Tuesday, October 4, 2022

Breaking News

   MHA ने NIA के 2 नए विंग को दी मंजूरी, 142 जांच अधिकारी-कर्मचारी बढ़ाए     ||   पाकिस्तान को बाढ़ से निपटने के लिए 10 अरब डॉलर की जरूरत, मंत्री का बयान     ||   सुप्रीम कोर्ट ने 1992 बाबरी मस्जिद विध्वंस से जुड़े सभी मामलो को बंद किया     ||   मनीष के घर-लॉकर से कुछ नहीं मिला, ईमानदार साबित हुए: CM केजरीवाल     ||   दिल्ली: JP नड्डा को बताना चाहता हूं, बच्चा चुराने लगी है BJP- मनीष सिसोदिया     ||   टेस्ला के मालिक एलन मस्क को कोर्ट में घसीटने की तैयारी, ट्विटर संग होगी कानूनी जंग    ||   गोवा में कांग्रेस पर सियासी संकट! सोनिया ने खुद संभाला मोर्चा    ||   जयललिता की पार्टी में वर्चस्व की जंग हारे पनीरसेल्वम, हंगामे के बीच पलानीस्वामी बने अंतरिम महासचिव     ||   देशभर में मानसून एक्टिव हो गया है और ज्यादातर राज्यों में जोरदार बारिश हो रही है. भारी बारिश ने देश के बड़े हिस्से में तबाही मचाई है    ||   अगले साल अंतरिक्ष जाएंगे भारतीय , एक या दो भारतीयों को भेजने की योजना है     ||

Breaking News - झारखंड के CM हेमंत सोरेन की विधानसभा सदस्यता रद्द!, चुनाव आयोग ने राज्यपाल को भेजा सिफारिश पत्र

अंग्वाल न्यूज डेस्क
Breaking News - झारखंड के CM हेमंत सोरेन की विधानसभा सदस्यता रद्द!, चुनाव आयोग ने राज्यपाल को भेजा सिफारिश पत्र

नई दिल्ली । झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरोन से जुड़े ऑफिस ऑफ प्रोफिट के एक मामले में चुनाव आयोग ने अपना सिफारिश पत्र झारखंड के राज्यपाल को सौंप दिया है । इस सिफारिश पत्र में चुनाव आयोग ने हेमंत सोरेन को दोषी पाते हुए उनकी विधानसभा की सदस्यता को रद्द किए जाने की सिफारिश की है । चुनाव आयोग ने सोरेन के खिलाफ यह सिफारिश एक माइन ( खान ) अपने नाम करवाने के मामले में की है । बहरहाल ,  राज्यपाल रमेश बैस दोपहर 12 बजे दिल्ली से निकलेंगे और करीब दो बजे राँची पहुँचेंगे । संभावना जताई जा रही है कि करीब 4 बजे तक राजपत्र में प्रकाशित हो जाएगा । वहीं अब भाजपा ने राज्य में दोबारा से चुनाव करवाने की मांग की है । विदित हो कि आरटीआई कार्यकर्ता शिवशंकर शर्मा ने दो जनहित याचिकाएं दायर कर सीबीआई और ईडी से झाऱखंड में खनन घोटाले की जांच कराने की मांग की थी । आरोप लगे कि सीएम हेमंत सोरेन ने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए  स्टोन क्यूएरी माइंस अपने नाम आवंटित करवा ली थी । सोरेन परिवार पर शैल कंपनी में निवेश कर संपत्ति अर्जित कर करने का भी आरोप है ।

इस मामले की जांच करने के बाद अब चुनाव आयोग ने झारखंड के सीएम की विधानसभा सदस्यता को रद्द करने की सिफारिश राज्यपाल को कर दी है ।  


इस बीच भाजपा का आरोप है कि हेमंत सोरेन ने खुद को पत्थर खनन लीज आवंटित किया था । उसने इसे भ्रष्ट आचरण बताया । भाजपा ने ऑफिस ऑफ प्रॉफिट और जन प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 9a का हवाला देते हुए हेमंत सोरेन की सदस्यता समाप्त करने की मांग की थी , राज्य की कैबिनेट में खनन-वन मंत्री का पदभार हेमंत के पास ही है ।  

Todays Beets: