Thursday, July 18, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

राहुल गांधी ने दिया कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा , मोती लाल वोरा बनाए जा सकते हैं अंतरिम अध्यक्ष

अंग्वाल संवाददाता
राहुल गांधी ने दिया कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा , मोती लाल वोरा बनाए जा सकते हैं अंतरिम अध्यक्ष

नई दिल्ली । राहुल गांधी ने लोकसभा चुनावों में अपनी प्रचंड हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से इस्तीफा देने का ऐलान किया था । इसके बाद कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक से लेकर अलग अलग मंच पर वह अपनी बात पर अड़े दिखाई दिए और पार्टी को संदेश दिया कि पार्टी जल्द नए अध्यक्ष का चयन कर ले तब तक मैं पद पर रहूंगा । इस सब के बाद राहुल गांधी ने अब , अपने बयान के करीब एक माह बाद बुधवार को कहा कि मैं अब पार्टी का अध्यक्ष नहीं हूं । पार्टी में जल्द से जल्द अध्यक्ष पद के लिए चुनाव होना चाहिए । हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि पार्टी अध्यक्ष पद पर नए नेता की नियुक्ति एक माह पहले ही हो जानी चाहिए थी । इसके साथ ही राहुल गांधी ने ट्वीट किया है , जिसमें उन्होंने खुद को अध्यक्ष बनाए जाने पर पार्टी के प्रति आभार प्रकट किया है। इसके साथ ही उन्होंने 4 पेज का एक संदेश भी जारी किया है , जिसमें उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार के लेकर लोकसभा चुनावों का जिक्र किया है। वहीं इस सब के बीच पार्टी मोतीलाल वोरा को अंतरिम अध्यक्ष बना सकती है ।

राहुल गांधी ने अपनी चार पन्नों की चिट्ठी में लिखा कि लोकसभा चुनावों में हार के लिए मैें जिम्मेदार हूं। लेकिन कुछ अन्य लोगों को भी हार की जिम्मेदारी लेनी होगी । पार्टी को दोबारा खड़ा करने के लिए नए अध्यक्ष की जरूरत होगी । उन्होंने लिखा कि इस्तीफे के बाद मैंने वर्किंग कमेटी को सुझाव दिया है कि कुछ लोगों का समूह बनाकर नए अध्यक्ष के नाम पर मुहर लगाने की कवायद की जाए । इस दौरान उन्होंने भाजपा पर भी गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि पूरी व्यवस्था उनके साथ थी।

अब सुप्रीम कोर्ट के फैसले अंग्रेजी के साथ हिंदी में भी होंगे उपलब्ध , 6 क्षेत्रिय भाषाओं में पढ़ सकेंगे फैसले


राहुल गांधी ने बुधवार को कहा - मैं किसी भी कीमत पर अब अपना इस्तीफा वापस लेने नहीं जा रहा हूं । जल्द से जल्द इस पद के लिए चुनाव होने चाहिए, मैं इस पद पर नहीं हूं । उनका यह बयान 23 मई को चुनाव नतीजे आने के बाद कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में इस्तीफे की पेशकश करने के बाद आया है । इतना ही नहीं राहुल गांधी पर पार्टी समर्थन और उनके प्रशंसक इस्तीफा वापस लेने के लिए लगातार दबाव बना रहे हैं । जहां कार्यकर्ता धरना प्रदर्शन कर रहे हैं तो कुछ धरने पर बैठ गए हैं। एक समर्थक ने तो आत्महत्या करने तक का प्रयास किया । पार्टी के सभी दिग्गज राहुल को मनाने में नाकामयाब रहे हैं।

एयर इंडिया का होगा निजीकरण , नागरिक उड्डयन मंत्री ने कहा - हर दिन हो रहा है 15 करोड़ का नुकसान

वहीं अब राहुल कह रहे हैं कि पार्टी को नया अध्यक्ष चुनने में काफी देर हो रही है ।  पार्टी को जल्द से जल्द वर्किंग कमेटी की बैठक बुलाकर , इस मुद्दे पर अंतिम फैसला लेना चाहिए । साथ ही उनका कहना है कि इस प्रक्रिया का वह हिस्सा नहीं रहेंगे। उन्होंने कहा कि वर्किंग कमेटी की बैठक कब बुलाई जाएगी, ये भी समिति के सदस्य ही तय करेंगे। मैं बैठक नहीं बुलाउंगा।

गृहमंत्रालय का ऐलान - देशद्रोह कानून नहीं होगा खत्म , आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में है अहम

 

Todays Beets: