Thursday, December 1, 2022

Breaking News

   सुकेश चंद्रशेखर विवाद के बीच तिहाड़ जेल से हटाए गए DG संदीप गोयल, संजय बेनीवाल को मिली कमान     ||   MHA ने NIA के 2 नए विंग को दी मंजूरी, 142 जांच अधिकारी-कर्मचारी बढ़ाए     ||   पाकिस्तान को बाढ़ से निपटने के लिए 10 अरब डॉलर की जरूरत, मंत्री का बयान     ||   सुप्रीम कोर्ट ने 1992 बाबरी मस्जिद विध्वंस से जुड़े सभी मामलो को बंद किया     ||   मनीष के घर-लॉकर से कुछ नहीं मिला, ईमानदार साबित हुए: CM केजरीवाल     ||   दिल्ली: JP नड्डा को बताना चाहता हूं, बच्चा चुराने लगी है BJP- मनीष सिसोदिया     ||   टेस्ला के मालिक एलन मस्क को कोर्ट में घसीटने की तैयारी, ट्विटर संग होगी कानूनी जंग    ||   गोवा में कांग्रेस पर सियासी संकट! सोनिया ने खुद संभाला मोर्चा    ||   जयललिता की पार्टी में वर्चस्व की जंग हारे पनीरसेल्वम, हंगामे के बीच पलानीस्वामी बने अंतरिम महासचिव     ||   देशभर में मानसून एक्टिव हो गया है और ज्यादातर राज्यों में जोरदार बारिश हो रही है. भारी बारिश ने देश के बड़े हिस्से में तबाही मचाई है    ||

महेंद्र सिंह धोनी IPS अफसर के खिलाफ पहुंचे हाईकोर्ट , 100 करोड़ के मुआवजे की मांग

अंग्वाल न्यूज डेस्क
महेंद्र सिंह धोनी IPS अफसर के खिलाफ पहुंचे हाईकोर्ट , 100 करोड़ के मुआवजे की मांग

चेन्नई । विश्व क्रिकेट में मिस्टर कूल और कैप्टन कूल के नाम से सुर्खियां बंटोरने वाले महेंद सिंह धोनी एक बार फिर से सुर्खियों में हैं । इस बार वह अपने खेल को लेकर नही बल्कि एक आईपीएस अफसर के खिलाफ हाईकोर्ट जाने को लेकर चर्चाओं में आए हैं । जानकारी के अनुसार , उन्होंने आईपीएस अफसर संपत कुमार के खिलाफ अपराधिक अवमानना याचिका दाखिल की है ।  यह याचिका सुप्रीम कोर्ट द्वारा IPL सट्टेबाजी मामले में दिए गए आदेश के खिलाफ टिप्पणी करने के संदर्भ में दाखिल की गई है । इसके साथ ही उनपर 100 करोड़ रुपये के मुआवजे की भी मांग की है ।  

बता दें कि यह आईपीएस अफसर कोई और नहीं बल्कि आईपीएल (IPL ) 2013 में स्पॉट फिक्सिंग और सट्टेबाजी की जांच करने वाले IPS अधिकारी जी संपत कुमार ही हैं , जिनके खिलाफ धोनी ने चेन्नई हाईकोर्ट में अवमानना याचिका लगाई है । इसके साथ ही धोनी ने अपने खिलाफ मैच फिक्सिंग के आरोप लगाने के लिए संपत कुमार से 100 करोड़ मुआवजा भी मांगा है । इस मामले पर शुक्रवार को सुनवाई होनी थी लेकिन अब मंगलवार को इसे सुना जाएगा ।

विदित हो कि धोनी ने साल 2014 में जी संपत कुमार पर मानहानी का दावा ठोका था । सुप्रीम कोर्ट ने उसी साल संपत कुमार को धोनी के खिलाफ किसी भी तरह की टिप्पणी न करने का आदेश दिया था , बावजूद इसके संपत कुमार ने सुप्रीम कोर्ट के पास इस मामले में हलफनामा दायर किया । 


धोनी के पक्ष का कहना है कि इस हलफनामे में न्यायपालिका और मद्रास हाई कोर्ट के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी की गई । अब धोनी ने इसी को लेकर संपत कुमार पर कोर्ट की अवमानना पर कार्यवाही शुरू करने की मांग की है ।

धोनी की याचिका में कहा गया है, 'संपत कुमार का बयान न्यायपालिका पर एक आम आदमी के भरोसे को हिलाने वाला है । उनके द्वारा लिखित में दिए गए स्टेटमेंट कोर्ट की अथॉरिटी को नीचा दिखाते हैं । ये बयान न्यायपालिका के एडमिनिस्ट्रेशन में हस्तक्षेप और बाधा पहुंचाने का भी प्रभाव रखते हैं । 

 

Todays Beets: