Wednesday, July 8, 2020

Breaking News

   राजस्थान सरकार का प्राइवेट स्कूलों को आदेश- स्कूल खुलने तक फीस न लें     ||   गुजरात सरकार में मंत्री रमन पाटकर कोरोना वायरस से संक्रमित     ||   विकास दुबे पर पुलिस की नाकामी से भड़के योगी, खुद रख रहे ऑपरेशन पर नजर!     ||   विकास दुबे का बॉडीगार्ड था एनकाउंटर में ढेर अमर दुबे, 29 जून को ही हुई थी शादी     ||   सरकार की लिस्ट में अब 'आवश्यक' नहीं रहे मास्क और सैनिटाइजर     ||   उत्तराखंड: कोरोना के 46 नए मामले, कुल पॉजिटिव केस हुए 1199     ||   माले: ऑपरेशन समुद्र सेतु के तहत आईएनएस जलश्व से मालदीव में फंसे 700 भारतीय लाए जा रहे वापस     ||   बिहार: ADG लॉ एंड ऑर्डर ने जताई आशंका, प्रवासियों के आने से बढ़ सकता है अपराध     ||   दिल्ली: बीजेपी के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने संभाला अपना पदभार     ||   भोपाल की बडी झील में पलटी आईपीएस अधिकारियों की नाव, कोई जनहानी नहीं    ||

ब्लू ह्वेल, किकी के बाद अब शुरू हुआ मौत का नया खेल ‘मोमो चैलेंज’, बच्चों पर रखें निगरानी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
ब्लू ह्वेल, किकी के बाद अब शुरू हुआ मौत का नया खेल ‘मोमो चैलेंज’, बच्चों पर रखें निगरानी

नई दिल्ली। अगर आपका बच्चा स्मार्टफोन के जरिए सोशल मीडिया पर बहुत ज्यादा समय व्यतीत करता है तो सावधान हो जाएं। ब्लू ह्वेल, किकी के बाद इन दिनों ‘मोमो चैलेंज’ सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। ‘मोमो चैलेंज’ व्हाट्सएप के जरिए युवाओं के बीच काफी लोकप्रिय हो रहा है। इस खेल में पहले एक अंजान नंबर दिया जाता है, उसके बाद बाद डरावनी तस्वीरों को भेजकर यूजर्स को डराकर उनसे मनचाहा काम करवाया जाता है। ऐसे में व्हाट्सएप पर आने वाले किसी भी अंजान नंबर को सेव न करें। 

बताया जा रहा है कि मोमो चैलेंज की शुरुआत जापान से हुई है। इसमें यहां के मशहूर कलाकार मिदोरी हायाशी के द्वारा बनाई गई एक डरावनी तस्वीर का उपयोग किया जा रहा है। हालांकि उनका इस खेल से कोई लेना-देना नहीं है। बताया जा रहा है कि यह खेल काफी खतरनाक है। अंजान नंबर के द्वारा दिए गए टास्क को पूरा नहीं करने पर यह तस्वीर यूजर्स को काफी डांटती है और उसे सजा देने की धमकी देती है। इसके बाद यूजर्स टास्क को पूरा करने पर मजबूर करती है। 

ये भी पढ़ें - कांग्रेस नेता शशि थरूर ने एक बार बोला पीएम पर हमला, पूछा- क्यों नहीं पहनते मुस्लिम टोपी?


यहां बता दें कि इससे पहले ब्लू ह्वेल और किकी चैलेंज कई लोगों के लिए जानलेवा साबित हुआ है। अब इस नए मोमो चैलेंज के जरिए युवाओं को अपराधी फंसाने का काम कर रहे हैं और उनका डाटा चोरी करने के बाद उनके परिजनों से फिरौती की भी मांग करते हैं। ये अपराधी युवाओं और बच्चों में तनाव बढ़ाकर उन्हें आत्महत्या के लिए उकसाती हैं। 

 

गौर करने वाली बात है कि सोशल मीडिया विशेषज्ञों का कहना है कि माता-पिता को बच्चों की गतिविधियों पर नजर रखनी चाहिए। स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हुए अगर उनके व्यवहार में कोई भी बदलाव दिखे तो फौरन ही किसी अच्छे मनोचिकित्सक से दिखाना चाहिए। 

Todays Beets: