Monday, August 10, 2020

Breaking News

   राजस्थान में फिर सियासी ड्रामा, BJP के बहाने गहलोत-पायलट में ठनी     ||   कानपुर गोलीकांड की जांच के लिए एसआईटी गठित, 31 जुलाई तक सौंपनी होगी रिपोर्ट     ||   धमकी देकर फरीदाबाद में रिश्तेदार के घर रुका था विकास, अमर दुबे से हुआ था झगड़ा     ||   राजस्थान: विधायकों को राज्य से बाहर जाने से रोकने के लिए सीमा पर बढ़ाई गई चौकसी     ||   हार्दिक पटेल गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त     ||   गुवाहाटी केंद्रीय जेल में बंद आरटीआई कार्यकर्ता अखिल गोगोई समेत 33 कैदी कोरोना पॉजिटिव     ||   अमिताभ बच्चन कोरोना पॉजिटिव, नानावती अस्पताल में कराए गए भर्ती     ||   राजस्थान सरकार का प्राइवेट स्कूलों को आदेश- स्कूल खुलने तक फीस न लें     ||   गुजरात सरकार में मंत्री रमन पाटकर कोरोना वायरस से संक्रमित     ||   विकास दुबे पर पुलिस की नाकामी से भड़के योगी, खुद रख रहे ऑपरेशन पर नजर!     ||

नए साल से बदलने जा रहा है ड्राइविंग नियम , RC - DL और पॉल्यूशन सर्टिफिकेट होंगे मोबाइल नंबर से लिंक

अंग्वाल न्यूज डेस्क
नए साल से बदलने जा रहा है ड्राइविंग नियम , RC - DL और पॉल्यूशन सर्टिफिकेट होंगे मोबाइल नंबर से लिंक

नई दिल्ली । केंद्र की मोदी सरकार की ओर से हाल में वाहन चालकों से जुड़ी एक अधिसूचना जारी की गई है , जिसे लेकर लोगों से राय मांगी जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार , 1 अप्रैल 2020 से मोदी सरकार वाहनों के सभी दस्तावेजों ( रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट , RC) ड्राइविंग लाइसेंस (DL) , पॉल्यूशन सर्टिफिकेट समेत अन्य को मोबाइल नंबर से लिंक कराना जरूरी होने जा रहा है । इस मामले में केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने जारी की अपनी अधिसूचना में नियम को लेकर लोगों की राय मांगी  है । 

विदित हो कि केंद्र की मोदी सरकार वाहन दस्तावेजों के साथ मोबाइल नंबर लिंक करने की पहल करने जा रही है । ऐसा होने से गाड़ी की चोरी, खरीद-फरोख्त पर अंकुश लगाने की संभावना जताई जा रही है । वाहन के दस्तावेजों से मालिक के मोबाइल नंबर के लिंक होने से गाड़ी चोरी होने की जानकारी जुटाने में मदद मिलेगी । अगर जरूरत पड़ी तो पुलिस, आरटीओ या कोई अन्य एजेंसी आसानी से वाहन चालक या उसके मालिक से संपर्क कर सकेगी। 


इतना ही नहीं वाहन डाटा बेस में मोबाइल नंबर दर्ज होने से GPS के अलावा मोबाइल नंबर की मदद से किसी भी व्यक्ति की लोकेशन का पता किया जा सकता है । इतना ही नहीं केंद्र सरकार और अन्य सरकारी संस्थाओं के पास सभी वाहनों और ड्राइविंग लाइसेंस का पूरा डाटा, मोबाइल नंबर सहित उपलब्ध होगा ।

 

Todays Beets: