Wednesday, June 26, 2019

Breaking News

   आईबी के निदेशक होंगे 1984 बैच के आईपीएस अरविंद कुमार, दो साल का होगा कार्यकाल    ||   नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का कार्यकाल सरकार ने दो साल बढ़ाया    ||   BJP में शामिल हुए INLD के राज्यसभा सांसद राम कुमार कश्यप और केरल के पूर्व CPM सांसद अब्दुल्ला कुट्टी    ||   टीम इंडिया की जर्सी पर विवाद के बीच आईसीसी ने दी सफाई, इंग्लैंड की जर्सी भी नीली इसलिए बदला रंग    ||   PIL की सुनवाई के लिए SC ने जारी किया नया रोस्टर, CJI समेत पांच वरिष्ठ जज करेंगे सुनवाई    ||   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||

जैश-ए-मोहम्मद का सरगना पड़ा बिस्तर पर, पाकिस्तान के मिलिट्री अस्पताल में हो रहा इलाज!

अंग्वाल न्यूज डेस्क
जैश-ए-मोहम्मद का सरगना पड़ा बिस्तर पर, पाकिस्तान के मिलिट्री अस्पताल में हो रहा इलाज!

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के साथ ही देश के कई हिस्सों में आतंकी वारदातों को अंजाम देने वाले संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना अजहर मसूद के गंभीर तौर पर बीमार होने की खबर है। खबरों के अनुसार मसूद अजहर रीढ़ की हड्डी और गुर्दे की बीमारी से जूझ रहा है और पाकिस्तानी से मिली खुफिया जानकारी के अनुसार उसका इलाज रावलपिंडी के कंबाइंड मिलिटरी अस्पताल में किया जा रहा है। एक जानकारी के अनुसार इन बीमारियों से पूरी तरह से ठीक होने में करीब डेढ़ साल का समय लग सकता है। ऐसे में डाॅक्टरों ने उसे बिस्तर पर ही रहने की सलाह दी है।

गौरतलब है कि आतंकी वारदातों के लिहाज से यह भारत के लिए एक अच्छी खबर मानी जा सकती है। हालांकि जैश-ए-मोहम्मद के सरगना ने अपने कामों का बंटवारा अपने छोटे भाइयों के बीच कर दिया है। गौर करने वाली बात है कि संयुक्त राष्ट्र ने भी मसूद को एक वैश्विक आतंकी घोषित कर चुका है। बता दें कि भारतीय राजनयिकों ने उसके बीमार होने और अस्पताल में भर्ती होने की खबरों की पुष्टि नहीं कर रहे हैं। 


ये भी पढ़ें - वाराणसी में PM मोदी को जितवाने वालों को गुजरात में निशाना बनाकर पीटा जा रहा है -  मायावती

गौर करने वाली बात है कि जानकारों का मानना है कि अजहर को वैश्विक आतंकी वाली बात पर चीन हमेशा से ही रोड़े अटकाता रहा है। अब भारत को इसके लिए चीन से रियायत की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि आतंकी तो खुद कई बीमारियों से पीड़ित हो चुका है। बता दें कि भारत की ओर से साल 2001 में संसद हमले, 2005 में अयोध्या में और 2016 में पठानकोट एयरबेस पर हुए हमले के लिए अजहर मसूद को जिम्मेदार ठहराया है।

Todays Beets: