Wednesday, June 26, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

राहुल गांधी बोले- कहाँ हैं 'न खाऊँगा, न खाने दूँगा' कहने वाला देश का चौकीदार? चुप्पी चीख-चीख कर बताए

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राहुल गांधी बोले- कहाँ हैं

नई दिल्ली । हीरा व्यापारी नीरव मोदी के देश के सबसे बड़े पीएनबी महाघोटाले में शामिल होने पर अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सीधे-सीधे पीएम नरेंद्र मोदी पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने एक ट्वीट करते हुए पीएम मोदी से पूछा है कि आखिर न खाऊंगा ...न खाने दूंगा कहने वाला देश का चौकीदार इस दौरन कहा गया, जब देश में इतना बड़ा घोटाला हुआ है। राहुल ने अपने ट्वीट में लिखा कि पहले ललित मोदी फिर विजय माल्या और अब नीरव मोदी। इतना ही नहीं राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में आगे पीएम मोदी पर कटाक्ष मारते हुए लिखा- साहेब की खामोशी का राज़ जानने को जनता बेकरार, उनकी चुप्पी चीख चीख कर बताए, वो किसके हैं वफादार। हालांकि इस दौरान इस महाघोटाले को लेकर सीबीआई समेत ईडी देश में नीवर मोदी के कई ठिकानों पर छापेमारी का क्रम जारी रखे हुए है, लेकिन नीरव मोदी के ठिकानों के बारे में सरकार को कोई जानकारी हाथ नहीं लगी है।

बता दें कि देशभर में नीरव मोदी के 35 ठिकानों पर सीबीआई की टीमों की छापेमारी जारी है। इसी बीच देश के इस महाघोटाले को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर सवाल दागे हैं। उन्होंने पूछा कि आखिर इस घोटाले के दौरान खुद को देख का चौकीदार कहने वाले पीएम मोदी कहा थे। 

बहरहाल, इस पूरी कवायद के बीच एक बार फिर नीरव की कंपनी में सीएफओ के पद से जुड़े अंबानी परिवार से जुड़े विपुल अंबानी को जांच एजेंसियों ने पूछताछ के लिए फिर से बुलाया है। इसी कड़ी में नीरव मोदी और मेहुल के खिलाफ शिकायतों का दायरा बढ़ता जा रहा है। महाघोटाले में शामिल होने के बाद अब मीडिया और जांच एजेंसियों के पास कुछ व्यापारी जा रहे हैं, जिनका कहना है कि इन मामा-भांजे की जोड़ी ने उन्हें भी करोड़ों का चूना लगाया है।

Todays Beets: