Thursday, July 18, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

Loksabha Live - स्पीकर ओम बिड़ला ने कांग्रेसी सांसद से कहा - माननीयजी सीट पर बैठे बैठ ज्ञान न दें, ये संसद है गरिमा बनाए रखें

अंग्वाल न्यूज डेस्क
Loksabha Live - स्पीकर ओम बिड़ला ने कांग्रेसी सांसद से कहा - माननीयजी सीट पर बैठे बैठ ज्ञान न दें, ये संसद है गरिमा बनाए रखें

नई दिल्ली । 17वीं लोकसभा में स्पीकर बनाए गए राज्स्थान के कोटा से सांसद ओम बिड़ला की छवि पहले दिन से ही एक कड़क स्वभाव वाले स्पीकर के तौर पर उभरकर आ रही है । जहां वह सदन में हल्ला करने वाले सांसदों को सख्त लहजे में चेतावनी देने से गुरेज नहीं करते वहीं सदन की गरिमा का ख्याल न रखने वाले सांसदों को भी नहीं बख्शते । इसी क्रम में उनका कड़ा स्वभाव शुक्रवार को उस समय नजर आया जब गृहमंत्री अमित शाह लोकसभा में जम्मू कश्मीर में राष्ट्रपति शासन को 6 माह और बढ़ाने रखने संबंधी प्रस्ताव पर बयान दे रहे थे । इस दौरान विपक्षी दलों के सांसदों द्वारा बीच में टोका-टाकी करने पर स्पीकर ओम बिड़ला ने कहा- माननीय सांसद जी , सीट पर बैठे बैठ ज्यादा ज्ञान न दें, ये संसद है इसकी गरिमा बनाए रखें । यह सुनने के बाद गृहमंत्री के प्रस्ताव पर टोकाटाकी करने वाले दूसरे सांसद भी चुप बैठ गए । इस दौरान अमित शाह ने जम्मू कश्मीर की मौजूदा स्थिति के लिए कांग्रेस के शासनकाल को दोषी ठहराया । उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शासनकाल में भारत का विरोध करने वाले नेताओं को सुरक्षा दी जाती थी , लेकिन आज ऐसे नेताओं की स्थिति के बारे में सबको पता है ।

राहुल गांधी निराशा और गुस्से में , यूपी में प्रचंड हार के लिए प्रियंका गांधी - ज्योतिरादित्य सिंधिया को बनाएंगे जिम्मेदार!

आतंकवाद के लिए कांग्रेस जिम्मेदार

जम्मू कश्मीर में लागू राष्ट्रपति शासन को 6 माह और बढ़ाए जाने संबंधी अपने प्रस्ताव पर गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि कांग्रेसी नेता ने सदन में बयान दिया कि घाटी में आतंकवाद की जिम्मेदार भाजपा और पीडीपी गठबंधन रहा , लेकिन  मैं बता दूं कि जब घाटी में आतंकवाद पनप रहा था और बढ़ रहा था उस दौरान किसी सरकार थी सबकों पता है । उन्होंने कहा कि कांग्रेस देश में आतंकवाद को पनपने देने की जिम्मेदार है ।

बड़गाम में सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता , बड़ी वारदात की साजिश में बैठे आतंकियों से मुठभेड़ , एक ढेर दूसरा फरार

बस देखने का नजरिया अलग है...

इस दौरान अमित शाह ने कहा - घाटी के अंदर 6 हजार ट्रांजिट आवासों का निर्माण कश्मीरी पंडितों के लिए हमने शुरू किया है । कश्मीर में हुए पंचायत चुनाव हो या अभी हुए लोकसभा चुनाव एक खून का कतरा भी कश्मीर में जमीन पर नहीं गिरा और आप कह रहे हैं कि कंट्रोल नहीं है।  कंट्रोल है बस देखने का नजरिया अलग-अलग है । आज तक पंचायतों को पंच और सरपंच चुनने का अधिकार ही नहीं दिया गया था। सिर्फ 3 ही परिवार इतने साल तक कश्मीर में शासन करते रहे। ग्राम पंचायत, तहसील पंचायत, नगर पंचायत सब का शासन वही करें और सरकार भी वही चलाएं। ऐसा क्यों, क्या जम्मू-कश्मीर भारत का हिस्सा नहीं है ।

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने रूसी समकक्ष पुतिन से कहा- इस बार चुनावों में हस्तक्षेप नहीं करना, ...और पुतिन हंसने लगे

हम जम्मू कश्मीर की आवाम को अपना मानते हैं

गृहमंत्री ने इस दौरान कहा - जम्मू कश्मीर की आवाम को हम अपना मानते हैं, उन्हें अपने गले लगाना चाहते हैं।  लेकिन उसमें पहले से ही जो शंका का पर्दा डाला गया है, वो इसमें समस्या पैदा कर रहा है । जम्मू-कश्मीर की आवाम के मन डर नहीं होना चाहिए। जो देश को तोड़ना चाहते हैं उनके मन में डर होना चाहिए। जम्मू-कश्मीर में चुनाव आयोग जब भी तय करेगा तब लोकत्रांतिक तरीके से चुनाव कराए जाएंगे। केंद्र सरकार का उसमें कोई हस्तक्षेप नहीं होगा।


लोकसभा LIVE - गृहमंत्री अमित शाह ने J&K में राष्ट्रपति शासन बढ़ाने का प्रस्ताव सदन में रखा , कांग्रेस ने जताया विरोध

जम्मू कश्मीर और देश की आवाम के बीच खाई पैदा की गई

वह बोले- आज बंगाल अगर देश का हिस्सा है तो इसमें मुखर्जी जी का बहुत बड़ा योगदान है । श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी की मृत्यु की जांच होनी चाहिए या नहीं, क्योंकि मुखर्जी जी विपक्ष के नेता थे, देश के और बंगाल के नेता थे । 23 जून 1953 को जब श्यामा प्रसाद मुखर्जी जम्मू कश्मीर के संविधान का, परमिट प्रथा का और देश में दो  प्रधानमंत्री का विरोध करते हुए जम्मू कश्मीर गए तो उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया और वहां उनकी संदेहास्पद मृत्यु हो गई। जम्मू कश्मीर की आवाम और भारत की आवाम के बीच एक खाई पैदा की गई।  क्योंकि पहले से ही भरोसा बनाने की कोशिश ही नहीं की गई ।

कांग्रेस बताए देश का विभाजन किसने किया

इस दौरान उन्होंने कांग्रेसी सांसद मनीष तिवारी ने पूछा कि आज देश के विभाजन पर सवाल उठा रहे हैं मैं इनसे पूछना चाहता हूं कि देश का विभाजन किसने किया था ? आज कश्मीर का एक तिहाई हिस्सा भारत के पास नहीं है, ऐसा किसके कारण हुआ?  हम विभाजन का समर्थन नहीं करते है और न करते थे। विभाजन किसने किया? हमने नहीं किया।  हम आज भी कहते है धर्म के आधार पर विभाजन नहीं होना चाहिए । देश में आतंकवाद की समस्या है वो पड़ोस के देश से आती है। कश्मीर का आतंकवाद पाक प्रेरित आतंकवाद है।

आतंकियों के घर मे घुसकर हमला करते हैं

वह बोले - मोदी जी की सरकार आने के बाद आतंकवादियों की जड़ में घुसकर इनके दिल दहलाने वाले हमले कराने का काम हुआ । देश विरोधी बात करने वालों को पहले सरकार द्वारा सुरक्षा दी जाती थी। भारत विरोधी 4 बयान दे दिया तो तुरंत सुरक्षा दे दी जाती थी। हमने 919 लोग, जिन्हें भारत विरोधी बयान देने के कारण सुरक्षा मिली थी, हमने उनकी सुरक्षा को हटाने का काम किया है ।

कांग्रेस किसे खुश रखना चाहती थी

अमित शाह बोले - भारत में देश विरोधी कार्यों में लिप्त जमायते इस्लामी पर पहले क्यों प्रतिबन्ध नहीं लगाया गया? किसको खुश करना चाहते थे आप?, ये नरेन्द्र मोदी सरकार है जिसने इस पर प्रतिबंध लगाया । जमायते इस्लामी पर पहले क्यों प्रतिबन्ध नहीं लगाया गया ? किसको खुश करना चाहते थे आप ? ये नरेन्द्र मोदी सरकार है जिसने इस पर प्रतिबंध लगाया । हमने तो विशिष्ट परिस्थितियों से माध्यम से जम्मू कश्मीर में राष्ट्रपति शासन लगाया गया। आज से पहले 132 बार धारा 356 का उपयोग किया गया है। 132 में से 93 बार कांग्रेस ने इसका उपयोग किया है और अब वो हमें सिखाएंगे कि 356 का उपयोग कैसे करना है।

 

Todays Beets: