Saturday, September 26, 2020

Breaking News

   कप्तान धोनी ने IPL2020 की शुरुआत जीत से की,जानिये कैसे ?     ||   लखनऊ: यूपी में आकाशीय बिजली से हुई मौत के मामले में परिजनों को 4 लाख मुआवजा     ||   कोरोना काल में भाजपा सरकार ने अनेक ख्याली पुलाव पकाए, लेकिन एक सच भी था? -राहुल गांधी     ||   पिछले 6 महीने में भारत-चीन सीमा पर कोई घुसपैठ नहीं: राज्यसभा में गृह मंत्रालय का बयान     ||   राजस्थान: बूंदी में चंबल नदी में नाव डूबने से 6 लोगों की मौत, 12 लोगों को रेस्क्यू किया गया     ||   मुंबई: बच्चन परिवार को अतिरिक्त सुरक्षा मुहैया कराएगी मुंबई पुलिस     ||   राज्यसभा में BJP MP विनय सहस्रबुद्धे का बयान, महाराष्ट्र सरकार ही अवैध निर्माण का प्रतीक     ||   ग्रीनलैंड में सबसे बड़ा ग्लेशियर टूटा, चंडीगढ़ के बराबर बर्फ की चट्टान समुद्र में     ||   किसान बिल के विरोध पर बोले नड्डा- कांग्रेस पहले समर्थन में थी, अब राजनीति कर रही     ||   राजस्थान में फिर सियासी ड्रामा, BJP के बहाने गहलोत-पायलट में ठनी     ||

मनमोहन की नसीहत पर भाजपा आगबबूला , कहा- यह वही पार्टी है जिसने बिना लड़े भारतीय जमीन सरेंडर की

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मनमोहन की नसीहत पर भाजपा आगबबूला , कहा- यह वही पार्टी है जिसने बिना लड़े भारतीय जमीन सरेंडर की

नई दिल्ली । भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने चीन के मुद्दे पर सोमवार केंद्र की मोदी सरकार को नसीदतें दीं । इस पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए उनपर जमकर निशाना साधा । नड्डा ने मनमोहन सिंह के बयान को शब्दों का खेल बताते हुए कहा कि वो उसी पार्टी से जुड़े हैं जिसकी सरकार के दौरान बिना लड़े ही भारतीय जमीन सरेंडर कर दी गई थी। मनमोहन सिंह और राहुल गांधी के बयानों पर नड्डा ने पलटवार ट्वीट के जरिए किया , जिसमें उन्होंने  कहा कि ये शब्दों का खेल है और कोई भारतीय इस पर यकीन नहीं करेगा । नड्डा ने कहा कि ये वही कांग्रेस है जिसने हमेशा हमारे सुरक्षाबलों पर सवाल किए हैं और उन्हें डिमोरलाइज किया है ।

जेपी नड्डा ने अपने ट्वीट में लिखा, 'डॉ मनमोहन सिंह उसी पार्टी से ताल्लुक रखते हैं, जिसने 43000 किलोमीटर भारतीय हिस्सा चीन के सामने सरेंडर किया है । यूपीए सरकार के दौरान निकृष्ट रणनीति देखी गई और बिना लड़े जमीन सरेंडर कर दी गई। वह बोले - भारत पूरी तरह पीएम नरेंद्र मोदी पर विश्वास करता है और समर्थन करता है। 130 करोड़ भारतीयों ने परीक्षा की घड़ी में पीएम मोदी के नेतृत्व को देखा है, उन्होंने हमेशा राष्ट्र को सबसे ऊपर रखा है।


बता दें कि पूर्व भारतीय पीएम मनमोहन सिंह ने अपने लिखित बयान में चीन विवाद पर पीएम मोदी को नसीहत देते हुए कहा है कि झूठ के आडंबर से सच छुपाया नहीं जा सकता । मनमोहन सिंह ने ऐसी कई और टिप्पणी सीधे पीएम मोदी पर की हैं ।  मनमोहन सिंह ने अपने एक बयान में कि भ्रामक प्रचार कभी भी कूटनीति और मजबूत नेतृत्व का विकल्प नहीं हो सकता है । 

मनमोहन सिंह ने कहा, 'आज हम इतिहास के एक नाजुक मोड़ पर खड़े हैं । हमारी सरकार के निर्णय व सरकार द्वारा उठाए गए कदम तय करेंगे कि भविष्य की पीढ़ियां हमारा आकलन कैसे करें । जो देश का नेतृत्व कर रहे हैं, उनके कंधों पर कर्तव्य का गहन दायित्व है । हमारे प्रजातंत्र में यह दायित्व देश के प्रधानमंत्री का है ।

Todays Beets: