Saturday, October 19, 2019

Breaking News

   दिल्ली में भी भोपाल जैसा हनी ट्रैप , कई रईसजादों को विदेशी लड़कियों की मदद से फंसाया    ||   घाटी में घनघटाने लगीं मोबाइल फोन की घंटियां, इंटरनेट पर अभी भी प्रतिबंध    ||   इकबाल मिर्ची की इमारत में प्रफुल्ल पटेल का भी फ्लैट , ईडी ने भेजा समन    ||   रणवीर सिंह ने ठुकराया संजय लीला भंसाली की फिल्म का ऑफर , आलिया भट्ट हैं फिल्म की हिरोइन    ||   वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के पति ने भी माना- अर्थव्यवस्था की हालत खराब     ||   दिल्ली में डेंगू ने तोड़ा रिकॉर्ड, इस हफ्ते में 111 नए मामले आए सामने     ||   अगस्ता वेस्टलैंड मनी लॉन्ड्रिंग केस: 25 अक्टूबर तक बढ़ी रतुल पुरी की न्यायिक हिरासत     ||   तमिलनाडु: मसाले की फैक्ट्री में लगी आग, मौके पर दमकल की गाड़ियां मौजूद     ||   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||

PM MODI LIVE RAJYA SABHA - देश तय करे उसे टुकड़े टुकड़े गैंग का समर्थन करने वाला ओल्ड इंडिया चाहिए या हमारे साथ न्यू इंडिया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
PM MODI LIVE RAJYA SABHA  - देश तय करे उसे टुकड़े टुकड़े गैंग का समर्थन करने वाला ओल्ड इंडिया चाहिए या हमारे साथ न्यू इंडिया

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को राज्यसभा में नई सरकार के गठन के बाद राष्ट्रपति के अभिभाषण पर अपना भाषण दिया । इस दौरान उन्होंने लोकसभा की ही तर्ज पर कांग्रेस को आड़े हाथों लिया और कहा कि एक दल अपनी सोच की मर्यादा के कारण इतने बड़े जनादेश को ये कह दें आप तो चुनाव जीत गए लेकिन देश चुनाव हार गया।  मैं समझता हूँ इससे बड़ा देश के लोकतंत्र का अपमान नहीं हो सकता, इससे बड़ा जनता का अपमान नहीं हो सकता । उन्होंने कहा कि 17 राज्यों में कांग्रेस एक सीट नहीं जीत पाया। क्या हम कह देंगे देश हार गया? क्या Wayanad, रायबरेली में  हिंदुस्तान हार गया था? बहरामपुर में हिंदुस्तान हार गया क्या?  क्या अमेठी में हिंदुस्तान हार गया? ये क्या तर्क है? यानी कांग्रेस हारी देश हार गया। मतलब कांग्रेस यानी देश और देश यानी कांग्रेस। अहंकार की भी एक सीमा होती है। विपक्ष हमारी हर नीति का विरोध करता है । क्या ईवीएम , क्या जीएसटी । क्या हिंदुस्तान को टुकड़े टुकड़े गैंग का समर्थन करने वाला ओल्ड इंडिया चाहिए या न्यू इंडिया ।  न्यू इंडिया का मकसद देश को आगे बढ़ाना है ।

बालाकोट में एयरस्ट्राइक की रणनीति बनाने वाले सामंत गोयल RAW के नए चीफ , अरविंद कुमार इंटेलिजेंस ब्यूरो डायरेक्टर

हम दो थे तभी भी नहीं रोए

पीएम मोदी ने कहा कि ईवीएस को लेकर सवाल उठाए जाते हैं लेकिन कभी हम भी सदन में केवल 2 रहे हैं और 2 या 3 बोलकर हमारा मजाक उड़ाया जाता था । हम सिर्फ दो थे हम तब भी नहीं रोए । ईवीएम जब आई तो हम कहीं अस्तित्व में ही नहीं थे , लेकिन ये ईवीएम को ही लेकर रोते रहे । लेकिन ध्यान रखें, पूर्व में क्या खबरें आती थीं , किस तरह हिंसा की खबरें आती थीं, बूथ लूटे जाने की खबरों से अखबार पटे रहते थे लेकिन आज ईवीएम ने इस सब को खत्म कर दिया है । इतने बुरे दिन हमने देखे लेकिन कार्यकर्ताओं पर हमें भरोसा था, हमारे विचारों पर हमें भरोसा था, देश की जनता पर हमें भरोसा था और परिश्रम और त्याग के बल पर हमने उस निराशाजनक वातावरण में विश्वास पैदा करके हमने पार्टी को फिर से खड़ा किया ।

कांग्रेस के 51 सांसदों की बैठक में राहुल ने किया साफ- नहीं बनूंगा पार्टी अध्यक्ष , प्रियंका के बारे में भी न सोचें

खुद पर विश्वास नहीं तो बहाने खोजते हैं

पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि अपनी सोच की मर्यादा के कारण इतने बड़े जनादेश को ये कह दें आप तो चुनाव जीत गए लेकिन देश चुनाव हार गया। मैं समझता हूँ इससे बड़ा देश के लोकतंत्र का अपमान नहीं हो सकता, इससे बड़ा जनता का अपमान नहीं हो सकता । जब खुद पर विश्वास न हो तो लोग हार के बहाने खोजते हैं। हमने पूर्व में मिली हार पर कभी भी रोना धोना नहीं किया , लेकिन इनका क्रम जारी है । क्या ये आखिरी चुनाव था । अरे अभी तो कई और चुनाव होने हैं। अभी से इतनी निराशा में क्यों ।


PM MODI संसद LIVE - हम कानून से चलने वाले लोग हैं, अब किसी को कोर्ट से जमानत मिली है तो वह एंज्वाय करे

सुधार की निरंतर प्रक्रिया होती है

पीएम मोदी ने इस दौरान कहा - इस चुनावों में महिलाओं ने पूर्व की तुलना में बढ़चढ़कर हिस्सा लिया । इस बार के चुनावों में महिला पुरुषों ने लगभग बराबर का मतदान किया है । 2019 का चुनाव एक प्रकार से दलों से भी परे देश की जनता लड़ रही थी। देश की जनता ने इस चुनाव को अपने सर पर उठा लिया था और जनता एक प्रकार से ख़ुद सरकार के कामों की बात लोगों तक पहुंचाती थी । देश की राजनीति में सुधार हो रहा है । और सुधार की निरंतर एक प्रक्रिया होती है ।

क्या देश का किसान बिकाऊ है

पीएम मोदी ने इस दौरान कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि विपक्षी दलों ने यहां तक कह दिया कि देश का किसान बिकाऊ है। दो-दो हजार रुपये की योजना के कारण किसानों के वोट खरीद लिए गए। मैं मानता हूं कि मेरे देश का किसान बिकाऊ नहीं हो सकता। ऐसी बात कहकर देश के करीब 15 करोड़ किसान परिवारों को अपमानित किया गया है । उन्होंने कहा - हमें गर्व होना चाहिए कि भारत की चुनाव प्रक्रिया विश्व में भारत की प्रतिष्ठा को बढ़ाने का एक बहुत बड़ा अवसर है। इस अवसर को हमें खोना नहीं चाहिए ।

 

Todays Beets: