Tuesday, May 24, 2022

Breaking News

    रोडरेज मामले में सिद्धू को 1 साल कठोर कारावास की सजा, SC ने 34 साल पुराने केस में सुनाई सज़ा    ||   बिहार विधानसभा में कानून व्यवस्था को लेकर हंगामा, CPI-ML के 12 विधायकों को किया गया बाहर     ||   गौतमबुद्ध नगर के तीनों प्राधिकरणों के 49,500 करोड़ नहीं चुका रहीं रियल एस्टेट कंपनियां     ||   आंध्र प्रदेश: गुड़ी पड़वा के जश्न के दौरान भक्तों के बीच मंदिर में मारपीट, दुकानों में तोड़फोड़-आगजनी     ||   दिल्ली एयरपोर्ट पर रोके जाने के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट पहुंचीं राणा अयूब     ||   सोनिया गांधी ने बोला केंद्र पर हमला, लगाया MGNREGA का बजट कम करने का आरोप     ||   केजरीवाल के आवास पर हमला: दिल्ली HC पहुंची AAP, एसआईटी गठन की मांग की     ||   राज्यसभा जा सकते हैं शिवपाल यादव! दो दिन से जारी है बीजेपी मुलाकातों का दौर     ||   यूपी हज समिति के अध्यक्ष बने मोहसिन रजा, राज्यमंत्री का भी दर्जा मिला     ||   दिल्ली: नई शराब नीति के विरोध में BJP, पटेल नगर समेत 14 जगहों पर शराब की दुकानें की सील     ||

NTAGI चीफ का बड़ा बयान , कहा - कोरोना के XE जैसे स्ट्रेन आते रहेंगे , घबराने की जरूरत नहीं

अंग्वाल न्यूज डेस्क
NTAGI चीफ का बड़ा बयान , कहा - कोरोना के XE जैसे स्ट्रेन आते रहेंगे , घबराने की जरूरत नहीं

नई दिल्ली । देश में कोरोना की नई लहर की आशंकाओं के बीच XE वेरिएंट को लेकर मचे हो हल्ले पर देश के राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (NTAGI) के प्रमुख डॉ. एनके अरोड़ा ने राहत भरा बड़ा बयान दिया है । डॉक्टर अरोड़ा ने कहा है कि कोविड के इस वेरिएंट से लोगों को परेशान होने की जरूरत नहीं है । वह बोले - कोविड-19 का ओमिक्रॉन वेरिएंट, इस वायरस के कई अन्य नए वेरिएंट्स को बढ़ावा दे रहा है । इनमें से X सीरीज के वेरिएंट्स शामिल हैं, जैसे यूके (UK) से निकला XE स्ट्रेन । हालांकि इनमें से कोई भी गंभीर संकट पैदा करने वाला नहीं है ।  ऐसे वेरिएंट अभी आगे भी आते रहेंगे, लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है । 

डॉक्टर अरोड़ा ने मौजूदा हालात पर कहा कि अभी घबराने जैसी कोई बात नहीं है । फिलहाल जो आंकड़े मिल रहे हैं, उनके मुताबिक भारत में यह वेरिएंट बहुत तेजी से फैलता नहीं दिख रहा है । डब्ल्यूएचओ ने XE वेरिएंट को ओमिक्रॉन वेरिएंट के BA.1 और BA.2 स्ट्रेन से निकला हुआ बताया है । WHO के मुताबिक कोरोना वायरस का नया XE स्ट्रेन, ओमिक्रॉन से 10 प्रतिशत ज्यादा संक्रामक है । 


इसी क्रम में भारत में XE स्ट्रेन का पहला केस गुजरात में मिला है । इससे पहले मुंबई में एक महिला के इस वेरिएंट से पीड़ित होने की बात कही गई थी लेकिन उस दावे को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने खारिज कर दिया था । क्या ओमिक्रॉन के साथ ही रूसी वैक्सीन स्पुतनिक (Sputnik V) कोरोना वायरस के नए वेरिएंट XE पर भी असरदार है? रूसी कंपनी ने इसे लेकर बड़ा दावा किया है. कंपनी का कहना है कि उसकी स्पुतनिक लाइट, स्पुतनिक-V और नोजल वैक्सीन कोरोना के सभी लेटेस्ट वेरिएंट पर प्रभावी पाई गई है । 

इस सबके बीच जानकारों का कहना है कि लोगों को कोरोना को लेकर घबराने की जरूरत नहीं है , लेकिन  हो सके तो कुछ बुनियादी बचाव के तरीकों को अभी कुछ समय तक अपनाते रहे ।

Todays Beets: