Tuesday, June 25, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

जीतनराम मांझी के ‘बाउंसर’ से बिहार की राजनीति में उथल-पुथल, राजद ने कहा-आॅल इज वेल

अंग्वाल न्यूज डेस्क
जीतनराम मांझी के ‘बाउंसर’ से बिहार की राजनीति में उथल-पुथल, राजद ने कहा-आॅल इज वेल

पटना। आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर महागठबंधन में भी सीटों की दावेदारी को लेकर खींचतान शुरू हो चुकी है। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने बिहार में 20 सीटों पर दावा किया है। उनके दावे ने महागठबंधन की टेंशन बढ़ा दी है। हालांकि महागठबंधन के अन्य दलों ने सबकुछ ठीक बताया है, बड़ी पार्टी कांग्रेस की ओर से कहा जा रहा है कि अपने कार्यकर्ताओं का जोश बढ़ाने के जीतनराम मांझी ने ऐसा बयान दिया गया है।

गौरतलब है कि जीतनराम के द्वारा दिए गए बयान के बाद बिहार में राजनीति तेज हो गई है। इसके बाद से जनता दल युनाइटेड और भाजपा की ओर से भी पलटवार किया गया है। जेडीयू की ओर से मांझी को लेकर कहा गया है कि जो नीतीश कुमार का नहीं हुआ वह भला लालू प्रसाद का क्या होगा।

ये भी पढ़ें - भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में गिरफ्तार किए गए ‘बुद्धिजीवियों’ को अभी 2 और दिनों तक रहेंगे नजर...


गौर करने जीतन राम मांझी की ओर से अगर उनके पास इतने उम्मीदवार हैं तो हम इतनी सीटें देंगे। उन्होंने कहा कि महागठबंधन में कोई मतभेद नहीं है। मांझी महागठबंधन के प्रमुख नेता हैं। ये प्रारंभिक स्तर की चीजें हैं। इसपर महागठबंधन के शीर्ष नेता फैसला करेंगे। 

यहां बता दें कि भाजपा की ओर से भी मांझी पर तंज करते हुए कहा कि लालू की नाव को आखिर में मांझी ही डुबोएंगे। राजद की ओर से भाजपा पर तंज करते हुए कहा गया है कि मांझी के महागठबंधन में आने से उसे काफी दर्द हो रहा है। 

Todays Beets: