Tuesday, June 25, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

किम्भो एप को एक बार फिर से गूगल से हटाया गया, कंपनी ने अंतरराष्ट्रीय षड्यंत्र बताया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
किम्भो एप को एक बार फिर से गूगल से हटाया गया, कंपनी ने अंतरराष्ट्रीय षड्यंत्र बताया

नई दिल्ली। योगगुरु बाबा रामदेव और पतंजलि आयुर्वेद के डिजिटल अभियान को एक झटका लगा है। व्हाट्सऐप को टक्कर देने के लिए तैयार किए गए ‘किम्भो’ ऐप को एक बार फिर से गूगल प्लेस्टोर से हटा दिया गया है। पतंजलि की ओर से इसे एक अंतरराष्ट्रीय कंपनी का षड्यंत्र बताया गया है। बता दें कि किम्भो ऐप को उसके ट्रायल के एक दिन बाद ही उसे हटा लिया गया है।

गौरतलब है कि इससे पहले भी ऐसी ही स्थिति हुई थी जब किम्भो ऐप को गूगल प्लेस्टोर से हटा दिया गया था। पतंजलि के प्रवक्ता तिजारवाला के अनुसार यह स्वदेशी कंपनी के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय कंपनियों का षडयंत्र बताया है। कंपनी ने कहा कि एप जल्द ही वापस आएगा।

ये भी पढ़ें - न्यूजर्सी में भारतीय मूल के सिख की चाकू मारकर हत्या, मामले की जांच में जुटी पुलिस


यहां बता दें कि पतंजलि की ओर से इस असुविधा के लिए खेद जताया गया है। उन्होंने कहा कि यह जल्द वापस आएगा। उन्होंने एप को हटाने का कारण नहीं बताया है। गौरतलब है कि पतंजलि ने बुधवार को किम्भो एप के ट्रायल संस्करण पेश किया था और कहा था कि पतंजलि 27 अगस्त को इसे आधिकारिक रूप से पेश करेगी।

 

Todays Beets: