Tuesday, October 4, 2022

Breaking News

   MHA ने NIA के 2 नए विंग को दी मंजूरी, 142 जांच अधिकारी-कर्मचारी बढ़ाए     ||   पाकिस्तान को बाढ़ से निपटने के लिए 10 अरब डॉलर की जरूरत, मंत्री का बयान     ||   सुप्रीम कोर्ट ने 1992 बाबरी मस्जिद विध्वंस से जुड़े सभी मामलो को बंद किया     ||   मनीष के घर-लॉकर से कुछ नहीं मिला, ईमानदार साबित हुए: CM केजरीवाल     ||   दिल्ली: JP नड्डा को बताना चाहता हूं, बच्चा चुराने लगी है BJP- मनीष सिसोदिया     ||   टेस्ला के मालिक एलन मस्क को कोर्ट में घसीटने की तैयारी, ट्विटर संग होगी कानूनी जंग    ||   गोवा में कांग्रेस पर सियासी संकट! सोनिया ने खुद संभाला मोर्चा    ||   जयललिता की पार्टी में वर्चस्व की जंग हारे पनीरसेल्वम, हंगामे के बीच पलानीस्वामी बने अंतरिम महासचिव     ||   देशभर में मानसून एक्टिव हो गया है और ज्यादातर राज्यों में जोरदार बारिश हो रही है. भारी बारिश ने देश के बड़े हिस्से में तबाही मचाई है    ||   अगले साल अंतरिक्ष जाएंगे भारतीय , एक या दो भारतीयों को भेजने की योजना है     ||

FIFA ने ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन को तुरंत प्रभाव से निलंबित किया , नियमों के उल्लंघन का लगाया आरोप

अंग्वाल न्यूज डेस्क
FIFA ने ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन को तुरंत प्रभाव से निलंबित किया , नियमों के उल्लंघन का लगाया आरोप

नई दिल्ली । इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ एसोसिएशन फुटबॉल (फीफा /FIFA) ने ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन को तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया है । फीफा के इस फैसले से भारतीय फुटबॉल प्रेमियों को करारा झटका लगा है । फीफा ने अपने इस फैसले के पीछे के कारणों को लेकर बताया कि  ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन को नियमों के उल्लंघन की वजह से निलंबित किया गया है । फीफा ने थर्ड पार्टी के दखल की वजह से यह निर्णय लिया है । इस सबके बीच एक अहम बात यह है कि आज यानी 16 अगस्त से ही कोलकाता में डूरंड कप की शुरुआत हो रही है । इसमें बैंगलोर एफसी की टीम जमशेदपुर एफसी से भिड़ने वाली है ।  

पहले भी दी थी चेतावनी

बता दें कि फीफा ने  ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (एआईएफएफ ) को अगस्त महीने की शुरुआत में ही थर्ड पार्टी के हस्तक्षेप को लेकर निलंबन की चेतावनी दी थी । अब उसने बयान में बताया कि सभी की सहमति के बाद निलंबन का फैसला ले लिया गया है । फीफा ने कहा, ''फीफा परिषद के ब्यूरो ने सर्वसम्मति से अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) को तीसरे पक्ष के अनुचित प्रभाव के कारण तत्काल प्रभाव से निलंबित करने का निर्णय लिया है, जो फीफा के नियमों का गंभीर उल्लंघन है । 

निलंबन हटाने के लिए करना होगा कुछ ऐसा...


फीफा ने इस निलंबन को हटाने की एवज में बयान देते हुए कहा कि 'एआईएफएफ कार्यकारी समिति की शक्तियों को ग्रहण करने के लिए प्रशासकों की एक समिति गठित करने के आदेश के निरस्त होने और एआईएफएफ प्रशासन एआईएफएफ के दैनिक मामलों पर पूर्ण नियंत्रण हासिल करने के बाद निलंबन हटा लिया जाएगा । 

सुनील छेत्री का आया था बयान

इस पूरे प्रकरण पर भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री का बयान सामने आया है । उन्होंने अपने साथी खिलाड़ियों से फीफा की चेतावनी को गंभीरता से नहीं लेने की बात कही थी । मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक छेत्री ने खिलाड़ियों से सिर्फ अपने खेल पर ध्यान देने की बात कही थी ।

Todays Beets: