Tuesday, June 25, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

Breaking News - चुनाव आयोग ने दी योगी - मायावती को विवादित बोल की सजा , नहीं कर पाएंगे चुनाव प्रचार

अंग्वाल संवाददाता
Breaking News - चुनाव आयोग ने दी योगी - मायावती को विवादित बोल की सजा , नहीं कर पाएंगे चुनाव प्रचार

नई दिल्ली । 17वीं लोकसभा चुनावों के प्रचार के दौरान जुबानी जंग तेज हो गई है । इस सब के बीच नेताओं की बदजुबानी की घटनाओं का क्रम बढ़ता जा रहा है। वहीं धर्म जाति के आधार पर भी मतदाताओं को रिझाने की कोशिशें की जा रही हैं। इस सब के बीच चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और सूबे की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा प्रमुख मायावती पर उनके विवादित बोल के चलते शिकंजा कस दिया है । चुनाव आयोग ने योगी पर 72 घंटे तो मायावती पर अगले 48 घंटे तक देश में कोई चुनावी रैली नहीं करने का आदेश जारी किया है । असल में पिछले दिनों अली और बजरंगबली को लेकर जारी जुबानी जंग को ध्यान में रखते हुए चुनाव आयोग ने यह सख्त कदम उठाया है। दोनों पर यह आदेश मंगलवार सुबह 6 बजे से लागू हो जाएगा । हालांकि इससे पहले योगी आदित्यनाथ ने चुनाव आयोग को आश्वासन दिया था कि वह आगे किसी ऐसे बयान का हिस्सा नहीं बनेंगे जो विवादों में आए।

चुनावों में गंदी हुई जुबानी जंग , हिमाचल में भाजपा अध्यक्ष ने राहुल गांधी को दी मां की गाली

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट की ओर से स्पष्ट निर्देश हैं कि धर्म और जाति के आधार पर कोई भी नेता चुनावों में मतदान की अपील नहीं कर सकता । इस सब के बावजूद पिछले दिनों मायावती ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि मुसलमान सिर्फ बसपा को वोट दें, वहीं उनका उद्धार कर सकती है। अपने उम्मीदवारों के लिए चुनाव में समर्थन की अपील करने के दौरान मायावती ने मुस्लिम समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा था कि वह सिर्फ गठबंधन के लिए वोट करें और अपना वोट बंटने ना दें।

कांग्रेसी सांसद शशि थरूर मंदिर में तुलाभरम पूजा के दौरान गिरे , सिर पर गंभीर चोट आए 6 टांके

वहीं योगी ने उनके बयान पर कहा था - देश में दलित-मुस्लिम एकता संभव नहीं है । ऐसा इसलिए क्योंकि विभाजन के वक्त दलित नेताओं के साथ पाकिस्तान में किस तरह का बर्ताव हुआ, ये दुनिया ने देखा है । उन्होंने कहा कि भारत में बाबा साहेब अंबेडकर बड़े दलित नेता हुए, लेकिन योगेश मंडल बंटवारे के वक्त पाकिस्तान चले गए थे। वहीं अगर देश में हिंदुओं के पास भाजपा के अलावा कोई और विकल्प नहीं बचा है। इस दौरान योगी आदित्याथ ने यूपी में सपा-बसपा के गठबंधन पर भी जमकर निशाना साधा ।

राहुल - प्रियंका ने पीएम नरेंद्र मोदी पर लगाए आरोप , कहा- अच्छे दिनों के बजाए देश का नारा ' चौकीदार चोर है '


योगी ने कहा - जिस तरह मायावती ने मुस्लिमों के लिए वोट मांगे हैं, मुस्लिमों से कहा है कि वह सिर्फ गठबंधन के लिए वोट करें और अपना वोट बंटने ना दें। अब ऐसी सूरत में हिंदुओं के पास भारतीय जनता पार्टी के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है । योगी बोले -अगर कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी का अली में विश्वास है, तो हमारा बजरंगबली में विश्वास है।

 

 

 

 

Todays Beets: