Sunday, September 27, 2020

Breaking News

   कप्तान धोनी ने IPL2020 की शुरुआत जीत से की,जानिये कैसे ?     ||   लखनऊ: यूपी में आकाशीय बिजली से हुई मौत के मामले में परिजनों को 4 लाख मुआवजा     ||   कोरोना काल में भाजपा सरकार ने अनेक ख्याली पुलाव पकाए, लेकिन एक सच भी था? -राहुल गांधी     ||   पिछले 6 महीने में भारत-चीन सीमा पर कोई घुसपैठ नहीं: राज्यसभा में गृह मंत्रालय का बयान     ||   राजस्थान: बूंदी में चंबल नदी में नाव डूबने से 6 लोगों की मौत, 12 लोगों को रेस्क्यू किया गया     ||   मुंबई: बच्चन परिवार को अतिरिक्त सुरक्षा मुहैया कराएगी मुंबई पुलिस     ||   राज्यसभा में BJP MP विनय सहस्रबुद्धे का बयान, महाराष्ट्र सरकार ही अवैध निर्माण का प्रतीक     ||   ग्रीनलैंड में सबसे बड़ा ग्लेशियर टूटा, चंडीगढ़ के बराबर बर्फ की चट्टान समुद्र में     ||   किसान बिल के विरोध पर बोले नड्डा- कांग्रेस पहले समर्थन में थी, अब राजनीति कर रही     ||   राजस्थान में फिर सियासी ड्रामा, BJP के बहाने गहलोत-पायलट में ठनी     ||

LIVE - भारतीय वायुसेना और थलसेना का लेह में चल रहा है ''कोआर्डिनेशन ऑपरेशन '' , सुखोई - चिनूक भी हुए शामिल

अंग्वाल न्यूज डेस्क
LIVE - भारतीय वायुसेना और थलसेना का लेह में चल रहा है

नई दिल्ली । तिब्बत में चीनी सेना के साथ हुई हिंसा के बाद अब भारतीय फौज इलाके में सक्रिय हो गई है । पिछले दिनों भारतीय सेना का घातक भीष्ण टैंक इलाके में तैनात करने के बाद शुक्रवार को अब लेह में भारतीय सेना और वायुसेना ने साझा युद्धाभ्यास किया है । इस युद्धाभ्यास में फाइटर और ट्रांसपोर्ट विमान शामिल हुए । युद्धाभ्यास का मकसद दोनों सेनाओं के बीच तालमेल बढ़ाना था । इस युद्धाभ्यास में सुखोई लड़ाकू विमान और चिनूक हेलिकॉप्टर शामिल हुए ।

विदित हो कि लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर तनाव के बीच भारतीय सेना और वायुसेना का युद्धाभ्यास काफी अहम बताया जा रहा है । यह अभ्यास कुछ समय चलता रहेगा । हालांकि गत दिनों चीनी सेना के युद्धाभ्यास का भी वीडियो सामने आया था, जिसके बाद अब भारत ने लेह में वायुसेना और थल सेना के बेहतर सामजस्य के लिए यह युद्धअभ्यास किया ।


असल में गलवान घाटी के साथ ही पैंगॉन्ग झील और दौलत बेग ओल्डी इलाके में चीनी सेना की तैनाती पहले जैसी बनी है । ऐसे में भारत किसी स्तर पर अपनी तैनाती को कम नहीं रखना चाहता है । इस बीच लद्दाख के लेह क्षेत्र में भारतीय सेना और वायुसेना का एक बड़ा युद्धाभ्यास किया । इसमें भारतीय सेना के सुखोई-30 एमकेआई अत्याधुनिक लड़ाकू विमानों ने हिल्ला लिया तो सेना की रसद सामग्री और सिपाहियों को तेजी से एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिए हरक्यूलिस और अलग-अलग मालवाहक विमान भी हिस्सा लिया । 

इस युद्धाभ्यास में चिनूक हेलिकॉप्टर, मी-17 हेलिकॉप्टर भी हिस्सा ले रहे हैं । युद्धाभ्यास के दौरान सुखोई-30 ने आसमान में सुरक्षा घेरा बनाया, जिसके बाद सेना के मालवाहक विमान रसद, तोपें और सिपाहियों को एक जगह से दूसरे जगह पहुंचाने का कोआर्डिनेशन ऑपरेशन चल रहे हैं।

 

Todays Beets: