Tuesday, June 25, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

राहुल गांधी के साथ बुजुर्ग की फोटो में रहस्मयी अंगुलियां , कांग्रेस अध्यक्ष के ट्रोल होने पर सामने आई सच्चाई

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राहुल गांधी के साथ बुजुर्ग की फोटो में रहस्मयी अंगुलियां , कांग्रेस अध्यक्ष के ट्रोल होने पर सामने आई सच्चाई

नई दिल्ली । कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से जुड़ा कोई विवाद हो या उनसे जुड़ा कोई तथ्य भले ही वह झूठा ही क्यों न हो , सोशल मीडिया में तेजी से वायरल होता है। कुछ ऐसा ही हुआ सोमवार को, जब कई अखबारों के कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की एक फोटो नजर आई । इसी तरह कई सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भी उनका यह डिजिटल कैंपेन नजर आया । इसमें राहुल गांधी अपनी न्याय योजना का प्रचार करते नजर आ रहे हैं, जिसमें वह प्रतिवर्ष 72 हजार रुपये देने का वादा कर रहे हैं। इसमें राहुल गांधी एक बुजुर्ग महिला को गले लगाए हुए थे, लेकिन इस फोटो में नजर आ रही कुछ अंगुलियों पर भाजपा के एक प्रवक्ता ने राहुल गांधी को घेरने की कोशिश की। इतना ही नहीं राहुल  गांधी इस मुद्दे को लेकर सोशल मीडिया पर ट्रोल भी होने लगे । भाजपा प्रवक्ता ने राहुल गांधी की इस फोटो को फोटोशॉप का जादू करार दिया, लेकिन जब सच्चाई सामने आई तो उससे सारा सच सामने आ गया ।

LIVE - कांग्रेस ने भाजपा के 'संकल्प पत्र' पर दागे कई सवाल , कहा- घोषणापत्र नहीं माफी पत्र जारी कर देते

असल में अखबारों में प्रकाशित फोटो और सोशल मीडिया में चल रहे डिजिटल कैंपेन में राहुल गांधी के फोटो को लेकर खासा हो हल्ला हो गया । दिल्ली भाजपा के एक प्रवक्ता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने भी राहुल गांधी की इस फोटो में दिख रहे रहस्यमय हाथ पर सवाल खड़े किए। बग्गा ने लिखा- 'ये तीसरा हाथ किसका है @RahulGandhi जी। मैंने कल कहा था न कि अच्छी पीआर एजेंसी हायर कर लीजिए।

उनका ट्वीटर पर राहुल गांधी की फोटो को लेकर सवाल उठाने की देर थी कि कुछ देर बाद कई लोगों ने इस ट्वीट पर कमेंट करना शुरू कर दिया । बड़ी संख्या में लोगों ने इस फोटो को फोटोशॉप की करामात करार दिया तो कुछ ने इसे झूठा करार दिया। ऐसे में कुछ देर बाद ही राहुल गांधी ट्रोल करने लगे।

सुप्रीम कोर्ट का चुनाव आयोग को निर्देश , अब एक के बजाए 5 बूथों पर होगा VVPAT पर्चियों और EVM का मिलान


हालांकि कुछ देर बाद ही इस फोटो की सच्चाई सामने आ गई । असल में सामने आया कि इस फोटो को कांग्रेस ने 9 दिसंबर 2015 को ट्वीट किया था। उस दौरान राहुल गांधी तमिलनाडु और पुडुचेरी में बाढ़ प्रभावित इलाके के दौरे पर थे। उस दौरान ही यह फोटो खींची गई थी। अब इस फोटो की सच्चाई को देखा गया तो सामने आ गया कि यह फोटोशॉप से बनाई गई फोटो न होकर एक सही फोटो थी, जिसे बस काटकर छोटा किया गया था।

देखिए यह है वो असली फोटो , जिसे देखने के बाद साफ हो जाता है कि आखिरकार अखबार में प्रकाशित फोटो और सोशल मीडिया में डिजिटल कैंपेन में बुजुर्ग महिला की कमर पर किसका हाथ है, जो फोटो को काटने पर अँगुलियों को हटाना भूल गए। फोटो में साफ दिख रहा है कि गरीब महिला की पीठ पर दिख रहा हाथ एक कांग्रेस नेता का है. ये कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ ही खड़े थे और महिला को सहारा देने की कोशिश करते हैं।

जानिए भाजपा के संकल्प पत्र में क्या है खास , हर किसान को 6 हजार - 60 साल के किसानों को पेंशन , राम मंदिर - धारा 35ए पर नजरिया

इस सब के बाद कांग्रेसी समर्थकों ने भी इस फोटों पर कमेंट करते हुए लोगों को सच्चाई से अवगत कराया।

 

Todays Beets: