Thursday, June 27, 2019

Breaking News

   आईबी के निदेशक होंगे 1984 बैच के आईपीएस अरविंद कुमार, दो साल का होगा कार्यकाल    ||   नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का कार्यकाल सरकार ने दो साल बढ़ाया    ||   BJP में शामिल हुए INLD के राज्यसभा सांसद राम कुमार कश्यप और केरल के पूर्व CPM सांसद अब्दुल्ला कुट्टी    ||   टीम इंडिया की जर्सी पर विवाद के बीच आईसीसी ने दी सफाई, इंग्लैंड की जर्सी भी नीली इसलिए बदला रंग    ||   PIL की सुनवाई के लिए SC ने जारी किया नया रोस्टर, CJI समेत पांच वरिष्ठ जज करेंगे सुनवाई    ||   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||

स्मृति ईरानी ने दोहराय संकल्प , कहा- आगामी 5 सालों में अमेठी के हर गांव - गली की बदलेगी तस्वीर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
स्मृति ईरानी ने दोहराय संकल्प , कहा- आगामी 5 सालों में अमेठी के हर गांव - गली की बदलेगी तस्वीर

लखनऊ । इस बार के लोकसभा चुनावों में अगर किसी भाजपा नेता की जीत को मोदी की प्रचंड लहर से इतर समझा जाए तो वह होंगी यूपी की अमेठी सीट । इस सीट पर 2014 में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से करीब 1 लाख वोटों से हारने वाली स्मृति ईरानी ने अपनी हार के दिन से ही ठान लिया था कि वह अगले चुनावों में कांग्रेस अधय्क्ष को धूल चटाएंगी । कई दशकों से अमेठी कांग्रेस की सीट है, ऐसे में 2014 में मोदी सरकार के गठन के साथ ही केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अपने मंत्रालय का कामकाज करने के साथ ही इस सीट पर अपनी पकड़ बनाना शुरू कर दिया और उनकी कड़ी मेहनत का परिणाम है कि उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष को ही पटखनी दे डाली । उनकी इस मेहनत का फल उन्हें इस बार बड़े मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपकर मिलने की संभावना है । हालांकि पिछली बार विवादों में घिरने के बाद उनके मंत्रालय में बदलाव किया गया था ।

वर्ष 2014 में बनी मोदी सरकार में अमेठी सीट से हारने के बावजूद केंद्रीय मंत्री ने राज्यसभा के जरिए कैबिनेट का हिस्सा बनने में सफलता हासिल की । उन्हें उस दौरान मानव संसाधन मंत्रालय दिया गया तो विपक्षी दलों ने उनकी खुद की शिक्षा को लेकर सवाल उठाने शुरू कर दिए । विवादों में घिरने के बाद उनका मंत्रालय बदकर उन्हें दूसरा मंत्रालय दिया गया । इसके बाद से उन्होंने लगातार अमेठी में जानकर वहां के मुद्दों पर काम करना शुरू कर दिया । वह अमेठी की जनता के दिलों में अपनी जगह बनाने में कामयाब हो गईं और आखिर में राहुल गांधी को उनकी पारंपरिक सीट पर मात देने में कामयाब हुईं।

भारत में मोदी सरकार आने से डॉन दाऊद खौंफजदा , ISI अफसरों को फोन कर मदद की गुहार लगाई

इतना ही नहीं उन्होंने अपनी संसदीय सीट की जनता के लिए अपना एक रिकार्डेड संदेश में कहा - मैं अपने संकल्प को दोहराती हूं कि आगामी पांच सालों में हर गांव तक, हर पुरवा तक, हर न्याय पंचायत तक समस्याओं का समाधान पहुंचाना मेरी प्रतिबद्धता रहेगी। एक बार फिर संकल्पित अमेठी ने विकास की ओर कदम बढ़ाया है।' उन्होंने कहा, ''अमेठी की स्नेही बहनों, सम्मानित भाइयों को मैं प्रणाम करती हूं। मैं स्मृति ईरानी, आज से आपकी विधिवत सांसद ।  एक साधारण परिवार की मुझ जैसी महिला को आप सबने आशीर्वाद दिया। आप सबने जो इतिहास रचा, उसे देश और दुनिया ने देखा ।

ट्रंप ने अपने संदेश में लिखा - नरेंद्र मोदी एक महान आदमी , भारतीय भाग्यशाली है कि उनके पास मोदी है


इस दौरान स्मृति ने कहा, ''आज भारतीय जनता पार्टी की एक साधारण कार्यकर्ता होने के नाते आपके श्रीचरणों में मैं अपनी कृतज्ञता अर्पित करती हूं। मेरी ओर से, भारतीय जनता पार्टी के संगठन की ओर से, हमारे कार्यकर्ताओं की ओर से आपको शत शत नमन, आपको आभार।

Breaking News - CWC बैठक में राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफे की पेशकश की, क्या कैप्टन अमरिंदर होंगे कांग्रेस के नए अध्यक्ष!

अपनी जीत के बाद शुक्रवार को स्मृति ईरानी ने कहा- मेरी जीत कोई ‘ राकेट विज्ञान' नहीं है , क्योंकि अमेठी के लोगों को ऐसा प्रतिनिधि चाहिये था जो उनके लिये अगले पांच साल काम कर सके। ईरानी ने कहा कि उन्हें जीत मोदी सरकार के विकास के एजेंडे के कारण मिली । अमेठी के लोगों ने 2014 में भाजपा के लिये बड़ी संख्या में मतदान करके उन पर भरोसा जताया और उस भरोसे को कायम रखने के लिये उन्होंने पिछले पांच साल वहां काम किया ।

अपनी जीत के बाद स्मृति ईरानी ने गांधी पर अमेठी के विकास पर ध्यान नहीं देने का तंज कसते हुए कहा कि उन्होंने अमेठी में काम करना शुरू कर दिया है जहां सुविधाओं का अभाव है। उन्होंने कहा कि केंद्र और उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकारें अमेठी के विकास के लिये काम कर रही है ।

 

Todays Beets: