कि मोटर वाहन (संशोधन) विधेयक पहली बार 2016 में लाया गया था। इसके बाद इस बिल में फिर से संशोधन करने के लिए केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को लोकसभा में मोटर वाहन संशोधन बिल पेश किया । इस दौरान उन्होंने यातायात नियमों का उल्लंघन, ड्राइविंग लाइसेंस और टैक्सी एग्रीगेटर्स की परिभाषा जैसे कई नियमों पर ध्यान दिया । 

सुप्रीम कोर्ट ने दी UP-TET के 50 हजार शिक्षकों को बड़ी राहत, इलाहबाद हाईकोर्ट के फैसले को पलटा

चलिए आपको बताते हैं कि नए बिल में क्या किया गया है संशोधन...

- मोटर वाहन संशोधन बिल के अनुसार अब ओवर-स्पीडिंग के लिए लोगों को जुर्माने के तौर पर 500 रुपये के बजाए अब 5,000 रुपये भरना होगा । 

-इसी क्रम में चार पहिया चालक द्वारा सीट बेल्ट नहीं पहनने और दोपहिया वाहन चालक द्वारा हेलमेट नहीं पहनने पर जुर्माना 100 रुपये से बढ़कर वर्तमान में 1,000 रुपए है।

- अगर नाबालिग गाड़ी चलाते हुए पकड़ा गया तो गाड़ी मालिक या उसके अभिभावकों को दोषी माना जाएगा । इसके लिए 25,000 का जुर्माना या 3 साल की सजा का प्रावधान है । इसके साथ ही गाड़ी का रजिस्ट्रेशन भी रद्द किया जा सकता है।

गृहमंत्रालय ने जारी किया आंकड़ा , सेना ने हर दूसरे दिन ढेर किया एक दहशतगर्द , पांच सालों में 963 आतंकी ढेर , 413 जवान शहीद

-इसी क्रम में अब शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों से जुर्माना के तौर पर दो हजार रुपये से बढ़ाकर 10,000 रुपये वसूला जाएगा । 

- आपातकालीन सेवाओं के लिए रास्ता नहीं देने पर 10,000 रुपये के जुर्माने का प्रावधान किया गया है । 


-अब लोगों को अपना ड्राइविंग लाइसेंस और वाहन पंजीकरण आवेदन करने के लिए आधार का उपयोग अनिवार्य होगा।

पाकिस्तान ने किया एक बड़ा ऐलान , भारतीय एयरलाइंस कंपनियों को मिली बड़ी राहत

-अभी ड्राइविंग लाइसेंस 20 साल के लिए वैध है और बिल का उद्देश्य वैधता को 10 साल तक कम करना है।

- 55 साल की उम्र के बाद अपने लाइसेंस का नवीनीकरण कराने वाले लोगों की वैधता केवल पांच साल होगी ।

- लाइसेंस की वेलिडिटि खत्म होने के बाद एक साल तक रिन्यू किया जा सकता है ।

- राज्य सरकारें केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित दिशानिर्देशों के आधार पर एग्रीगेटर्स को लाइसेंस प्रदान करेंगी ।

- सड़क हादसे में मारे गए लोगों की मुआवजा राशि 5 लाख और गंभीर रूप से घायलों की 2.5 लाख की गई है ।

- सड़क के गड्ढों और उनके रखरखाव की चूक से होने वाली दुर्घटना के लिए ठेकेदार पर कार्रवाई की जाएगी। 

 

 

Todays Beets: