Friday, August 19, 2022

Breaking News

   टेस्ला के मालिक एलन मस्क को कोर्ट में घसीटने की तैयारी, ट्विटर संग होगी कानूनी जंग    ||   गोवा में कांग्रेस पर सियासी संकट! सोनिया ने खुद संभाला मोर्चा    ||   जयललिता की पार्टी में वर्चस्व की जंग हारे पनीरसेल्वम, हंगामे के बीच पलानीस्वामी बने अंतरिम महासचिव     ||   देशभर में मानसून एक्टिव हो गया है और ज्यादातर राज्यों में जोरदार बारिश हो रही है. भारी बारिश ने देश के बड़े हिस्से में तबाही मचाई है    ||   अगले साल अंतरिक्ष जाएंगे भारतीय , एक या दो भारतीयों को भेजने की योजना है     ||   कोरोना से 24 घंटे में 16678 लोग हुए संक्रमित     ||   उद्धव ठाकरे ने विधायकों को लिखी भावुक चिट्ठी     ||   सुप्रीम कोर्ट मे विजय माल्या का बड़ा झटका, अवमानना मामले में दोषी करार     ||   सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र में विधायकों की अयोग्यता पर फैसला लेने से स्पीकर को रोका     ||   मुठभेड़ में एक आतंकी मारा गया, कुलगाम में बैंक मैनेजर की हत्या में शामिल था: IGP कश्मीर     ||

Commonwealth Games - सिल्वर पदक विजेता संकेत महादेव बोले - मेरा पदक देश के लिए सर्वोच्चल बलिदान देने वाले शहीदों को समर्पित 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
Commonwealth Games - सिल्वर पदक विजेता संकेत महादेव बोले - मेरा पदक देश के लिए सर्वोच्चल बलिदान देने वाले शहीदों को समर्पित 

खेल डेस्क । ब्रिटेन के बर्मिघम में खेले जा रहे कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 खेलों के दूसरे दिन भारत का खाता खुल गया है । भारोत्तोलन की 55 किलोग्राम भारवर्ग में भारत के संकेत महादेव ने अपने देश के लिए सिल्वर मेडल जीता है । हालांकि गोल्ड मेडल की दौड़ में सबसे आगे चल रहे संकेत प्रतियोगिता के दौरान बीच में चोटिल हो गए , जिसके चलते अंतिम समय में उनका प्रदर्शन खराब हुआ और वह महज 1 किलोग्राम भार के अंतर से गोल्ड पदक जीतने से चूक गए । हालांकि उन्होंने अपने इस पदक को देश की आजादी के 75वें साल यानी अमृत महोत्सव के नाम करते हुए देश की आजादी के लिए सर्वोच्च बलिदान देने वालों को  अपना पदक समर्पित किया । 

अंतिम समय में चोटिल होने होने के चलते गोल्ड मेडल से चूके संकेत ने अपने सिल्वर पदक को लेकर कहा कि यह मेडल मैं अपने देश की आजादी के अमृत महोत्सव को समर्पित करना चाहूंगा । मेरे देश की आजादी के लिए जिन लोगों ने अपने प्राणों का सर्वोच्च बलिदान दिया , मेरा यह मेडल उनको समर्पित है । 


संकेत ने कहा कि वह गोल्ड के लिए आगे बढ़त बना चुके थे , लेकिन प्रतियोगिता के दौरान एकाएक वह चोटिल हो गए , जिसके चलते वह देश को गोल्ड मेडल देने से चूक गए । उन्होंने कहा कि मैं अपने इस प्रदर्शन से खुश हूं और देश के लिए अपने प्रदर्शन को और बेहतर करने की कोशिश करता रहूंगा । 

संकेत ने कहा कि इतने बड़े इवेंट में देश का प्रतिनिधित्व करना अपने आप में ही बड़ी बात है । मैं अपनी जीत का श्रेय अपने गुरुओं और अपनी फेडरेशन को दूंगा , जिनकी मेहतन और भरोसे के चलते आज मैं इस मुकाम तक पहुंच पाया ।  

Todays Beets: