Monday, August 26, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

अनुच्छेद 370 पर कांग्रेस दो फाड़ , अब कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य ने खुलकर किया मोदी सरकार का समर्थन

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अनुच्छेद 370 पर कांग्रेस दो फाड़ , अब कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य ने खुलकर किया मोदी सरकार का समर्थन

नई दिल्ली । केंद्र की मोदी सरकार ने न केवल जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाकर उसे केंद्र शासित प्रदेश बना दिया , बल्कि इस मुद्दे पक देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस को भी दो फाड कर दिया । इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस के कई दमदार युवा नेताओं ने भी पार्टी के विरोध में बिगुल बजा दिया है । जहां एक ओर राज्यसभा और लोकसभा में कांग्रेस ने वरिष्ठ नेताओं ने मोदी सरकार के फैसले के विरोध में हंगामा खड़ा किया । वहीं पार्टी के युवा नेता मोदी सरकार के इस फैसले का खुलकर समर्थन करने आ गए हैं। इस कड़ी में नया नाम जुड़ गया है पार्टी के महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया का । इससे पहले मिलिंद देवड़ा , दीपेंद्र हुड्डा , जर्नादन द्विवेदी अपनी पार्टी की लाइन से अलग जाकर मोदी सरकार के इस फैसले के पक्ष में खड़े हो चुके है । 

बता दें कि लोकसभा में जिस समय कांग्रेस जम्मू कश्मीर पुनर्गठन बिल 2019 के विरोध में हंगामा कर रही थी । उस दौरान पार्टी के कई युवा खुलेआम मोदी सरकार के इस ऐतिहासिक फैसले के समर्थन में खड़े हो रहे थे । इस कड़ी में कांग्रेस महासचिव और गत लोकसभा चुनावों में पश्चिम उत्तर प्रदेश के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट किया । उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा- मैं जम्मू कश्मीर-लद्दाख और भारत में इसके पूर्ण एकीकरण पर उठाए गए कदम का समर्थन करता हूं । बेहतर होता अगर संवैधानिक प्रक्रिया का पालन किया गया होता । तब कोई सवाल नहीं उठाया जा सकता था , फिर भी, यह हमारे देश के हित में है और इसका समर्थन करता हूं।

इससे पहले कांग्रेस के पूर्व सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा और मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष मिलिंद देवड़ा ने नरेंद्र मोदी सरकार के इस फैसले का समर्थन किया है । ऐसे में कांग्रेस अब इस मुद्दे को लेकर दो फाड़ नजर आ रही है । पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस मुद्दे पर भाजपा को घेरते हुए इसका विरोध कर चुकी है । वहीं लोकसभा और राज्यसभा में कांग्रेस के वरिष्ठ  नेता पार्टी के रुख को स्पष्ट कर चुके हैं, जिसका कई युवा नेताओं ने विरोध किया है । 

इससे पहले दीपेंद्र हुड्डा ने ट्वीट कर लिखा, 'मेरी व्यक्तिगत राय रही है कि 21वीं सदी में अनुच्छेद 370 का औचित्य नहीं है और इसको हटना चाहिए । ऐसा सिर्फ देश की अखंडता के लिए ही नहीं, बल्कि जम्मू-कश्मीर जो हमारे देश का अभिन्न अंग है, के हित में भी है। अब सरकार की यह जिम्मेदारी है कि इसका क्रियान्वयन शांति और विश्वास के वातावरण में हो। इसी क्रम में बिहार से कांग्रेस नेता रंजीत रंजन ने कहा था कि अनुच्छेद 370 खत्म करने पर उन्हें खुशी है ।  रंजीत रंजन ने कहा, 'हमें खुशी है कि सरकार अनुच्छेद 370 को खत्म कर रही है । कश्मीरी पंडितों को काफी दर्द झेलना पड़ा है । पहले कश्मीर के लोगों के साथ अन्याय हो रहा था। 

Todays Beets: