Friday, August 19, 2022

Breaking News

   टेस्ला के मालिक एलन मस्क को कोर्ट में घसीटने की तैयारी, ट्विटर संग होगी कानूनी जंग    ||   गोवा में कांग्रेस पर सियासी संकट! सोनिया ने खुद संभाला मोर्चा    ||   जयललिता की पार्टी में वर्चस्व की जंग हारे पनीरसेल्वम, हंगामे के बीच पलानीस्वामी बने अंतरिम महासचिव     ||   देशभर में मानसून एक्टिव हो गया है और ज्यादातर राज्यों में जोरदार बारिश हो रही है. भारी बारिश ने देश के बड़े हिस्से में तबाही मचाई है    ||   अगले साल अंतरिक्ष जाएंगे भारतीय , एक या दो भारतीयों को भेजने की योजना है     ||   कोरोना से 24 घंटे में 16678 लोग हुए संक्रमित     ||   उद्धव ठाकरे ने विधायकों को लिखी भावुक चिट्ठी     ||   सुप्रीम कोर्ट मे विजय माल्या का बड़ा झटका, अवमानना मामले में दोषी करार     ||   सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र में विधायकों की अयोग्यता पर फैसला लेने से स्पीकर को रोका     ||   मुठभेड़ में एक आतंकी मारा गया, कुलगाम में बैंक मैनेजर की हत्या में शामिल था: IGP कश्मीर     ||

राष्ट्रपति चुनाव के लिए NDA की ओर से द्रौपदी मुर्मु ने दाखिल किया नामांकन , जानें चुनाव की प्रक्रिया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राष्ट्रपति चुनाव के लिए NDA की ओर से द्रौपदी मुर्मु ने दाखिल किया नामांकन , जानें चुनाव की प्रक्रिया

नई दिल्ली । राष्ट्रपति चुनावों को लेकर शुक्रवार दोपहर एनडीए की ओर से द्रौपदी मुर्मू (Droupadi Murmu) ने अपना नामांकन (Nomination) दाखिल किया । इस दौरान पीएम मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई वरिष्ठ नेता मौजूद रहे । एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू ने 4 सेट का नामांकन दाखिल किया । पीएम मोदी द्रौपदी मुर्मू के नामांकन में प्रस्तावक बने जबकि राजनाथ सिंह अनुमोदक बने हैं । दूसरे सेट में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष समेत पार्टी के दूसरे नेता भी प्रस्तावकों में शामिल हुए । 

विदित हो कि विपक्ष की ओर से टीएमसी के उपाध्यक्ष यशवंत सिन्हा को उम्मीदवार बनाया गया है । इसका ऐलान होने पर एनडीए ने द्रौपदी मुर्मु को अपना उम्मीदवार बनाने का ऐलान कर दिया । उन्होंने आज अपना नामांकन भी दाखिल कर दिया । 

चलिए इस दौरान आपको यह भी बता दें कि राष्ट्रपति का चुनाव प्रधानमंत्री और सांसदों-  विधायकों के चुनावों से बिल्कुल अलग होता है ।

-  संविधान के मुताबिक राष्ट्रपति का चुनाव आनुपातिक प्रतिनिधित्व प्रणाली से गुप्त मतदान के जरिए होता है । 

- राष्ट्रपति पद के नामांकन भरने के लिए मतदाताओं में से 50 प्रस्तावकों और उतने ही अनुमोदकों के हस्ताक्षर जरूरत होती है । 

-  राष्ट्रपति का चुनाव एक निर्वाचक मंडल से गुप्त मतदान के जरिए होता है । 

- इस चुनाव में लोकसभा, राज्यसभा और राज्य विधानसभाओं के निर्वाचित प्रतिनिधि हिस्सा लेते हैं. दिल्ली और पुडुचेरी विधानसभा के निर्वाचित सदस्य भी राष्ट्रपति चुनाव में शामिल होते हैं । 


- इतना ही नहीं राष्ट्रपति का चुनाव (Presidential Election) कोई भी भारतीय नागरिक (Indian Citizen) जिनकी आयु 35 वर्ष हो चुकी है लड़ने के योग्य होता है । 

- वो लोकसभा का सदस्य निर्वाचित किए जाने की योग्यता रखते हों और किसी भी लाभ के पद पर न हों । 

-  राष्ट्रपति का चुनाव लड़ने के इच्छुक उम्मीदवार को निर्वाचकों का समर्थन होना जरूरी होता है । किसी भी उम्मीदवार के लिए 50 प्रस्तावकों और इतनी ही संख्या में अनुमोदकों का समर्थन चाहिए ।  

- राष्ट्रपति चुनाव (Presidential Election) के लिए उम्मीदवार को अपने नामांकन (Nomination) पत्र के साथ जमानत राशि के तौर पर 15 हजार रुपए जमा करनी होती है । 

- राष्ट्रपति चुनाव में कोई भी दल व्हिप जारी नहीं कर सकता है । 

 

 

Todays Beets: