Friday, March 5, 2021

Breaking News

   सरकार की सत्याग्रही किसानों को इधर-उधर की बातों में उलझाने की कोशिश बेकार है-राहुल गांधी     ||   थाइलैंड में साइना नेहवाल कोरोना पॉजिटिव, बैडमिंटन चैम्पियनशिप में हिस्सा लेने गई हैं विदेश     ||   एयर एशिया के विमान से पुणे से दिल्ली पहुंची कोरोना वैक्सीन की पहली खेप     ||   फिटनेस समस्या की वजह से भारत-ऑस्ट्रेलिया चौथे टेस्ट से गेंदबाज जसप्रीत बुमराह बाहर     ||   दिल्ली: हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की पार्टी विधायकों के साथ बैठक, किसान आंदोलन पर चर्चा     ||   हम अपने पसंद के समय, स्थान और लक्ष्य पर प्रतिक्रिया देने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं- आर्मी चीफ     ||   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||

धोनी ने मारा ऐसा गगनभेदी छक्का , गेंद स्टेडियम पार सड़क पर गिरी , प्रशंसक बोले- काश थोड़ा पहले चलाते बल्ला 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
धोनी ने मारा ऐसा गगनभेदी छक्का , गेंद स्टेडियम पार सड़क पर गिरी , प्रशंसक बोले- काश थोड़ा पहले चलाते बल्ला 

नई दिल्ली । आईपीएल 13 का चौथा मुकाबला मंगलवार शाम चेन्नई सुपरकिंग्स बनाम राजस्थान रॉयल्स के बीच खेला गया । यह मैच भले ही चेन्नई 16 रनों से हार गया लेकिन इस मैच के अंतिम ओवर में चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने लगातार तीन ऐसे छक्के लगाए कि पुराने माही की याद ताजा हो गई । इन छक्कों में से एक छक्का तो माही ने ऐसा मारा , जिसमें गेंद स्टेडियम पार करके बाहर सड़क पर जाकर गिरी । बाद में उस गेंद को एक राहगीर लेकर चलता बना । इस मैच में मानों छक्कों की बरसात हुई थी, दोनों ओर से इस मैच में 33 छक्के लगे । 

7वें नंबर पर आए धोनी खेलने

राजस्थान रॉयल्स के 217 रनों का पीछा करने उतरी चेन्नई मात्र 200 रन ही बना सकी । धोनी खुद 7वें नंबर पर खेलने उतरे , जबकि उन्होंने अपने से ऊपर टीम के युवा बल्लेबाजों को भेजा । एक समय जब टीम की हालत नाजुक हो गई तो धोनी क्रीज पर आए । जिस समय धोनी मैदान पर उतरे उस समय 38 गेंदों पर 103 रनों की जरूरत थी। लेकिन धोनी शुरुआती 13 गेंदों में धीमा खेले और उन्होंने तब तक उन्होंने 11 रन ही बनाए थे । उनकी धीमी बल्लेबाजी के चलते प्रशंसक नाराज भी हुए, जबकि उनके साथी खिलाड़ी डुप्लेसी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर रहे थे । 

अंतिम ओवर में गगनभेदी तीन छक्के

राजस्थान की ओर से मैच का अंतिम ओवर करने टॉम कुरेन उतरे । इस ओवर में धोनी ने तीसरी - चौथी और पांचवी गेंदों पर लगातार तीन गगनभेदी छक्के जड़े । इनमें से एक छक्का तो इतन लंबा था कि गेंद स्टेडिम पार करके बाहर सड़क से भी आगे जाकर गिरी । इस गेंद को एक स्थानीय व्यक्ति अपने साथ ले जाता भी दिखाई दिया , हालांकि आखिरी ओवरों में धोनी ने जो हाथ खोले उससे वह अपनी टीम को जीता नहीं पाए और उनकी टीम 17 रनों से हार गई । 


प्रशंसक बोले - पहले बल्ला चलाते तो जीत पक्की थी

धोनी की बल्लेबाजी देखने के बाद उनके प्रशंसक बोले कि अगर धोनी शुरूआत से ही अपनी बल्लेबाजी को आक्रामक रखते तो तय था कि जीत चेन्नई की होती । धोनी सिंगल रन लेकर स्ट्राइक डुप्लेसी को देते रहे , जिससे उनपर रन बनाने का दबाव बढ़ता गया । अगर धोनी शुरुआत से ही बल्ला चलाकर खेलते तो उनकी जीत पक्की थी । 

IPL के एक मैच में सर्वाधिक छक्के

मंगलवार को हुए मुकाबला कुछ बातों के लिए ऐतिहासिक बन गया है । असल में आईपीएल के अब तक के सीजन में एक मैच में 33 छक्कों का रिकॉर्ड था , जिसकी इस मैच में बराबरी हुई । दोनों ओर के बल्लेबाजों ने तूफानी बल्लेबाजी करते हुए 33 छक्के लगाए ।

33 RR बनाम CSK (शारजाह 2020)

33 RCB बनाम CSK (बेंगलुरु 2018)

31 CSK बनाम KKR (चेन्नई 2018)

31 KIXP बनाम KKR (इंदौर 2018)

31 DD बनाम GL (दिल्ली 2017)

Todays Beets: