Saturday, April 4, 2020

Breaking News

   भोपाल की बडी झील में पलटी आईपीएस अधिकारियों की नाव, कोई जनहानी नहीं    ||   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||

अब मुफ्त में नहीं देख पाएगें यूट्यूब चैनल, चुकाने होंगे पैसे

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब मुफ्त में नहीं देख पाएगें यूट्यूब चैनल, चुकाने होंगे पैसे

नई दिल्ली। अगर आप भी यूटयूब पर वीडियो देखते और सब्सक्राइब करते हैं तो इस बात को जान ले कि अब यूटयूब पर वीडियो देखने के लिए पैसे देने होगें। नहीं तो आप वीडियो नहीं देख पाएगें। यूट्यूब के चीफ प्रोडक्ट अधिकारी नील मोहन ने बताया कि गूगल के मालिकाना हक वाली इस सेवा में वर्तमान में ज्यादातर कमाई विज्ञापनों से होती है। नील ने कहा,  'अभी भी मुख्य ध्यान इस पर ही होगा लेकिन हम विज्ञापनों से इतर भी सोचना चाहते हैं। वीडियो बनाने वालों के पास पैसा कमाने के कई तरीके और अवसर होने चाहिए।

ये भी पढ़े-गूगल इंडिया लेकर आया neighbourly एप,  अब जानकारियां पाना होगा और भी आसान

यूट्यूब चैनल वाले कमा सकते है अधिक लाभ

यूट्यूब ने युट्यूब पर चैनल चलाने वाले लोगों को पैसे कमाने का एक नया तरीका दिया है। अब यूट्यूब चैनलो के जरिए अपने सब्सक्राइबर और दर्शकों से पैसे भी ले सकेंगे।


गौरतलब है कि अब ऐसे चैनल जिनके 1,00,000 से अधिक सब्सक्राइबर हैं तो वे पेड सब्सक्रिप्शन भी शुरू कर सकते हैं और अपने सब्सक्राइबर से 4.99 डॉलर यानी लगभग 320 रुपये मासिक शुल्क ले सकते हैं। गूगल ने यह भी कहा है कि वीडियो बनाने वाले शर्ट या फोन के कवर जैसी वस्तुएं भी अपने चैनल पर बेच सकेंगे।

ये भी पढ़े-आनंद महिंद्रा बोले- हम ला रहे है स्वदेशी सोशल मीडिया नेटवर्क 'पीपल' , डेटा लीक की नहीं होगी गुंजाइश

इसी प्रकार कई सोशल मीडिया और इंटरनेट कंपनियां अब अपनी कमाई पर ध्यान देने लगी हैं। हाली ही में फेसबुक ने ग्रुप के लिए सब्सक्रिप्शन फीचर पेश किया है। इसके अलावा फेसबुक अब मैसेंजर में भी विज्ञापन दिखाना शुरू कर दिया है।

Todays Beets: