Friday, April 23, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

नवजोत सिद्धू के कांग्रेस में फिर आ सकते हैं अच्छे दिन , चुनावों से पहले मिल सकती है बड़ी जिम्मेदारी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
नवजोत सिद्धू के कांग्रेस में फिर आ सकते हैं अच्छे दिन , चुनावों से पहले मिल सकती है बड़ी जिम्मेदारी

नई दिल्ली । भाजपा से अलग होकर कांग्रेस में शामिल हुए पूर्व किक्रेटर और विधायक नवजोत सिंह सिद्धू पिछले दिनों विवादों मे आने के बाद हाशिए पर आ गए थे । लेकिन अब लग रहा है कि उनके लिए कांग्रेस में अच्छे दिन आने वाले हैं । अगले कुछ दिनों में 5 विधानसभा सीटों पर चुनाव होने हैं , जिसमें कांग्रेस ने सिद्धू को अपने स्टार प्रचारक बनाया है । इस सबके साथ ही अगले साल 2022 में पंजाब विधानसभा चुनाव होने वाले हैं , जिसे लेकर आने वाले दिनों में सिद्धू को कोई बड़ी जिम्मेदारी दिए जाने के संकेत मिले हैं । हालांकि उनके पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ अनबन किसी से छिपी नहीं है। लेकिन कांग्रेस आलाकमान की पहल के बाद कैप्टन अमरिंदर ने सिद्धू को कल यानी बुधवार लंच पर बुलाया है ।  

बता दें कि कांग्रेस में शामिल होने के बाद अपने ही नेताओं के निशाने पर आए सिद्धू पिछले कुछ समय से सक्रिय राजनीति से अलग ही नजर आए । लेकिन अब कांग्रेस ने दोबारा से उन्हें बड़ी जिम्मेदारी देने का मन बनाया है । इसी क्रम में अभी उन्हें स्टार प्रचारक की सूची में जगह दी गई है , जो पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में जाकर चुनाव प्रचार करेंगे । 

विदित हो कि अगले साल 2022 में पंजाब में विधानसभा चुनाव भी हैं , ऐसे में पंजाब के कांग्रेसी नेताओं के बीच जारी गतिरोध को खत्म करने के लिए कांग्रेस ने अपने प्रयास तेज कर दिए हैं । पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच की अनबन किसी से छिपी नहीं है । अमरिंदर सिंह ने खुलकर पीछे सिद्धू के बारे में बयान दिए । इतना ही नहीं पिछले कुछ समय से सिद्धू खुद विवादों से घिरने के बाद सक्रिय राजनीति से गायब नजर आए । 


बहरहाल , पार्टी की पहल के बाद अब कैप्टन अमरिंदर ने सिद्धू को कल सिसवां महल में लंच पर बुलाया है । सिद्धू के कैबिनेट मंत्री के पद से इस्तीफा देने के बाद यह इन दोनों कांग्रेसी नेताओं के बीच दूसरी मुलाकात होगी । इससे पहले दोनों ने 25 नवंबर को एकसाथ लंच किया था । 

बताया जा रहा है कि इन दोनों के बीच सुलह करवाने का काम उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के पंजाब प्रभारी हरीश रावत ने की है । उन्होंने ही पंजाब में कांग्रेस को और मजबूत करने के लिए सारे नाराज नेताओं को एक मंच पर लाने की रणनीति बनाई है । हरीश रावत ने दोनों नेताओं के बीच बैठक आयोजित करवाने से पहले दोनों नेताओं से अलग अलग मुलाकात कर चर्चा की है । 

विदित हो कि अपने बयानों और पार्टी के रुख को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू नाराज हो गए थे । इसके बाद उनका मंत्रालय बदलने जाने से उनका गुस्सा चरम पर पहुंच गया और उन्होंने कैबिनेट मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया । हालांकि पुलवामा हमले को लेकर उनके विवादित बयान और पाकिस्तान जाकर वहां के जनरल से गले मिलकर बातें करने के बाद कांग्रेस के नेताओं ने ही उनसे दूरी बनाना शुरू कर दिया था । 

Todays Beets: