Wednesday, November 13, 2019

Breaking News

   दिल्ली में भी भोपाल जैसा हनी ट्रैप , कई रईसजादों को विदेशी लड़कियों की मदद से फंसाया    ||   घाटी में घनघटाने लगीं मोबाइल फोन की घंटियां, इंटरनेट पर अभी भी प्रतिबंध    ||   इकबाल मिर्ची की इमारत में प्रफुल्ल पटेल का भी फ्लैट , ईडी ने भेजा समन    ||   रणवीर सिंह ने ठुकराया संजय लीला भंसाली की फिल्म का ऑफर , आलिया भट्ट हैं फिल्म की हिरोइन    ||   वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के पति ने भी माना- अर्थव्यवस्था की हालत खराब     ||   दिल्ली में डेंगू ने तोड़ा रिकॉर्ड, इस हफ्ते में 111 नए मामले आए सामने     ||   अगस्ता वेस्टलैंड मनी लॉन्ड्रिंग केस: 25 अक्टूबर तक बढ़ी रतुल पुरी की न्यायिक हिरासत     ||   तमिलनाडु: मसाले की फैक्ट्री में लगी आग, मौके पर दमकल की गाड़ियां मौजूद     ||   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||

LIVE - नवंबर में ही ठिठुरन के लिए रहे तैयार , कश्मीर के कई क्षेत्रों में भारी बर्फबारी जारी , जम्मू - श्रीनगर हाईवे ठप

अंग्वाल न्यूज डेस्क
LIVE - नवंबर में ही ठिठुरन के लिए रहे तैयार , कश्मीर के कई क्षेत्रों में भारी बर्फबारी जारी , जम्मू - श्रीनगर हाईवे ठप

श्रीनगर  । घाटी में इस बार मौसम की मार कुछ अलग ही अंदाज में पड़ी है । कई सालों के बाद इस बार नवंबर में घाटी के कई इलाकों में कल रात से भारी बर्फबारी हो रही है , जिसके चलते श्रीनगर , गुलमर्ग , सौनमर्ग , पहलगाव में करीब 1 फुट तक की बर्फ जमा हो गई है । इतना ही नहीं भारी हिमपात के चलते श्रीनगर हाईवे पर पेड़ सड़कों पर आ गिरे हैं , जिसके चलते जम्मू श्रीनगर हाईवे ठप हो गया है । भारी बर्फबारी के चलते जहां स्थानीय लोगों का जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है , वहीं टेलीफोन सेवा भी पूरी तरह से ठप पड़ गई है । हालांकि इस सब के बीच घाटी में पहुंचे सैलानियों के लिए यह एक सुनहरा मौसम बन गया है , लेकिन किसी भी तरह नवंबर के पहले सप्ताह में बर्फबारी की उम्मीद न रखने वाले स्थानीय लोगों के लिए यह एक बड़ी समस्या बन गई है । 

बता दें कि श्रीनगर , पहलगाम , गुलमर्ग समेत घाटी के कई हिस्सों में बुधवार रात से भारी बर्फबारी हो रही है । गुरुवार को भी बर्फबारी का क्रम जारी है , जिसके चलते स्थानीय लोगों के लिए बड़ा संकट खड़ा हो गया है । भारी बर्फवारी ने घाटी के सभी हाईवे को थाम दिया है। सड़कों पर करीब 1 फुट तक की बर्फ जमा हो गई है । इतना ही नहीं देर रात से जारी भारी बर्फबारी ने श्रीनगर हाईवे के करीब के पेड़ों को जमीनदोंज कर दिया है । सड़कों पर पेड़ गिरे हुए हैं , जिसके चलते जम्मू का श्रीनगर से संपर्क टूट गया है । 

स्थानीय लोगों का कहना है कि नवंबर के पहले सप्ताह में इस तरह की बर्फबारी के बारे में किसी ने नहीं सोचा था । इसलिए लोगों ने बर्फबारी को ध्यान में रखते हुए अपनी तैयारियां भी नहीं की थी , लेकिन बुधवार रात से जारी बर्फबारी ने अब लोगों के लिए नया संकट खड़ा कर दिया है । इस बर्फबारी के चलते पिछले दिनों खोली गई टेलीफोन सेवा एक बार फिर से बंद पड़ गई है , जिसके चलते कुछ इलाकों के लोग शहरों से कट गए हैं। 


बहरहाल ,  देश के पहाड़ी राज्यों में शुरू हुई इस कदर की बर्फबारी के बाद अब मैदानी इलाकों में लोगों को जल्द ठिठुरन का सामना करना पड़ेगा । नवंबर के पहले सप्ताह में इस कदर बर्फबारी के चलते उत्तर भारत के राज्यों में आने वाले दिनों में तापमान में ओर गिरावट दर्ज होगी । 

 

Todays Beets: