Wednesday, April 21, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

चुनाव में डाटा लीक से सुरक्षा के लिए शुरू की हाॅट लाइन सर्विस, नेताओं को सिखाया जाएगा अकाउंट सुरक्षित रखने के गुर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
चुनाव में डाटा लीक से सुरक्षा के लिए शुरू की हाॅट लाइन सर्विस, नेताओं को सिखाया जाएगा अकाउंट सुरक्षित रखने के गुर

नई दिल्ली। डाटा लीक होने के मामले के बीच फेसबुक ने भारतीय नेताओं को बड़ी राहत दी है। फेसबुक ने भारतीय नेताओं के लिए ई-मेल आधारित खास फीचर ‘साइबर थ्रेट क्राइसिस’ का ऐलान किया है। इस फीचर की मदद से भारत के नेताओं और राजनीतिक पार्टियों को डाटा सिक्योरिटी के लिए हॉटलाइन सर्विस दी जाएगी। इसके अलावा एक अंग्रेजी अखबार की खबरों के अनुसार फेसबुक भारत में होने वाले चुनावों के लिए एक इलेक्शन इंटिग्रिटी माइक्रोसाइट भी शुरू करने जा रहा है। 

गौरतलब है कि फेसबुक से डाटा लीक मामले में कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद से कंपनी को चेतावनी दी थी। फेसबुक ने कहा है कि इस हॉटलाइन सर्विस के तहत किसी भी तरह का डाटा लीक होने पर भारत सरकार के इलेक्ट्रॉनिक और आईटी मंत्रालय के अंतर्गत काम करने वाली कंप्यूटर इमर्जेंसी रिस्पॉन्स टीम [email protected] पर शिकायत कर सकती है।


ये भी पढ़ें - इंदौर कोर्ट का बड़ा फैसला, दुधमुंही बच्ची से दुष्कर्म करने वाले को दी सजा-ए-मौत

यहां बता दें कि सुरक्षा की दृष्टि से साइबर सिक्योरिटी गाइड भी जारी की है। इसके तहत साइबर सिक्योरिटी गाइड के जरिए राजनीतिक पार्टियों को फेसबुक पेज और अकाउंट को सुरक्षित रखने का गुर सिखाया जाएगा। इसमें टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन और संदिग्ध लिंक्स पर क्लिक ना करने की सलाह दी गई है। बता दें कि अभी हाल ही में केंद्र सरकार ने फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग पर प्राईवेसी पर सवाल उठाए थे जिसके बाद फेसबुक ने यह फैसला लिया है।

Todays Beets: