Thursday, August 22, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

फेसबुक ने नफरत फैलाने वाले 58 करोड़ अकाउंट को किया बंद, पोस्ट भी किए डिलीट 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
फेसबुक ने नफरत फैलाने वाले 58 करोड़ अकाउंट को किया बंद, पोस्ट भी किए डिलीट 

नई दिल्ली। सोशल मीडिया प्लेटफाॅर्म फेसबुक ने पिछले कुछ समय में करीब 58 करोड़ ऐसे यूजर्स का अकाउंट डिलीट कर दिया है जो घृणा और नफरत को बढ़ावा दे रहे थे। इन अकाउंट्स को बंद करने के लिए फेसबुक लंबे समय से काम कर रहा था जिससे वो अपने बिजनेस करने के तरीके को ज्यादा पारदर्शी बना सके। खुद फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने इसकी पुष्टि की है। गौरतलब है कि घृणा और नफरत फैलाने वाले कुछ अकाउंट का पता उसने खुद लगाया और कुछ के बारे में यूजर्स ने शिकायत की थी। 

गौरतलब है कि सबसे ज्यादा उन पोस्ट्स के बारे में फेसबुक यूजर्स ने अपनी चिंता जताई जिनमें अडल्ट न्यूडिटी या सेक्सुअल ऐक्टिविटी को बढ़ावा देने की बात कही गई थीं। हालांकि बच्चों पर होने वाले यौन अपराध या फिर पोर्न को इस रिपोर्ट में कवर नहीं किया गया है। अक्टूबर-दिसंबर 2017 की तरह ही 2018 के पहले तीन महीनों में भी इस तरह की पोस्ट्स की संख्या करीब 21 मिलियन रही।


ये भी पढ़ें - डाटा चोरी की खबरों से परेशान फेसबुक ने उठाया बड़ा कदम, ऐसे 200 ऐप को किया बाहर

यहां बता दें कि इससे पहले फेसबुक ने उन 200 ऐप्स को अपने मंच से हटा दिया था जो डाटा लीक कर उनका गलत इस्तेमाल कर रहे थे। फेसबुक के प्रोडक्ट पार्टनरशिप वाईस प्रेसिडेंट इमी आर्कबोंग ने जानकारी देते हुए बताया है कि फिलहाल इस मामले की जांच चल रही है और हमारे एक्सपर्ट्स इन ऐप्स की जांच कर रहे हैं।   

Todays Beets: