Friday, May 14, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

भाजपा नए साल में दुल्हन बनने वाली युवतियों को देगी 10 ग्राम सोना , जानें क्या है शर्त और कैसे मिलेगा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
भाजपा नए साल में दुल्हन बनने वाली युवतियों को देगी 10 ग्राम सोना , जानें क्या है शर्त और कैसे मिलेगा

नई दिल्ली । आने वाला नया साल यानी वर्ष 2020 दुल्हन बनने वाले युवतियों के लिए कुछ खास होने जा रहा है । असर में भाजपा सरकार ने इन दुल्हनों को शादी के मौके पर 10 ग्राम सोना देने की योजना बनाई है । हालांकि 1 जनवरी से शुरू होने वाली इस योजना के लिए सरकार ने कुछ शर्तें और नियम बनाए हैं । इस योजना को 'अरुंधति स्वर्ण योजना' नाम दिया गया है । खास बात है कि भाजपा सरकार की इस योजना का लाभ वही दुल्हनें उठा पाएंगी जो 10वीं तक पढ़ी हो और उनके परिजनों ने शादी पंजीकृत करवाई हो । 

असल में 'अरुंधति स्वर्ण योजना' को असम की सर्बानंद सोनोवाल सरकार ने की है। असम सरकार 1 जनवरी से दुल्हन को 10 ग्राम सोना उपहार करेगी।  असम की भाजपा सरकार ने इस योजना की घोषणा गत माह की थी । योजना के तहत दुल्हन को 10 ग्राम के जेवरात नहीं मिलेंगे, बल्कि उन्हें सोना लेने के लिए 30 हजार रुपये मिलेंगे । लेकिन इससे पहले इस योजना का लाभ उठाने वालों को शादी के रजिस्ट्रेशन और वेरिफिकेशन के बाद रकम दुल्हन के बैंक खाते में जमा करवाई जाएगी। 


इस योजना का लाभ उठाने के लिए सरकार ने जो नियम शर्तें रखी गई हैं , उसके अनुसार , दुल्हन के परिवार की सालाना आमदनी 5 लाख रुपये से कम होनी चाहिए ।  अरुंधति स्वर्ण योजना का लाभ लड़की की पहली शादी पर ही मिलेगा ।  यानी दूसरी शादी करने पर इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा । इतना ही नहीं दुल्हन के परिजनों द्वारा खरीदे गए 30 हजार रुपये के जेवरात के बिल उन्हें जमा करवाने होंगे। सरकार का उद्देश्य इस सारी कवायद को लेकर यह है कि परिजन इस रकम का इस्तेमाल दूसरे काम के लिए न ले सकें ।   

Todays Beets: