Tuesday, January 28, 2020

Breaking News

   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||   रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में चूक, मोटरसाइकिल काफिले के सामने आया शख्स     ||

Union Budget 2019 LIVE - वित्तमंत्री ने बजट में दिखा सबका साथ - सबका विकास - सबका विश्वास ...पढ़ें बजट में क्या है खास

अंग्वाल न्यूज डेस्क
Union Budget 2019 LIVE - वित्तमंत्री ने बजट में दिखा सबका साथ - सबका विकास - सबका विश्वास ...पढ़ें बजट में क्या है खास

नई दिल्‍ली  । वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला पूर्ण आम बजट (Budget 2019) संसद में पेश किया । अपने भाषण की शुरुआत में उन्होंने कहा - यकीन हो तो कोई रास्‍ता निकलता है, हवा की ओट लेकर भी चिराग जलता है । प्रचंड बहुमत के साथ दोबारा सत्ता में आई सरकार की वित्तमंत्री ने युवाओं- किसानों -महिलाओं समेत विकास-अर्थव्यवस्था , देश में खेलों की स्थिति समेत लगभग हरे मुद्दे को अपने बजट में शामिल किया । उन्होंने आर्थिक सुधार के साथ ही लोकलुभावन योजनाओं को लागू करने का ऐलान किया । उन्होंने कहा कि  अगले कुछ वर्षों में हमारी अर्थव्‍यवस्‍था 5 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंच जाएगी। इतना ही नहीं बजट में न्‍यू इंडिया पर जोर दिखा । निर्मला सीतारमण ने कहा कि देश का हर व्‍यक्ति बदलाव महसूस कर रहा है. वर्तमान में यह छठी सबसे बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था है, जोकि पहले 11वें नंबर पर थी । हमने अपनी योजनाओं पर अमल किया है. खाद्य सुरक्षा पर खर्च दोगुना किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में हर लक्ष्‍य पूरा करेंगे ।

2022 के लिए लक्ष्य तय किए

वित्त मंत्री ने कहा कि अभी तक 26 लाख घरों का निर्माण पूरा हो चुका है, 24 लाख को घर दिया जा चुका है। हमारा लक्ष्य 2022 तक हर किसी को घर देने का है. 95 फीसदी से अधिक शहरों को ODF घोषित किया गया है। आज एक करोड़ लोगों के फोन में स्वच्छ भारत ऐप है। देश में 1.95 करोड़ घर देने का लक्ष्य है। वित्त मंत्री ने ऐलान किया कि 2014 के बाद 9.6 करोड़ शौचालय का निर्माण किया गया है । उन्होंने कहा कि  5.6 लाख गांव आज देश में खुले से शौच से मुक्त हो गए हैं । स्वच्छ भारत मिशन के विस्तार के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। अभी तक 2 करोड़ लोगों को डिजिटल रूप से साक्षर बनाया गया है । ग्रामीण-शहरी अंतर को पाटने के लिए सरकार डिजिटल क्षेत्र को बढ़ावा दे रही है ।

2024 तक हर घर को पानी

इस दौरान उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने पानी के लिए जलशक्ति मंत्रालय का गठन किया है। जल आपूर्ति के लक्ष्य को लागू किया जा रहा है, 1500 ब्लॉक की पहचान की गई है। इसके जरिए हर घर तक पानी पहुंचाया जाएगा । सरकार का लक्ष्य 2024 तक हर घर जल पहुंचाने का लक्ष्य है ।

100 नए क्लस्टर बनाए जाएंगे

अपने भाषण में वित्त मंत्री ने बताया कि स्फूर्ति के जरिए देश में 100 नए क्लस्टर बनाए जाएंगे । 20 प्रोद्योगिकी बिजनेस इंक्यूबेटर स्थापित किए जाएंगे, जिसके जरिए 20 हजार लोगों को स्किल दिया जाएगा । वित्त मंत्री ने ऐलान किया कि कृषि अवसंरचना में अब निवेश को बढ़ावा दिया जाएगा। 10 हजार नए किसान उत्पादक संघ बनेंगे, दालों के मामले में देश आत्मनिर्भर बना है । हमारा लक्ष्य आयात पर कम खर्च करना है । इसके साथ ही डेयरी के कामों को भी बढ़ावा दिया जाएगा। अन्नदाता अब ऊर्जादाता भी हो सकता है. किसान को उसकी फसल का सही दाम देना हमारा लक्ष्य है ।

वित्‍त मंत्री द्वारा कही गई प्रमुख बातें...

-देश ने राष्ट्र को आगे रखकर वोट दिया

-इकॉनोमिक रिफॉर्म पर भी हमारा फोकस

-अगले कुछ साल में $5 लाख करोड़ की इकॉनामी बनाएंगे

-पीएम मोदी के नेतृत्व में लक्ष्य हासिल करेंगे

-FY20 $3 लाख करोड़ की इकोनॉमी हो जाएगी

-2025 में $5 लाख करोड़ की इकॉनामी हो जाएगी

-परचेसिंग पॉवस में विश्व की तीसरी बड़ी अर्थव्यव्सथा

-5 साल में $1 लाख करोड़ इकॉनामी में जोड़े

-नौकरियों के लिए भी ज्य़ादा निवेश की ज़रुरत

-हम आर्थिक विकास बढ़ाने का काम कर रहे हैं, हमारा जोर रिफॉर्म, परफॉर्म और ट्रांसफॉर्म पर है. हम न्यू इंडिया की ओर बढ़ रहे हैं

-भारतमाला से सड़कों के बेहतर विकास होगा- उड़ान स्कीम से छोटे शहरों को जोड़ा जा रहा है

-इंफ्रा, डिजिटल में ज्यादा निवेश की ज़रुरत

-भारतमाला प्रोजेक्ट से कारोबार में बढ़ोतरी होगी

-सागरमाला प्रोजेक्ट पर सरकार का फोकस

-रोजगार के लिए ज्य़ादा निवेश की ज़रुरत

-उड़ान स्कीम के जरिए छोटे शहरों में हवाई सेवा

-देश में 210 मेट्रो लाइनों का परिचालन शुरू

-रेलवे में निजी भागीदारी में बढ़ाई जाएगी


-रेलवे में पीपीपी मॉडल का इस्‍तेमाल करेंगे.

-रेलवे में आदर्श किराया योजना लागू करेंगे.

-MSME के लिए 350 करोड़ का आवंटन

-रेलवे मेें बुनियादी ढांचे को ठीक करने के लिए 50 हजार करोड़ रुपये

-सबको घर देने की योजना पर जोर

-3 करोड़ दुकानदारों को पेंशन देने का लक्ष्‍य

-300 किलोमीटर नई रेलवे लाइन को मंजूरी दी गई है

-59 मिनट में एक करोड़ रुपये तक के लोन को मंजूरी

-वन नेशन-वन ग्रिड योजना पर काम कर रहे हैं

-आदर्श किराया कानून बनाया जाएगा

-शेयर बाजार को निवेशक फ्रेंडली बनाएंगे.

-बीमा क्षेत्र में 100 प्रतिशत विदेशी निवेश होगा.

-मीडिया में विदेशी निवेश की सीमा बढ़ेगी.

-भारत को मोस्‍ट फेवरेट FDI देश बनाने पर जोर.

-बिजली टैरिफ में बड़े सुधार की योजना है.

-PSU की जमीनों पर सस्‍ती हाउसिंग स्‍कीम.

-भारत अंतरिक्ष ताकत के रूप में उभरा है.

-चार साल में गंगा नदी में कार्गो सेवा शुरू होगी.

-पीएम आवास योजना के तहत 2022 तक सभी को घर मुहैया कराएंगे.

-2022 तक 1.95 करोड़ घर उपलब्‍ध कराएंगे

-7 करोड़ घरों को बिजली देने का लक्ष्‍य है.

 

इस बार Budget को 'बहीखाता' का नाम दिया गया है. इस बजट में संभावित रूप से किसानों, कारोबारियों, बुजुर्गों और युवाओं का खास ख्‍याल रखा जा सकता है । इससे पहले गुरुवार को संसद में आर्थिक सर्वेक्षण पेश किया गया था। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आर्थिक सर्वे को ऊपरी सदन राज्यसभा में पेश किया था।

वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट पेश करने से पहले राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की । परंपरा के मुताबिक, उन्‍होंने राष्‍ट्रपति से बजट पेश करने की अनुमति ली । इसके बाद वित्‍त मंत्री सुबह करीब 10 बजे संसद भवन पहुंची, जिसके बाद मोदी कैबिनेट की अहम बैठक हुई । इसके बाद 11 बजे निर्मला सीतारमण ने बजट पेश किया ।

 

Todays Beets: