Sunday, January 29, 2023

Breaking News

   दिल्लीः फ्लाइट में स्पाइसजेट की क्रू के साथ अभद्रता के मामले में एक्शन, आरोपी गिरफ्तार     ||   मोरबी ब्रिज हादसा: ओरेवा ग्रुप के मालिक जयसुख पटेल के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी     ||   भारत जोड़ो यात्राः राहुल गांधी बोले- हम चाहते हैं कि बहाल हो जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा     ||   MP में नहीं माने बजरंग दल और हिंदू जागरण मंच, 'पठान' की रिलीज के विरोध का किया ऐलान     ||   समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्या पर लखनऊ में FIR     ||   बजरंग पुनिया बोले - Oversight Committee बनाने से पहले हम से कोई परामर्श नहीं किया गया     ||   यमुना एक्सप्रेस-वे पर कोहरे की वजह से 15 दिसंबर से स्पीड लिमिट कम कर दी जाएगी     ||   भारत की यात्रा करने वाले ब्रिटेन के नागरिकों के लिए ई-वीजा सुविधा फिर से शुरू     ||   दिल्ली में अफसरों के ट्रांसफर पोस्टिंग पर अधिकार को लेकर सुप्रीम कोर्ट में 10 जनवरी से सुनवाई     ||   महाराष्ट्र के अपमान के खिलाफ महाविकास अघाड़ी 17 दिसंबर को निकालेगा मार्च     ||

महेंद्र सिंह धोनी IPS अफसर के खिलाफ पहुंचे हाईकोर्ट , 100 करोड़ के मुआवजे की मांग

अंग्वाल न्यूज डेस्क
महेंद्र सिंह धोनी IPS अफसर के खिलाफ पहुंचे हाईकोर्ट , 100 करोड़ के मुआवजे की मांग

चेन्नई । विश्व क्रिकेट में मिस्टर कूल और कैप्टन कूल के नाम से सुर्खियां बंटोरने वाले महेंद सिंह धोनी एक बार फिर से सुर्खियों में हैं । इस बार वह अपने खेल को लेकर नही बल्कि एक आईपीएस अफसर के खिलाफ हाईकोर्ट जाने को लेकर चर्चाओं में आए हैं । जानकारी के अनुसार , उन्होंने आईपीएस अफसर संपत कुमार के खिलाफ अपराधिक अवमानना याचिका दाखिल की है ।  यह याचिका सुप्रीम कोर्ट द्वारा IPL सट्टेबाजी मामले में दिए गए आदेश के खिलाफ टिप्पणी करने के संदर्भ में दाखिल की गई है । इसके साथ ही उनपर 100 करोड़ रुपये के मुआवजे की भी मांग की है ।  

बता दें कि यह आईपीएस अफसर कोई और नहीं बल्कि आईपीएल (IPL ) 2013 में स्पॉट फिक्सिंग और सट्टेबाजी की जांच करने वाले IPS अधिकारी जी संपत कुमार ही हैं , जिनके खिलाफ धोनी ने चेन्नई हाईकोर्ट में अवमानना याचिका लगाई है । इसके साथ ही धोनी ने अपने खिलाफ मैच फिक्सिंग के आरोप लगाने के लिए संपत कुमार से 100 करोड़ मुआवजा भी मांगा है । इस मामले पर शुक्रवार को सुनवाई होनी थी लेकिन अब मंगलवार को इसे सुना जाएगा ।

विदित हो कि धोनी ने साल 2014 में जी संपत कुमार पर मानहानी का दावा ठोका था । सुप्रीम कोर्ट ने उसी साल संपत कुमार को धोनी के खिलाफ किसी भी तरह की टिप्पणी न करने का आदेश दिया था , बावजूद इसके संपत कुमार ने सुप्रीम कोर्ट के पास इस मामले में हलफनामा दायर किया । 


धोनी के पक्ष का कहना है कि इस हलफनामे में न्यायपालिका और मद्रास हाई कोर्ट के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी की गई । अब धोनी ने इसी को लेकर संपत कुमार पर कोर्ट की अवमानना पर कार्यवाही शुरू करने की मांग की है ।

धोनी की याचिका में कहा गया है, 'संपत कुमार का बयान न्यायपालिका पर एक आम आदमी के भरोसे को हिलाने वाला है । उनके द्वारा लिखित में दिए गए स्टेटमेंट कोर्ट की अथॉरिटी को नीचा दिखाते हैं । ये बयान न्यायपालिका के एडमिनिस्ट्रेशन में हस्तक्षेप और बाधा पहुंचाने का भी प्रभाव रखते हैं । 

 

Todays Beets: