Tuesday, June 25, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बीडी टंडन का निधन, 7 दिनों के राजकीय शोक का ऐलान

अंग्वाल न्यूज डेस्क
छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बीडी टंडन का निधन, 7 दिनों के राजकीय शोक का ऐलान

नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बलराम दास टंडन का मंगलवार की दोपहर को रायपुर में निधन हो गया। उन्हें आज सुबह ही सांस लेने में परेशानी होने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 91 साल के बलराम दास टंडन के निधन पर छत्तीसगढ़ में 7 दिनों के राजकीय शोक की घोषणा की गई है। मुख्यमंत्री रमन सिंह ने राज्यपाल के निधन पर शोक व्यक्त किया है।

गौरतलब है कि बलराम दास टंडन मूल रूप से पंजाब के अमृतसर के रहने वाले थे और काफी सादगी पसंद नेता के तौर पर जाने जाते थे। टंडन का जन्म 01 नवंबर 1927 को अमृतसर पंजाब में हुआ था। उन्होंने पंजाब विश्वविद्यालय लाहौर से स्नातक की उपाधि प्राप्त की। इसके बाद वे राजनीति के क्षेत्र में भी काफी सक्रिय रहे। वे बिना किसी लालच के लोगों की भलाई करने के कारण काफी लोकप्रिय भी रहे। 


ये भी पढ़ें - राहुल गांधी ने मिशन-2019 के लिए बनाया प्लान ''वार्ता'' , 18 अगस्त को करेंगे 1500 प्रोफेसरों क...

यहां बता दें कि बीडी टंडन ने अपने राजनीतिक जीवन का पहला चुनाव अमृतसर नगर निगम का 1953 में लड़ा और पार्षद बने। इसके बाद वह अमृतसर विधानसभा क्षेत्र से वर्ष 1957, 1962, 1967, 1969 एवं 1977 में विधानसभा के लिए निर्वाचित हुए। 1997 में वे पहली बार राजपुरा विधानसभा सीट से विधायक बने।

Todays Beets: