Friday, April 23, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

बाल आयोग ने नेटफ्लिक्स पर रिलीज हुई ‘बॉम्बे बेगम’ को नोटिस भेजा , आपत्तिजनक कंटेट के चलते विवाद

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बाल आयोग ने नेटफ्लिक्स पर रिलीज हुई ‘बॉम्बे बेगम’ को नोटिस भेजा , आपत्तिजनक कंटेट के चलते विवाद

मुंबई । पिछले दिनों ओटीटी प्लेटफॉर्म पर दिखाए जा रहे कंटेट को लेकर मचे हंगामे के बीच अब सरकार ने सख्ती शुरू कर दी है । इसी क्रम में हाल में 8 मार्च को नेटफ्लिक्स (Netflix) पर रिलीज हुई ‘बॉम्बे बेगम’ (Bombay Begum) पर कुछ सीन पर और उसके कॉन्टेंट को लेकर राष्ट्रीय बाल आयोग ने आपत्ति जताई है । इतना ही नहीं आयोग ने  एक नोटिस भी जारी किया है । राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग  ने इस वेब सीरीज की स्ट्रीमिंग को रोकने की मांग के साथ नेटफ्लिक्स से 24 घंटे में रिपोर्ट पेश करने को कहा है । 

विदित हो कि NCPCR बाल अधिकारों के संरक्षण के लिए सबसे उच्च निकाय है ।  एनसीपीसीआर ने ओटीटी प्लेटफॉर्म नेटफ्लिक्स (Netflix) को 24 घंटे के भीतर एक विस्तृत कार्रवाई रिपोर्ट पेश करने को कहा है ।  आयोग का कहना है कि ऐसा नहीं करने पर वह उचित कानूनी कार्रवाई शुरू करने के लिए मजबूर होंगे । 


असल में आयोग ने एक शिकायत के आधार पर नेटफ्लिक्स को नोटिस भेजा है ,जिसमें आरोप लगाया गया था कि दइसमें 13 साल की बच्ची को ड्रग्स लेते दिखाया गया है । सीरीज में नाबालिगों का कैजुअल सेक्स करते दिखाया गया है. इसके साथ ही स्कूली बच्चों का जिस तरह चित्रण किया गया है उस पर भी आपत्ति जताई है ।

आयोग का कहना है कि इस तरह के कंटेट से समाज के एक वर्ग पर बुरा असर पड़ेगा । 

Todays Beets: