Thursday, June 27, 2019

Breaking News

   आईबी के निदेशक होंगे 1984 बैच के आईपीएस अरविंद कुमार, दो साल का होगा कार्यकाल    ||   नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का कार्यकाल सरकार ने दो साल बढ़ाया    ||   BJP में शामिल हुए INLD के राज्यसभा सांसद राम कुमार कश्यप और केरल के पूर्व CPM सांसद अब्दुल्ला कुट्टी    ||   टीम इंडिया की जर्सी पर विवाद के बीच आईसीसी ने दी सफाई, इंग्लैंड की जर्सी भी नीली इसलिए बदला रंग    ||   PIL की सुनवाई के लिए SC ने जारी किया नया रोस्टर, CJI समेत पांच वरिष्ठ जज करेंगे सुनवाई    ||   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||

कंपनी का EX वाइस प्रेजीडेंट अपने खर्चों के लिए करने लगा चेन स्नेचिंग , नौकरी छोड़ने के समय मिलती थी ढाई लाख रुपये सैलरी 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कंपनी का EX वाइस प्रेजीडेंट अपने खर्चों के लिए करने लगा चेन स्नेचिंग , नौकरी छोड़ने के समय मिलती थी ढाई लाख रुपये सैलरी 

नई दिल्ली । आज की भागदौड़ भरी जिदंगी में कुछ लोगों को सब कुछ बहुत जल्दी चाहिए। उन्हें ज्यादा मेहनत नहीं करनी इसलिए वह अपनी आलीशान जिंदगी के लिए कुछ ऐसी राहों पर चल पड़ते हैं, इनका अंत जेल की काल कोठरी की ओर जाता है। हाल में ऐसी ही एक घटना सामने आई है, जिसमें एक बड़ी कंपनी में बतौर वाइस प्रेसीडेंट के तौर पर काम कर चुका एक शख्स अपने महंगे शौक और आलीशान जिंदगी की चाहत में चोरी के रास्ते पर चल दिया और अब पुलिस की गिरफ्त में है। इस शख्स का नाम सुमित सेन गुप्ता है, जिसने कुछ सालों पहले पारिवारिक विवादों के चलते कंपनी में VP की नौकरी छोड़ दी थी। 

अपनी बेटी को लेकर सुर्खियों में आए विवादित बयानों के 'मास्टर' असदुद्दीन ओवैसी 

ताजा जानकारी के मुताबिक , हाल में पुलिस ने सुमित सेन गुप्ता को चेन छपटमारी के आरोपों में गिरफ्तार किया है। TOI में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक , सुमित सेन गुप्ता के अपनी पत्नी के साथ संबंध मधुर नहीं थे। 2015 में उसकी पत्नी ने सुमित पर क्रूरता और मारपीट का मामला दर्ज करवाया था, जिसके चलते उसे अपनी नौकरी छोड़नी पड़ी थी। जिस समय उसने नौकरी छोड़ी वह एक टेक्निकल कंपनी में वाइस प्रेजीडेंट था और उसकी सैलरी करीब ढाई लाख रुपये के करीब थी। 

महाराष्ट्र में छात्रा ने संबंध बनाने से किया इंकार तो शिक्षक ने ले ली जान, आरोपी गिरफ्त से बाहर


नौकरी छोड़ने के बाद वह कुछ समय तक तनाव में रहा लेकिन उसने अपने खर्च कम नहीं किए। अपने खर्चों और अपनी लाइफस्टाइल को बरकरार रखने के लिए उसने चोरी का रास्ता चुना। गत 12 दिसंबर को उसे मुंबई पुलिस ने चेन झपटमारी में गिरफ्तार किया है। उसके साथ पुलिस ने उसके साथी नितिन को भी गिरफ्तार किया है। 

राहुल गांधी LIVE - मैं मोदीजी को सोने नहीं दूंगा , जब तक देश के सभी किसानों का कर्ज माफ नहीं होता

पुलिस ने बताया कि सुमित ने मुंबई के एक बड़े इंजीनियरिंग कॉलेज से पढ़ाई की है । लेकिन तनाव और उस दौरान अपने महंगे शौक को बरकरार रखने के लिए उसने अपराध का रास्ता चुना। उसके खिलाफ 2017 में भी एक मामला दर्ज हुआ था। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार , सुमित ने अपने साथी नितिन के साथ चेन झपटमारी की वारदात को अंजाम देने के लिए जिस कार का इस्तेमाल किया वह कार भी चोरी की थी। अब पुलिस इस बात की जांच में जुट गई है कि उसके खिलाफ क्या अन्य थानों में भी या अन्य जगहों पर तो मामले दर्ज नहीं हैं। 

Todays Beets: